इन पत्तों के हैं कई फायदे, जिनके बारे में जानकर आप दंग रह जाएंगे !!

2452

कुछ ऐसे पत्ते होते हैं, जिन्हें पूजापाठ जैसे पवित्र कार्यों में प्रयोग किया जाता है वहीं कुछ पत्ते आपकी सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होते हैं, तो आज हम आपको कुछ ऐसे पत्तों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसके आपकी सेहत को अद्भुत लाभ मिलते हैं। तो चलिए जानते हैं :-

पीपल के पत्ते

पीपल के पत्ते स्वास्थ्य के लिए लाभकारी होते हैं। आयुर्वेद में भी इसके गुणों के बारे में बताया गया है। रात में सोने से पहले पीपल के पत्तों का रस पानी में मिलाकर पीने से पेट साफ होता है और इसके पत्तों को पानी में उबालकर पीने से सर्दी – खांसी में भी आराम मिलता है।

पीलिया होने पर पीपल के पत्तों को सुखाकर पीस लें और इसमें मिश्री मिलाकर दिन में 3 से 4 बार पियें। कुछ दिनों में ही पीलिया से आराम मिलेगा।

मूली के पत्ते

मूली के पत्तों में क्लोरीन, फास्फोरस, सोडियम, आयरन और मैग्नीशियम जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं। इसके पत्तों को सब्ब्जी और साग के रूप में बनाकर खाया जा सकता है। इससे इम्यून सिस्टम मजबूत होता है। इन्हें कच्चा खाने से दांतों और मसूड़ों की बीमारियां दूर होती हैं।

कब्ज और गठिया रोग में भी लाभकारी होता हैं। इसमें सोडियम होता है और यह शरीर में नमक की कमी को पूरा करता है, इसलिए लो ब्लडप्रेशर के मरीजों के लिए भी यह बेहद फायदेमंद है।

नीम के पत्ते

नीम के पत्ते सेहत के लिए काफी फायदेमंद हैं। रोजाना सुबह खाली पेट नीम के पत्तों को खाने से इम्युनिटी स्ट्रॉन्ग होती है। नीम के पत्तों का अर्क दांतों और मसूड़ों के लिए अच्छा होता है। अगर आप कड़वाहट की वजह से नीम की पत्तियां नहीं खाना चाहतें तो इनकी चटनी बनाकर खा सकते हैं।

बेर के पत्ते

बेर के पत्ते कहीं पर भी आसानी से मिल जाते हैं। यह काफी लाभकारी होते हैं। इसमें बहुत सारे काँटे होते हैं और काफी पोषक तत्व भी होते हैं।

यदि किसी का तेज़ी से वजन बढ़ रहा है तो उसे बेर के पत्तों का सेवन करना चाहिए उसके लिए बेर के पत्तों को पानी में भिगोकर सुबह खाली पेट पीना चाहिए। एक महीना ऐसा करने से वजन कम होने लगेगा ।

जामुन के पत्ते

हम में से अधिकतर लोग यह जानते है कि जामुन सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है, और इसकी पत्तियाँ पूरे वर्ष भर उपलब्ध रहती है यह रोगी को फायदा पहुंचाती है।

अगर आपके मसूड़े कमजोर हैं, तो जामुन के पतों की राख का मजंन करने से आपको लाभ मिल सकता है। जामुन के पत्तों का गाय के दूध के साथ सेवन करने से खूनी बवासीर में भी लाभ पहुंचता है।

आम के पत्ते

आम खाना हर किसी को पसंद होता है। इसे खाने से कई फायदे होते हैं। आम के साथ – साथ इसके पत्ते भी काफी लाभदायक होते हैं।

वैसे तो आम के पत्तों का इस्तेमाल पूजा पाठ के लिए किया जाता है लेकिन इसका सेवन करने कई बीमारियों से निजात पाया जा सकता है।

आम के पत्तों में एंटी-बैक्टीरियल होते हैं अगर किसी व्यक्ति को ट्यूमर है तो इसकी पत्तियों का सेवन करके इस समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है। आम की पत्तियों का काढ़ा बनाकर पीने से अस्थमा की समस्या से निजात पाया जा सकता है।

पपीते के पत्ते

वैसे तो गर्मी आते ही लोग पपीता खाना बेहद पसंद करते हैं, लेकिन इसके पत्ते भी बहुत लाभदायक होते हैं। इसके गुण हमें गर्मी से राहत ही नहीं देते हैं, बल्कि हमें कई बीमारियों से दूर भी रखते हैं।

पपीते के पत्तों में पैपिन एंजाइम की भरपूर मात्रा होती है जो हमारे पाचन को मजबूत करने का काम करता है। पपीते के पत्तों का सेवन करने से आप डेंगू के दौरान होने वाले बुखार, सिर दर्द में राहत पा सकते हैं। साथ ही ब्लड प्लेटलेट्स को बढ़ाने में मदद करता है।

अमरूद के पत्ते

विटामिन सी से भरपूर होने के कारण यह एक बहुत अच्छा एंटीऑक्सीडेंट है। अमरूद के पत्तों को अपनी डाइट में शामिल करने से एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा बढ़ जाती है जो फ्री रेडिकल से लड़ने में मदद करते हैं और त्वचा को किसी भी प्रकार के नुकसान से बचा कर रखते हैं।

अमरूद के पत्तों को चबाना सेहतमंद होता है । यह दांतो में सड़न पैदा नहीं होने देता, यह विटामिन सी और फ्लेवोनोइड्स से भरपूर है जो मसूड़ो में खून, दांत दर्द और बुरी सांस के खिलाफ मदद करता है।

इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए इस बात का जानना जरूरी है कि किसी भी खाने की चीज़ को सही मात्रा में खाने से ही उसके फायदे मिलते हैं।

अधिक मात्रा में सेवन करने से फायदे की जगह नुकसान हो सकते हैं इसलिए किसी भी चीज़ को अपनी डाइट में अपने शरीर के अनुसार ही शामिल करें।

यह भी पढ़ें :-