डायनासोर से जुड़े कुछ रोचक तथ्य

700

डायनासोर का नाम सुनते ही हमारे दिमाग में बहुत बड़े- बड़े जानवरों की छवियां आने लगती हैं। आज से करोड़ों साल पहले धरती पर सबसे बड़े जीव यानि डायनासोर का अस्तित्व था, लेकिन आज के युग में डायनासोर के केवल अवशेष ही पाये जाते हैं। डायनासोर एक बहुत बड़े आकार का जीव था। आइये जानतें हैं डायनासोर से जुड़े कुछ रोचक तथ्यों के बारे में :-

  • डायनासोर पृथ्वी पर करीब 150 करोड़ वर्ष पहले रहते थे, यह समय धरती के अस्तित्व का मध्य काल था।
  • डायनासोर शब्द का इस्तेमाल सबसे पहले ब्रिटिश पलांटोलॉजिस्ट रिचर्ड ओवेन ने सन 1842 में किया इसका मतलब होता है “भयानक छिपकली” l
  • वैज्ञानिकों का मानना है कि कुछ डायनासोर शाकाहारी और कुछ मांसाहारी हुआ करते थे। इसके अलावा कुछ डायनासोर दो पैरों से चलने वाले तो कुछ चार पैरों पर चलने वाले हुआ करते थे। ऐसा माना जाता था कि डायनासोर अपनी आवश्यकता के अनुसार दो और चार पैरों के रूप में अपने शरीर को बदल लेते थे।
  • वैसे तो अधिकतर डायनासोर बहुत विशालकाय शरीर वाले होते थे लेकिन कुछ डायनासोर की प्रजातियों का आकार इंसान के बराबर भी हुआ करता था।
  • जो डायनासोर छोटे आकार के होते थे उनका कद 4 से 5 फिट का होता था परन्तु विशालकाय डायनासोर का कद करीब 50 से 60 फीट भी होता था।
  • माना जाता है कि उस समय डायनासोर की लगभग 2468 प्रजातियां थी जिनमें से कुछ प्रजातियां उड़ भी सकती थी l
  • शाकाहारी डायनासोर 1 दिन में 1 टन पत्तियां खा जाते थे।
  • डायनासोर करीब 20 मील प्रति घंटे की तेज रफ्तार से दौड सकते थे।
  • जिस प्रकार पक्षी अपने अंडों के लिए घोंसला बनाते हैं वैसे ही डायनासोर भी अपने अंडे देने के लिए घोंसले बनाया करते थे। डायनासोर के अंडे टेनिस बॉल और फुटबॉल जितने बड़े हुआ करते थे।
  • डायनासोर की लगभग सभी प्रजातियां अंडे दिया करती थी, परन्तु वैज्ञानिक अभी तक करीब 40 तरह की प्रजातियों के  अंडों की खोज करने में सफल रहे है।
  • डायनासोर के मुंह में 50 दांत होते थे जिससे वह किसी भी अन्य जीव की हड्डियां आसानी से तोड़ सकते थे।
  • क्या आप जानते है डायनासोर की पूँछ करीब 45 फ़ीट लम्बी हुआ करती थी।
  • डायनासोर का शरीर बहुत विशालकाय हुआ करता था, लेकिन एक वयस्क डायनासोर के दिमाग का आकार इंसान के बच्चे के दिमाग से भी छोटा होता था।
  • जिस प्रकार सांप और छिपकली अपनी स्किन छोड़ते हैं वैसे ही डायनासोर भी समयानुसार अपनी स्किन छोड़ते थे।
  • डायनासोर के सर की खोपड़ी की हड्डियों में बड़े बड़े छेद होते थे जो कि उनके सर को हल्का बनाये रखने में उनकी मदद करते थे। डायनासोर के सर का आकार एक कार के आकार जितना होता था l
  • ऐसा माना जाता है कि डायनासोर का जीवन काल करीब 200 साल का हुआ करता था।
  • क्या आप जानते है की 65 करोड़ साल पहले मेक्सिको के पास एक बड़ा उल्कापिंड पृथ्वी से टकराया था जिससे 112 मील  चौड़ा गड्डा बन गया था। इसके बाद धीरे धीरे डायनासोर विलुप्त होने लगे।