क्यों होते हैं आँखों के नीचे काले घेरे जानिए कैसे पाएं छुटकारा

1033

आंखों के नीचे काले घेरे होना आम बात है। यह समस्या पुरुषों के साथ-साथ महिलाओं में भी देखी जाती है। इसका मूल कारण अत्यधिक जागृति है।

जिन लोगों नींद पूरी नहीं होती, जो तनावग्रस्त होते हैं वे इन समस्याओं से अधिक पीड़ित होते हैं। यह समस्या आपकी स्मार्टनेस को कम कर देती है।

आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि क्यों होते है ये काले घेरे और कैसे हम इनसे छुटकारा पा सकते हैं तो आइए जानते हैं :-

- Advertisement -

आँखों के नीचे काले घेरे के कारण: –

  • एनीमिया – आँखों के नीचे काले घेरे का यह भी एक मुख्य कारण है। आयरन की कमी वाले व्यक्ति में लाल रक्त कोशिकाएं आकार में छोटी होती हैं और इसलिए रक्त वाहिकाओं के माध्यम से अधिक आसानी से रिसाव करती हैं। इस प्रकार आंखों के नीचे की त्वचा में खिंचाव पैदा होता है जो धीरे-धीरे काले घेरे के रूप ले लेता है।
  • विटामिन की कमी – आहार में विटामिन की कमी भी काले घेरे का एक प्रमुख कारण है। ये विशेष रूप से एक कुपोषित व्यक्ति की आँखों के नीचे दिखाई देते हैं। यदि ऐसे व्यक्तियों को उनके आहार में विटामिन ए, सी, ई और के की पर्याप्त मात्रा दी जाती है तो इन काले घेरों को समाप्त किया जा सकता है।
  • पर्याप्त पानी न पीना – यह लक्षण उन लोगों में भी सबसे अधिक दिखाई देते हैं जो पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं पीते हैं।
  • पर्याप्त नींद न लेना और थका हुआ होना – दिन-रात के काम, जागने या अपर्याप्त नींद के कारण शरीर अत्यधिक थक जाता है। इसका आंखों के नीचे की त्वचा पर सीधा प्रभाव पड़ता है। इससे आँखों में खुजली हो सकती है और जब आँखों में खुजली होती है तो हम इन्हें रगड़ते हैं। आँखों को इस तरह रगड़ने से आंखों के नीचे की रक्त वाहिकाएं फट जाती हैं और रंग गहरा हो जाता है।
  • हार्मोनल प्रभाव – शरीर में हार्मोन के प्रभाव के कारण आँखों के नीचे की त्वचा काली पड़ जाती है। यह प्रभाव गर्भावस्था के दौरान महसूस किया जाता है, खासकर महिलाओं में मासिक धर्म के दौरान।
  • आनुवंशिकता – यदि किसी परिवार में इस तरह के काले घेरे पीढ़ी-दर-पीढ़ी दिखाई देते हैं, तो ये कम उम्र से भी दिखाई दे सकते हैं।

कैसे पाएं छुटकारा

  • जब आंखों के नीचे काले घेरे दिखाई देते हैं, तो अक्सर अलग अलग सौंदर्य प्रोडक्ट्स का उपयोग करके इन घेरों को छिपाने का प्रयास किया जाता है। जैसे “कंसीलर” लेकिन यह एक अस्थायी और सतही उपचार था।
  • संतुलित आहार को पहली प्राथमिकता दी जानी चाहिए। कैल्शियम, प्रोटीन और आयरन से भरपूर आहार लें साथ ही उच्च फाइबर खाद्य पदार्थ और पत्तेदार सब्जियां खाएं। दूध और घी का सेवन रोज करना चाहिए और फल खाने चाहिए।
  • तैलीय, मसालेदार भोजन का सेवन अधिक मात्रा में नहीं करना चाहिए। हर आठ से दस गिलास पानी पिएं ताकि शरीर शुष्क न हो।
  • यदि आहार के साथ-साथ योग किया जाए मुख्य रूप से प्राणायाम, भ्रामरी और ध्यान का अभ्यास किया जाए, तो इन काले घेरों से छुटकारा पाया जा सकता है।
  • आंखों के नीचे काले घेरे से छुटकारा पाने में खीरा भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इससे आंखों को भी आराम मिलता है। खीरे का पेस्ट एक अच्छा क्लीन्ज़र है। यह आंखों के नीचे काले घेरे कम करने में मदद करता है। एक खीरे को छीलें, इसे पीस लें और इसे दिन में दो से तीन बार 10 मिनट के लिए लगाएं।
  • यदि आप पर्याप्त नींद नहीं ले पाते हैं तो इससे आंखों के नीचे काले घेरे हो सकते हैं। इससे बचाव के लिए पर्याप्त नींद लें। आराम बहुत जरूरी है। यह आंखों पर खिंचाव को कम करेगा और उन्हें काले होने से बचाएगा।
  • टमाटर के कई गुण आपकी त्वचा पर काले धब्बों को कम करने में मदद करते हैं। इसका मिश्रण बनाने के लिए एक चम्मच टमाटर का पेस्ट और नींबू का रस (कुछ बूंदें) मिलाएं। इस मिश्रण को अपनी आंखों के नीचे लगाएं। दो मिनट तक रखें। फिर ठंडे पानी से धो लें।
  • बादाम के तेल में कई गुण होते हैं। यह आंखों के आसपास की त्वचा को फायदा पहुंचाता है। बादाम के तेल का नियमित उपयोग त्वचा की टोन को उज्ज्वल करने में मदद करता है। रात में आंखों के नीचे बादाम का तेल लगाएं। धीरे से मालिश करें। सुबह उठने के बाद अपना चेहरा धो लें।

कुछ अन्य उपयोग: –

  • गुलाब जल – गुलाब जल में कपास की कलियों को डुबोएं और इसे सोते समय दोनों पलकों पर रखें।
  • जायफल – जायफल विटामिन ई और सी से भरपूर होता है। जायफल को पानी में भिगोकर रात को सोते समय काले घेरे पर लगाएं और सुबह अपने चेहरे को ठंडे पानी से धो लें।
  • बादाम – दूध में बादाम भिगोएँ और खीरे के स्लाइस के साथ आँखों को कवर करें और पंद्रह मिनट बाद ठंडे पानी से धो लें।
  • एलोवेरा, ककड़ी, आलू, शहद, नींबू, नारियल तेल, केस्टर ऑयल, केसर का तेल, दूध, हल्दी, केसर, टमाटर, ग्रीन टी का उपयोग लेप के लिए किया जा सकता है। डॉक्टर की सलाह पर, अन्य दवाओं के साथ अपनी त्वचा के अनुसार लोशन लगाएं।

यह भी पढ़ें :-