भारतीय सेना के बारे में 14 अदभुत तथ्य

8219

भारतीय सशस्त्र बल सेना, भारतीय सेना, भारतीय वायुसेना, भारतीय नौसेना और भारतीय तटरक्षक बल भारत को दुश्मनों से सुरक्षित रखते हैं. हम में से बहुत से लोगों को उनकी जीत और उनके तरकीय योगदान के बारे में पता होगा. यहां निम्नलिखित सूची में भारत की सेना के बारे में 14 सबसे महत्वपूर्ण तथ्य हैं जिससे पढ़कर आप भारतीय सेना को पहले से 10 गुना ज्यादा सम्मान की नजरों से देखेंगे.

1भारतीय सेना दुनिया की सबसे ऊँची रणभूमि “सियाचिन ग्लेशियर” को नियन्त्रण करती है, जिसकी ऊंचाई समुन्द्र तल से 5000 मीटर है.


scoopwhoop

2भारत के पास दुनिया की सबसे बड़ी “स्वैच्छिक” सेना है.

सभी सेवारत और रिज़र्व सेना के पास अपनी सेवा देने या ना देने का अधिकार होता है. यह अधिकार भारत के संविधान में भी दर्ज है. लेकिन इस संविधान को कभी भी प्रयोग में नहीं लाया गया.

scoopwhoop

3भारतीय सेना के पास पहाड़ों की उंचाई वाले क्षेत्रों में लड़ने की महारत हासिल है.

भारतीय सेना द्वारा High Altitude Warfare School (HAWS) दुनिया में सबसे संभ्रांत सैन्य प्रशिक्षण चलाया जाता है. जिसमें अमेरिका, इंग्लैंड और रूस के विशेष सेना बल ने अफ़ग़ानिस्तान पर आक्रमण करने से पहले हिस्सा लिया था.


scoopwhoop

4भारत ने 1970 और 1990 में परमाणु परिक्षण किया था. इस परिक्षण के बारे में दुनिया की सबसे ताकतवर ख़ुफ़िया एजेंसी सी.आई.ए. को भी नहीं पता चला था और यह सी.आई.ए की अब तक की सबसे बड़ी असफलता है.

 

scoopwhoop

5भारत में अन्य सरकारी संगठनों और संस्थाओं के विपरीत भारतीय सेना में किसी भी व्यक्ति की जाती या धर्म नहीं देखा जाता.


scoopwhoop

6भारत और पाकिस्तान के बीच हुई “लोंगेवाला की लड़ाई” में सिर्फ दो भारतीय सेना के जवान ही शहीद हुए थे. इस लड़ाई पर मशहूर बॉलीवुड फिल्म “बॉर्डर” बनी है

लोंगेवाला की लड़ाई भारत और पाकिस्तान के बीच दिसम्बर 1971 में हुई थी. इस लड़ाई में 120 भारतीय सेना के जवानों ने 2000 पाकिस्तानी सेना के जवानों को घुटने टेकने के लिए मजबूर कर दिया था. सबसे रोचक तथ्य यह है कि इस लड़ाई में भारतीय सेना के पास सिर्फ एक जीप थी जिस पर एम्40 की राइफल लगी थी और दूसरी तरफ पाकिस्तानी सेना 2000 की तदाद में टैंकों से लेस थी.

 

scoopwhoop

7भारतीय सेना द्वारा चलाया गया ऑपरेशन राहत(2013) अब तक सबसे बड़ा लोगों को बचाने वाला मिशन था. ऑपरेशन राहत मिशन को भारतीय वायु सेना द्वारा चलाया गया था. इस मिशन का मुख्य लक्ष्य 2013 में उत्तराखंड में आयी बाढ़ से प्रभावित लोगों को बचाना था. ऑपरेशन राहत के पहले चरण में 17 जून 2013 को 20,000 लोगों को बाढ़ के क्षेत्र से सुरक्षित निकाल लिया गया था. जो अपने-आप में एक बहुत बड़ा रिकॉर्ड था.

scoopwhoop

8केरल की एज़िमाला नौसेना अकादमी पूरे एशिया में सबसे बढ़ी अकादमी है.

scoopwhoop

9भारतीय सेना के पास घुड़सवार सेना की रेजिमेंट भी है. ऐसी रेजिमेंट दुनिया में सिर्फ तीन ही हैं.

scoopwhoop

10भारतीय वायु सेना का ताजीकिस्तान में आउट-स्टेशन है और एक अफ़ग़ानिस्तान में भी बनने जा रहा है.

11भारतीय सेना ने भारत के सबसे ऊँचे पुल का भी निर्माण किया है. यह लदाख वैली में द्रास और सुरु नदियों के बीच बना हुआ है. इस पुल का निर्माण भारतीय सेना द्वारा अगस्त 1982 में किया गया था.

scoopwhoop

12सैन्य इंजीनियरिंग सेवा (एमईएस) भारत में सबसे बड़ी निर्माण एजेंसियों में से एक है. एम्ईएस और सीमा सड़क संगठन(बीआरओ) पर भारत की बेहद शानदार सडकों के निर्माण और रखरखाव की जिम्मेदारी है. खर्दुन्गला( जो पूरी दुनिया में सबसे ऊँची सड़क है) और चुम्बकीय पहाड़ी जैसी सडकों के रखरखाव की जिम्मेदारी एम्ईएस पर आती है.

scoopwhoop

13भारत और पाकिस्तान के बीच 1971 में हुआ युद्ध उस समय खत्म हो गया था. जब पाकिस्तानी सेना के 93,000 जवानों ने भारतीय सेना के सामने आत्मसमर्पण कर दिया था. दुसरे विश्व युद्ध के बाद यह सबसे बड़ा आत्मसमर्पण था जो पाकिस्तानी सेना द्वारा किया गया था.

scoopwhoop

14अक्सर कई लोकप्रिय हस्तियों को सशस्त्र बलों की मानद रैंक से सम्मानित किया जाता है. सचिन तेंदुलकर को भारतीय वायु सेना द्वारा कप्तान का रैंक से सम्मानित किया गया है और एम्.एस धोनी को भारतीय सेना द्वारा लेफ्टिनेंट की पदवी से सम्मानित किया गया है.

scoopwhoop

Comments