ये है दुनिया की सबसे छोटी नदी

405

दुनिया की सबसे लंबी नील नदी के बारे में तो आप जानते ही होंगे लेकिन क्या आप दुनिया की सबसे छोटी नदी के बारे में जानते हैं अगर नहीं जानते तो चलिए जानते हैं इस पोस्ट के माध्यम से, कि आखिर कहाँ है ये नदी और कितनी लंबी है

यह अमेरिका के मोंटाना में बहती है। इस नदी का नाम ‘रो’ है। कुछ दूर चलने के बाद यह मिसौरी नदी में मिल जाती है। इस नदी रो लंबाई हैरान करने वाली है। रो नदी की औसत लंबाई 201 फीट है। यह अमेरिका की सबसे बड़ी नदी मिसौरी के साथ कुछ दूरी तक बहती है, फिर इसमें मिल जाती है।

इसे दुनिया की सबसे छोटी नदी का खिताब दिलाने में 1987 में लिंकन स्कूल की शिक्षिका सूसी नर्डलिंगर का योगदान है। सूसी ने अपने छात्रों के साथ गिनीज बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में प्रवेश करने के लिए अभियान चलाया और सफल रही।दुनिया की सबसे छोटी नदी के रूप में गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज रो नदी की गहराई 201 फीट तक है।

इस छोटी सी नदी में चूना-पत्थरों से निकलने वाला पानी नदी का रूप ले लेता है। खास बात यह है कि इस नदी का पानी सर्दियों में गुनगुना रहता है और गर्मियों में ठंडा रहता है।

इससे पहले सबसे छोटी नदी का रिकॉर्ड ओरेगॉन की ‘डी’ नदी के नाम था। इसकी लंबाई 440 फीट थी। रो नदी को सबसे छोटी नदी का दर्जा दिलाने के लिए सूसी में लगातार अभियान चलाया। रो नदी को नदी मानने का कारण इसकी चौड़ाई और गहराई थी। इसी आधार पर इसे नदी घोषित किया गया।

अरवरी

भारत की सबसे छोटी नदी राजस्थान के अलवर जिले में बहने वाली अरवरी नदी भारत की सबसे छोटी नदी मानी जाती है। यह अरावली पहाड़ियों से निकलती है।

नदी 1960 के दशक में सूख गई थी लेकिन लोगों के अथक प्रयास से वर्ष 1995 आते-आते पूरी नदी फिर से जिंदा हो गई। तब से अब तक यह नदी बारहमासी बन चुकी है। यह 45 किलोमीटर लम्बी है जो आगे चल कर सरसा नदी में मिल जाती है।

यह भी पढ़ें :-