हाई ब्लड प्रेशर वालों के लिए अमृत के समान हैं ये 10 चीजें!

41

एक स्वस्थ आहार आपके हाई ब्लड प्रेशर को प्रबंधित करने में एक लंबा रास्ता तय करता है। जिन लोगों का बीपी हमेशा हाई रहता है उन्हें अपने आहार में किसी न किसी तरह के खाद्य पदार्थों को शामिल करना चाहिए। बता दें कि हाई ब्लड प्रेशर एक ऐसी स्थिति है, जहां धमनी की दीवारों पर ब्लड प्रेशर सामान्य से ज्यादा हो जाता है।

भारत में हर साल लाखों मामले सामने आते हैं। जब रक्तचाप 140/90 से ऊपर होता है, तो इसे उच्च रक्तचाप माना जाता है और जब यह 180/90 से अधिक हो जाता है, तो इसे गंभीर माना जाता है।

उच्च रक्तचाप के आमतौर पर कोई लक्षण नहीं होते हैं, लेकिन यह हृदय रोग और स्ट्रोक जैसी घातक स्थितियों के जोखिम को बढ़ा सकता है।

आहार विशेषज्ञ सुझाव देते हैं कि जीवनशैली और अपने आहार में बदलाव करके उच्च रक्तचाप की स्थिति को नियंत्रित किया जा सकता है।

खट्टे फल

हाई बीपी से पीड़ित लोगों को खट्टे फल खाने चाहिए। अंगूर, संतरा, नींबू सहित खट्टे फलों में रक्तचाप को कम करने की क्षमता होती है।

चूंकि ये सभी फल विटामिन और खनिजों से भरपूर होते हैं, इसलिए ये उच्च रक्तचाप जैसे हृदय रोग के जोखिम कारकों को कम करके हृदय को स्वस्थ रखने में मदद कर सकते हैं। बीपी को कंट्रोल करने के लिए इन फलों को पूरा खाएं, सलाद में शामिल करें या इनका जूस पिएं।

अजवाइन के पत्ते

न्यूट्रिशनिस्ट बनर्जी के मुताबिक अजमोद भी काफी लोकप्रिय सब्जी है, जो ब्लड प्रेशर को कम करने का काम करती है।

चिया और अलसी के बीज

चिया और अलसी के बीज कहने में तो बहुत छोटे हैं, लेकिन ये बीज पोषक तत्वों की खान हैं। इसमें पोटेशियम, मैग्नीशियम और फाइबर होते हैं, जो स्वस्थ रक्तचाप को नियंत्रित करने के लिए आवश्यक हैं।

इन सबके अलावा पत्तेदार सब्जियां खाने और रोजाना व्यायाम करने से भी उच्च रक्तचाप के लक्षणों में काफी सुधार हो सकता है। उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करने के लिए जंक फूड से बचें और अपने आहार में फलों और सब्जियों को शामिल करें।

ब्रोकोली

ब्रोकली फ्लेवोनोइड्स और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होती है, जो शरीर में ब्लड वेसल्स फंक्शन और नाइट्रिक ऑक्साइड के स्तर को बढ़ाकर ब्लड प्रेशर को कम करने का काम करती है।

गाजर

गाजर में क्लोरोजेनिक, पी कौमारिक और कैफिक एसिड जैसे फेनोलिक घटकों की अधिकता होती है। जो रक्त वाहिकाओं को आराम देता है और सूजन को भी कम करता है, जिससे रक्तचाप के स्तर को कम करने में मदद मिलती है।

पिस्ता

पिस्ता एक ऐसा ड्राई फ्रूट है, जो हाई बीपी वालों के लिए वरदान है। यह आपके दिल के लिए जरूरी पोषक तत्वों से भरपूर है। हाई ब्लड प्रेशर की समस्या से पीड़ित लोगों को अपने आहार में किसी भी रूप में पिस्ता को शामिल करना चाहिए।

कद्दू के बीज

कद्दू के बीजों को पोषक तत्वों का पावरहाउस कहा जाता है, जो गलत नहीं होगा। जिन लोगों को अक्सर हाई बीपी होता है, उन्हें कद्दू के बीज का सेवन जरूर करना चाहिए, यह ब्लड प्रेशर को कम करने में काफी मदद करेगा।

बीन्स और दाल

बीन्स और दाल प्रोटीन और फाइबर के बेहतरीन स्रोत हैं। इनमें पोषक तत्व बहुत अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं। विशेषज्ञों का कहना है कि हाई बीपी के मरीजों को बीन्स और दाल का सेवन करना चाहिए। इससे बहुत ही कम समय में रक्तचाप को नियंत्रित किया जा सकता है।

(Salmon) सालमन और वसायुक्त मछली

हाई बीपी के मरीजों के लिए विशेषज्ञ फैटी फिश और सालमन खाने की सलाह देते हैं। आपको बता दें कि फैटी फिश में ओमेगा-3 फैटी एसिड अच्छी मात्रा में पाया जाता है। यह आपके दिल की सेहत के लिए भी बहुत अच्छा है।

टमाटर

टमाटर पोटेशियम और कैरोटीनॉयड वर्णक लाइकोपीन से भरपूर होते हैं। लाइकोपीन आपके दिल के स्वास्थ्य पर बहुत अच्छा प्रभाव डालता है। पोषक तत्वों से भरपूर टमाटर खाने से उच्च रक्तचाप से जुड़े हृदय रोग के जोखिम को कम किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें :-