जानिए ‘तेल की मालिश’ के चमत्कारी फायदों के बारे में!!

758

हम बड़ों से ही नहीं विशेषज्ञों से भी सुनते आए हैं कि ‘तेल की मालिश’ के ढेर सारे फायदे हैं। खास कर त्वचा की सेहत को ध्यान में रखते हुए काफी लोग इसका पर्याप्त इस्तेमाल भी करते हैं। तो आप भी क्यों न तेल मालिश के फायदों के बारे में जानें और इसका लाभ उठाएं।

  • त्वचा में आई खुश्की दूर होती है और त्वचा की झुर्रियां दूर होती हैं।
  • मालिश से त्वचा की मृत कोशिकाएं साफ होती हैं और त्वचा को जरूरी पोषक तत्व मिलते हैं जिससे त्वचा चमकदार हो जाती है।
  • मालिश से त्वचा के नीचे जमे विषाक्त पदार्थ बाहर निकल जाते हैं जिससे त्वचा नर्म और मुलायम हो जाती है और इससे त्वचा पर निखार आता है।
  • मालिश करने से त्वचा पर कील-मुंहासे निकलना बंद हो जाते हैं।
  • रक्त प्रवाह बेहतर होता है।
  • शरीर की नस-नाड़ियों को ताकत मिलती है।
  • मांसपेशियों की कमजोरी दूर होती है।
  • थकान दूर होती है तथा ताकत महसूस होती है।
  • औषधीय तेलों का इस्तेमाल किया जाए तो हड्डियां मजबूत होती हैं।
  • गठिया, हड्डियों का टेढ़ा-मेढ़ा होना, सिरदर्द, दिमाग की कमजोरी आदि दूर होती है।

गर्मी के मौसम में कौन-सा तेल बेहतर

मालिश के लिए अलग-अलग तेलों का इस्तेमाल किया जाता है। अलग-अलग तेल से मालिश के अलग-अलग लाभ होते हैं। हालांकि, गर्मी में मालिश के लिए नारियल का तेल या गाय के घी का इस्तेमाल करना चाहिए।

मालिश का सही तरीका

सबसे पहले सिर की मालिश करनी चाहिए। ध्यान रहे कि मालिश हल्के-हल्के हाथों से करें। सिर के साथ ही चेहरे की भी मालिश करें। इसके बाद हल्के हाथों से गर्दन पर मालिश करें। गर्दन के बाद कंधों पर गोल-गोल तरीके से मालिश करें।

फिर हाथों पर उंगलियों की दिशा में मालिश करें। कोहनियों और कलाइयों पर भी गोल-गोल मसाज करें। इसके बाद शरीर के आगे के हिस्से (सीना और पेट) की मालिश करें, ज्यादा जोर न लगाएं।

आगे के हिस्से में महत्वपूर्ण अंग जैसे दिल, फेफड़े आदि होते हैं इसलिए आगे की ओर ज्यादा देर तक मसाज नहीं करनी चाहिए। कमर पर नीचे से ऊपर की ओर मालिश करना बेहतर माना जाता है।