क्रिकेट के सबसे Controversial Moments

क्रिकेट विश्व में सबसे ज़्यादा खेला जाने वाला खेल है। मैदान के अंदर क्रिकेट का खेल उतार-चढ़ावों से भरा रहता है। बल्लेबाज के आउट होने पर खीजना, तेज़ गेंदबाज का गुस्सा, आपसी बहस और अम्पायर के निर्णय से असहमति, यह सब मैदान पर होने वाली सामान्य घटनाएँ हैं। क्रिकेट को चाहने वालों के लिए आज हम इस खेल से जुड़े कुछ ऐसे ही Controversial Moments बताने जा रहें हैं।

  1. Bodyline सीरीज़

यह सीरीज़ ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच 1932-33 में खेली गई थी। उन दिनों ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाज डॉन ब्रैडमैन अपने चरम पर थे। इस सीरीज़ में डॉन ब्रैडमैन को काबू करने लिए इंग्लैंड के गेंदबाजों ने शॉर्ट पिच गेंदें ख़ूब फेंकी थी। इंग्लैंड के गेंदबाज हेरोल्ड लॉरवुड ने ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाज बिल वुडफुल के सीने पर गेंदें फेंकी। इसके कारण मैच को दस मिनट के लिए रोका भी गया था। इसे लेकर विवाद भी हुआ था। हालांकि यह मैच ड्रॉ रहा। लेकिन इंग्लैंड की इस हरकत पर क्रिकेट फैंस में जबर्दस्त गुस्सा देखा गया था।

  1. जावेद मियांदाद और डेनिस लिली

1982 में एक टेस्ट मैच के दौरान रन लेते हुए पाकिस्तानी क्रिकेटर जावेद मियांदाद, ऑस्ट्रेलियाई बॉलर डेनिस लिली से टकरा गए। दोनों के बीच कहा सुनी हुई। इसके बाद दोनों पर 2 मैच का प्रतिबंध लगा दिया गया था।

  1. डेरेल हेयर और मुथैया मुरलीधरन

साल 2010 में ऑस्ट्रेलिया और श्रीलंका के बीच टेस्ट मैच चल रहा था। इस मैच में अंपायर डैरेल हेयर ने मुथैया मुरलीधरन की 7 बॉल्स को नो बॉल करार दिया। इसे लेकर बहुत विवाद हुआ था और मामला ICC तक पहुंच गया था।

  1. Michael Holding का गुस्सा

1979-80 में वेस्टइंडीज़ की टीम न्यूज़ीलैंड दौरे पर गई थी। यहां वेस्टइंडीज़ के कई खिलाड़ी अंपायरिंग से नाखु़श थे। अंपायर के एक फ़ैसले के बाद तो Michael Holding ने गुस्से में स्टंप्स को लात तक मार दी थी।

  1. माइक डेनिस और भारत

साल 2001 में माइक डेनिस साउथ अफ़्रीका और इंडिया के बीच एक टेस्ट सीरीज़ के मैच रेफ़री बनाए गए, लेकिन उन्होंने पहले ही टेस्ट मैच में 6 भारतीय खिलाड़ियों के खेलने पर बैन लगा दिया था। इनमें सचिन तेंदुलकर का नाम भी शामिल था। इस पर काफ़ी विवाद हुआ था।

  1. सट्टेबाज के संपर्क में आए शेन वॉर्न और मार्क वॉ

ऑस्ट्रेलियन गेंदबाज शेन वॉर्न और मार्क वॉ 1994-95 में भारत दौरे पर सट्टेबाजों के संपर्क में आ गए थे। उन पर पैसे लेकर जॉन नाम के सट्टेबाज को मैच से संबंधित जानकारी देने के आरोप लगे थे।

  1. Benson और Hedges वर्ल्ड सीरीज़ कप

इस वर्ल्ड सीरीज़ कप में Brian McKechnie ने गुस्से में आकर बल्ला फ़ेंक दिया था। यह कप ऑस्ट्रेलिया और न्यूज़ीलैंड के बीच खेला गया था, जिसमें लास्ट बॉल पर 6 रन चाहिए थे, मगर ऑस्ट्रेलिया के कप्तान ग्रेग चैपल ने बॉलर को अंडर आर्म बॉलिंग करने को कहा, नतीजा न्यूज़ीलैंड की टीम हार गई। यह क्रिकेट के इतिहास का Most Un-Cricketing Moment था।

  1. मंकी गेट विवाद

साल 2008 में ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर हरभजन सिंह ने ऑस्ट्रेलियन क्रिकेटर एंड्रयू साइमंड्स को चिढ़ाते हुए मंकी कह दिया था। जिससे उनकी ऑस्ट्रेलियाई दौरे की निरंतरता पर सवाल उठा।

  1. पाकिस्तान पर लगा बॉल टेंपरिंग का आरोप

साल 2006 में इंग्लैंड के खिलाफ़ एक टेस्ट मैच में अंपायर Darrell Hair को लगा कि पाकिस्तानी टीम बॉल के साथ छेड़-छाड़ कर रही है। इसके बाद उन्होंने पाक टीम को बिना वार्निंग दिए ही इंग्लैंड को 5 रन दे दिए। इस पर भी काफ़ी विवाद हुआ था।

  1. डेनिस लिली एल्यूमीनियम बैट

1979 में ऑस्ट्रेलियन खिलाड़ी डेनिस लिली इंग्लैंड के खिलाफ़ एक मैच में एल्यूमीनियम का बल्ला लेकर बैटिंग करने चले आए थे। विवाद होने पर उन्हें लकड़ी के बल्ले से ही खेलने की अनुमति दी गई थी।

  1. टोनी ग्रेग का विवादास्पद बयान

इंग्लैंड के कप्तान टोनी ग्रेग ने 1976 की टेस्ट सीरीज़ से पहले वेस्टइंडीज़ की टीम के खिलाफ़ विवादस्पद बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि इस सीरीज़ में कैरेबियन खिलाड़ी उनके सामने गिड़गिड़ाने पर मजबूर हो जाएंगे।

  1. Bob Woolmer की मौत

साल 2007 में पाकिस्तान के कोच Bob Woolmer की संदिग्ध हालातों में मौत हो गई थी। उनकी मौत की गुत्थी आज तक नहीं सुलझी है। कोई कहता है कि ये मर्डर है, तो कोई इसे नेचुरल डेथ बताता है।

  1. हैन्सी क्रोनिये- मैच फ़िक्सिंग

हैन्सी क्रोनिये दक्षिण अफ़्रीका के ऑलराउंडर क्रिकेटर थे। साल 2000 में उन पर मैच फ़िक्सिंग का आरोप लगा, वो पैसे लेकर मैच से जुड़ी बातें फ़िक्सर्स को बताते थे। इसका खुलासा होने से बाद उनके क्रिकेट खेलने पर आजीवन बैन लग गया था।

  1. सलीम मलिक मैच फ़िक्सिंग

1998 में पाकिस्तान के कप्तान सलीम मलिक पर भी मैच फ़िक्सिंग के आरोप लगे थे। इसके बाद उन पर आजीवन क्रिकेट खेलने पर बैन लगा दिया था। मगर साल 2008 में उन पर लगे आरोप साबित नहीं हो पाए और उन पर से प्रतिबंध हटा लिया गया था।

  1. गेंद के साथ छेड़छाड़

1994 में दक्षिण अफ़्रीका और इंग्लैंड के बीच टेस्ट मैच चल रहा था। इस मैच में इंग्लैंड के कप्तान Michael Atherton कैमरे पर बॉल के साथ छेड़छाड़ करते पकड़े गए थे। वो अपनी जेब से मिट्टी निकालकर उससे बॉल को टेंपर करने की कोशिश कर रहे थे।

  1. Rebel Tours of South Africa

दक्षिण अफ़्रीका के रंगभेद वाले विवाद के चलते ICC ने उस पर बैन लगा दिया था, तब 1982 से 1990 के बीच कई देशों ने उनके साथ क्रिकेट खेला था। इनमें इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया, श्रीलंका जैसी टीमों के नाम शामिल हैं।

  1. पाकिस्तान स्पॉट फ़िक्सिंग

साल 2010 में पाकिस्तान के क्रिकेटर्स मोहम्मद आसिफ़, मोहम्मद आमिर और सलमान बट पर स्पॉट फ़िक्सिंग का आरोप लगा था। इन्होंने पैसे लेकर इंग्लैंड के खिलाफ़ कई नो बॉल फेंकी थी।

  1. आईपीएल

साल 2012 में एक स्टिंग ऑपरेशन में आईपीएल के 5 खिलाड़ी स्पॉट फ़िक्सिंग करने की बात करते दिखाई दिए थे। स्टिंग ऑपरेशन के इस वीडियो की जांच के बाद 2013 में सीएसके और राजस्थान रॉयल्स की टीम पर दो साल का बैन लगा दिया गया था।

  1. अंपायर स्टीव बकनर

2008 में भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर थी। इस टेस्ट सीरीज़ में अंपायर स्टीव बकनर ने भारत के खिलाफ़ कई गलत फ़ैसले दिए थे। इसके चलते उन्हें सिडनी टेस्ट में अंपायरिंग करने से रोक दिया गया था।

  1. माइक गेटिंग Vs शकूर राणा

साल 1987 में इंग्लैंड की टीम पाकिस्तान के दौरे पर थी। इसी मैच के दौरान इंग्लैंड के कप्तान माइक गेटिंग और अंपायार शकूर राणा का झगड़ा हो गया, क्योंकि गेंटिंग बॉलिंग के दौरान अपने फ़ील्डर को अपनी पोजिशन चेंज करने को कह रहे थे और ये रूल्स के खिलाफ़ था।

यह भी पढ़ें :-

नवीनतम