जानिए राजस्थान के सोनार किले की कुछ रहस्यमई बातें

64

आज हम आपको राजस्थान के सोनार किले की कुछ रहस्यमई बातों के बारे में बताने जा रहे हैं। सबसे पहले आपको बता दें कि सोनार किला दुनिया के बड़े किलों में से एक है। यह किला जैसलमेर में स्थित है, जो कि भारत के राजस्थान राज्य में आता है।

सोनार किले का इतिहास

आपको बता दें कि 1156 ईस्वी में भाटी राजपूत शासक रावल जैसल ने इसे जैसलमेर में एक ताज की तरह बनवाया था। इस किले के चारों ओर 99 गढ़ बने हुए हैं, और इसकी ऊंचाई लगभग 30 मीटर है, इसीलिए यह किला दिखने में काफी विशाल लगता है।

आगे पड़ें:- जूनागढ़ किला: तपते रेगिस्तान में सर्दी का माहौल
आगे पड़ें:- पोवेग्लिया आइलैंड एक ऐसी जगह जहां से आज तक कोई वापिस नहीं लौटा

किले में आकर्षण चीजें

इस किले की आकर्षिता का अंदाजा लगाना वैसे तो बहुत मुश्किल है, क्योंकि इस किले को बनाया ही कुछ इस तरह से गया है। इसके प्रथम प्रवेश द्वार पर पत्थर की गई नक्काशी का शानदार नमूना बना हुआ है, जो कि पर्यटकों को अपनी तरफ आकर्षण करता है। दूसरा इस किले में दशहरा चौक भी प्रयटकों के लिए खास दर्शनीय स्थल बना हुआ है। यहां पर आप खूबसूरत दुकानों में जाकर खरीददारी का आनंद भी ले सकते हैं।

किले का राजमहल

आपको पता ही है कि राजमहल के बिना तो किले का कोई काम ही नहीं होता, क्योंकि राजमहल ही राजा महाराजाओं के निवास का मुख्य स्थल होता है। इस किले का तो राजमहल भी इतना खूबसूरत बना हुआ है जो कि पर्यटकों को वहां जाने के लिए बार-बार मजबूर करता है।

म्यूजियम

आपको एक बात और बता दें कि कुछ समय पहले इस महल के एक हिस्से को म्यूजियम के रूप में बना दिया गया है। म्यूजियम में प्रवेश होने के लिए भारतीयों के लिए 50 रुपए और विदेशियों के लिए 300 रुपए का टिकट लगता है।

सात जैन मंदिर

किले के आकर्षणों में सात जैन मंदिर भी शामिल हैं। इन मंदिरों में सबसे भव्य मंदिर जैन धर्म के 22 वें तीर्थंकर पार्श्वनाथ को समर्पित है। पार्श्वनाथ मंदिर के अलावा चंद्रप्रभु मंदिर, रिषभदेव मंदिर, संभवनाथ मंदिर आदि भी किले में बने हुए हैं।

आगे पड़ें:- क्या होगा अगर इस दरवाजे को खोल दिया जाए ?

Comments