Thursday, July 25, 2024
30.5 C
Chandigarh

महाशिवरात्रि – जानें इस वर्ष राशियों पर कैसा होगा असर

महाशिवरात्रि हिन्दुओं और भगवान शिव का एक प्रमुख त्यौहार है। इस वर्ष महाशिवरात्रि पर्व 11 मार्च 2021 को गुरुवार के दिन है। फाल्गुन कृष्ण चतुर्दशी को महाशिवरात्रि पर्व मनाया जाता है। माना जाता है कि सृष्टि का प्रारंभ इसी दिन से हुआ।

पौराणिक कथाओं के अनुसार इस दिन सृष्टि का आरम्भ अग्निलिंग (जो महादेव का विशालकाय स्वरूप है) के उदय से हुआ। इसी दिन भगवान शिव का विवाह देवी पार्वती के साथ हुआ था।

साल में होने वाली 12 शिवरात्रियों में से इस महाशिवरात्रि को सबसे महत्वपूर्ण माना जाता है। भारत सहित पूरी दुनिया में महाशिवरात्रि का पावन पर्व बहुत ही उत्साह के साथ मनाया जाता है|

ज्योतिषीय गणना के अनुसार, इस बार महाशिवरात्रि पर शिव योग के साथ घनिष्ठा नक्षत्र होगा और चंद्रमा मकर राशि में विराजमान रहेंगे।

तो आइये जानते हैं इस वर्ष किस राशि पर रहेगी महादेव की अपार कृपा :-

जानें राशियों पर कैसा होगा असर

मेष राशि:- आपके आर्थिक पक्ष में मजबूती आएगी। परिवार के वरिष्ठ सदस्य, बड़े भाइयों से मतभेद न पैदा होने दें। विद्यार्थियों अथवा प्रतियोगिता में बैठने वाले छात्रों के लिए ग्रह गोचर और अनुकूल रहेगा।

वृष राशि:- शैल पर्वत पर स्थित मल्लिकार्जुन वृष राशि के स्वामी हैं। इस राशि के व्यक्तियों को मल्लिकार्जुन का दर्शन करना चाहिए लेकिन जो लोग मल्लिकार्जुन का दर्शन करने नहीं जा सकते उनके लिए शिव की कृपा पाने का सबसे आसान तरीका है महाशिवरात्रि के दिन किसी भी शिवलिंग की पूजा गंगाजल से करें। शिवलिंग पर आक का फूल और पत्ता चढ़ाएं।

मिथुन राशि:- मिथुन राशि के स्वामी बुध माने जाते हैं। मिथुन जातक भगवान शिव को धतूरा, भांग अर्पित कर सकते हैं, साथ ही इस राशि के जातक गन्ने के रस से शिवजी का अभिषेक करें और ॐ भुतेश्वराय नमः मंत्र का जाप करें।

कर्क राशि:- अपनी सेहत को लेकर सावधान रहें। मौसम परिवर्तन से जुड़ी बीमारियां हो सकती हैं। जमीन से जुड़े मामलों में दिक्कतें आ सकती हैं। आर्थिक तंगी से बचें।

सिंह राशि:- सिंह राशि के स्वामी सूर्य हैं। भगवान शिव की आराधना में सिंह जातकों को कनेर के लाल रंग के पुष्प चढ़ाने चाहिए। इसके साथ ही शिवालय में भगवान श्री शिव चालीसा का पाठ भी करना चाहिए। यह पूजन आपके लिए अति लाभकारी सिद्ध हो सकती है।

कन्या राशि:- बुध का यह गोचर आपके लिए लाभकारी हो सकता है। इस अवधि में आपको स्वास्थ्य लाभ मिलेगा। पुरानी बीमारियां ठीक होने लगेंगे। आसपास के शत्रुओं से सतर्क रहें। सोच-समझकर काम करेंगे तो अच्छा रहेगा।

तुला राशि:- इस राशि के स्वामी शुक्र माने जाते हैं इसलिए दही से शिवजी का अभिषेक करें और शांति से शिवाष्टक का पाठ करें।

वृश्चिक राशि:- इस राशि के लोग दूध और घी से शिवजी का अभिषेक करें। वृश्चिक राशि के स्वामी मंगल हैं। भोले भंडारी की पूजा आपको गुलाब के फूलों व बिल्वपत्र की जड़ से करनी चाहिए। इस दिन रूद्राष्टक का पाठ करने से आपकी राशि के अनुसार सौभाग्यशाली परिणाम मिलने लगते हैं और ॐ अन्गारेश्वराय नमः मंत्र का जाप करें।

धनु राशि:- आपके पराक्रम में वृद्धि होगी। मित्र और भाई-बहन आपकी मदद करेंगे। जो निर्णय लेंगे उसी में पूर्णरूप से सफल रहेंगे। धर्म-कर्म के मामलों में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेंगे और दान पुण्य भी करेंगे।

मकर राशि:- आपकी आर्थिक तरक्की होगी। अपनी वाणी कुशलता एवं सौम्य स्वभाव के बल पर विषम परिस्थितियों पर भी विजय प्राप्त कर लेंगे। परिवार में सुख-शांति बनी रह सकती है।

कुंभ राशि:- कुंभ राशि के स्वामी भी शनि हैं। कुंभ जातकों को गन्ने के रस से शिवलिंग का अभिषेक करना चाहिए, साथ ही धन लाभ पाने के लिये शिवाष्टक का पाठ आपको करना चाहिए। जल्द ही अच्छे परिणाम मिल सकते हैं। इस राशि के लोग दूध, दही, शक्कर, घी, शहद सभी से शिवजी का अभिषेक करें और ॐ शिवाय नमः मंत्र का जाप करें।

मीन राशि:- मीन राशि के स्वामी बृहस्पति हैं। मीन जातकों को पंचामृत, दही, दूध एवं पीले रंग के फूल शिवलिंग पर अर्पित करने चाहिए। घर में सुख समृद्धि व धनधान्य में वृद्धि के लिए पंचाक्षरी मंत्र नम: शिवाय का चंदन की माला से 108 बार जाप करें।

यह भी पढ़ें :-

Related Articles

15,988FansLike
0FollowersFollow
110FollowersFollow
- Advertisement -

MOST POPULAR