अजीबोगरीब चीजें जमा करने का ‘विश्व रिकॉर्ड’!!

1323

उत्तरी जर्मनी के एक संग्रहालय में उड़ने में असमर्थ पेंगुइन पक्षियों को समर्पित एक जोड़े के अजीबोगरीब संग्रह की छोटी-सी झलक देखी जा सकती है। अब वे इससे जुड़ा पांचवां विश्व रिकॉर्ड बनाने वाले हैं।

अजीबोगरीब चीजें जमा करना कई लोगों का शौक होता है। जर्मन युगल बिरगिटबॅरेंड्स और स्टीफन किरचॉफ को भी ऐसा ही एक शौक है।

गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स के अनुसार ‘दुनिया के पेंगुइन संबंधित वस्तुओं के सबसे बड़े संग्रह’ का रिकॉर्ड उनके ही नाम है। पेंगुइन से जुड़ी चीजें जमा करने के लिए उनके नाम चार ‘गिनीज रिकॉर्ड्स’ हैं।

- Advertisement -

उनका पिछला रिकॉर्ड 2011 का है जब उनके पास 11,000 से अधिक वस्तुओं का संग्रह था। अब वे जर्मन इंस्टीच्यूट ऑफ रिकॉर्ड्स से मान्यता पाने की दिशा में काम कर रहे हैं। उनकी सूची में वर्तमान में 26,000 से अधिक पेंगुइन जैसी चीजें दर्ज हो चुकी हैं।

बिरगिट औरस्टीफन जर्मनी के बंदरगाह शहर कक्सहैवन में एक पेंगइन संग्रहालय चलाते हैं जिसमें उनकी लगभग 4,000 वस्तुएं प्रदर्शित हैं। ये चीजें मोम, धातु, लकड़ी से लेकर चीनी मिट्टी सहित विभिन्न सामग्रियों से बनी हैं।

सबसे बड़ी आकृति 1.9 मीटर ऊंची है। पेंगुइन-थीम वाले पैन और तौलियों के साथ ही एक कंकाल और 6 अलग-अलग प्रकार के ‘टैक्सिडेरमी पेंगुइन’ भी प्रदर्शनी का हिस्सा हैं।

उनका घर भी किसी संग्रहालय से अलग नहीं दिखता जहां चारों ओर पेंगुइन से प्रेरित चीजें ही नजर आती हैं। यह समझने के लिए कि उनका घर कितना पेंगुइन-थीम वाला है। विचार करें कि उनके पास पेंगइन डिजाइन वाले विस्तरों के कितने सैट हैं – इनकी संख्या ही 260 है।

इस बीच विरगिट और स्टीफन ने कसम खा ली है कि अगला रिकॉर्ड उनका आखिरी होगा क्योंकि इसके बाद वे और चीजें जमा नहीं करेंगे।

अब उन्होंने पेंगुइन के डिजाइन वाली चीजों की तलाश करना बंद कर दिया है और अन्य संग्रहकर्ताओं से भी चीजें स्वीकार नहीं करते हैं। 2017 में उन्हें एक पेंगुइन प्रेमी से 6,000 से अधिक वस्तुएं मिलीं जो अपने संग्रह को बांट रहा था।

उन चीजों को छांटने तथा रिकॉर्ड तैयार करने में ही लगभग डेढ़ साल का समय लग गया। उन्हें इन चीजों को रखने के लिए स्थान भी किराए पर लेना पड़ा।

18 साल की उम्र में शुरू हुआ पेंगुइन प्रेम

पेंगुइन के प्रति बिरटिग का लगाव 18 साल की उम्र में शुरू हुआ था। इसकी वजह पूछने पर वह कहती हैं, “मुझे ये जानवर अद्भुत लगते हैं।” जब स्टीफन उनकी जिंदगी में आए तो उन्होंने भी उनके शौक को अपना लिया।

2006 में बना पहला रिकॉर्ड

2006 में उनके संग्रह, जिसमें तब 2,520 चीजें थीं, को आधिकारिक तौर पर दुनिया भर में सबसे बड़े पेंगुइन संग्रह के रूप में दर्ज किया गया। उन्होंने पेंगुइन को प्राकृतिक माहौल में देखने के लिए न्यूजीलैंड, दक्षिण अफ्रीका से लेकर अंटार्कटिका तक यात्रा की है।

“पंजाब केसरी” से साभार

यह भी पढ़ें :-