अजीबोग़रीब शौक :- ड्रैगन की तरह दिखता है यह शख्स!

1075

अजीबोग़रीब शौक :- ड्रैगन की तरह दिखता है यह शख्स

हर इंसान का कोई न कोई शौक जरूर होता है और प्रत्येक इंसान अपना शौक पूरा करने की पूरी कोशिश करता है लेकिन कुछ इंसान ऐसे भी होते हैं जिन पर शौक का जुनून सवार होता है जिसके लिए वे किसी भी हद तक जा सकते हैं।

किसी-किसी का शौक बेहद ही अजीबोग़रीब होता है और वे  इसे पूरा करने के लिए बेहिसाब दौलत खर्च करते हैं।आज हम बात करने जा रहे हैं ऐसे ही एक व्यक्ति के बारे में जिसने अपने अजीबोग़रीब शौक के चक्कर में लाखों रुपये गवाएं हैं।

- Advertisement -

यह भी पढ़ें :- अजीबोगरीब शौक वाले भारतीय राजे, महाराजे! 

टायमैट लीजन मेडुसा नाम के इस व्यक्ति को अपने शरीर में अजीब बदलाव का शौक है, इस कार्य के लिए इन्होंने कॉस्मेटिक सर्जरी और बॉडी मॉडिफिकेशन भी करवाई है जिसके लिए इन्होंने 61 हजार पाउंड की बड़ी रकम खर्च की है। टायमैट ने यह रकम अपने शरीर में जबरदस्त बदलाव, कान हटाने और जीभ को बीच से कटवाने पर खर्च किया है

यह भी पढ़ें :-ये हैं दुनिया के सबसे अजीबोगरीब और रहस्यमयी पेड़

यह है मकसद

टायमैट लीजन मेडुसा का मकसद खुद को ड्रैगन की तरह दिखना है। आपको सुनकर हैरानी होगी कि उनके बॉडी के मॉडिफिकेशन का काम अभी भी चल रहा है।

इसके पीछे उनका मकसद यह है कि जिन लोगों ने बॉडी मॉडिफिकेशन करा राखी है उनके प्रति सकारात्मक भाव दिखा सकें।

टायमैट का कहना है कि ज्यादातर लोग सोचते हैं कि जो लोग साई-फाई फिल्मों में दिखने वालों की तरह बॉडी मॉडिफिकेशन करवाते हैं वो लूजर और मंदबुद्धि वाले हैं, परन्तु ऐसा नहीं है।

पहले मैं एक आम आदमी की तरह देश के सबसे बड़े वित्तीय संस्थानों में से एक बैंकिंग वाइस प्रेसिडेंट था। टायमैट ने कहा कि मैं लोगों को बस यह बताना चाहता हूँ कि मॉडिफायड लोग भी बुद्धिमान, दयालु, प्यार करने वाले लोग होते हैं। सिर्फ इसलिए कि मेरे कान निकाल लिए गए हैं इसका यह मतलब नहीं है कि मेरे पास दिमाग नहीं है।

यह भी पढ़ें :-दुनिया की सबसे अजीबोगरीब सज़ाए, जिनके बारे में जानकर आप हैरान रह जाएंगे !

बचपन में हुआ दुर्व्यवहार

टायमैट जब वह पांच साल का था, तब उनके सौतेले पिता ने उनके साथ काफी शारीरिक और मौखिक दुर्व्यवहार किया, इतना ही नहीं उसके माता-पिता ने उसे रात में दक्षिणी टेक्सास के घने जंगलों में छोड़ दिया।

जहां खतरनाक रैटलस्नेक रहते हैं। जब उनके माता-पिता ने उन्हें कार से बाहर फेंक दिया, तो उन्होंने एक जहरीले रैटलर को अपना माता-पिता मान लिया।

यह भी पढ़ें :-दुनिया के 10 सबसे विषैले और घातक सांप

शुरुआत

टायमैट लीजन मेडुसा ने पहली बार 1997 में बॉडी मॉडिफिकेशन करवाया और उन्होंने अपने सिर पर दो सिंग लगवाए, जिनकी कीमत 330 पाउंड (लगभग 29 हजार रुपये) थी।

टायमैट ने बताया कि जब उन्होंने पहली बार बॉडी मॉडिफिकेशन करवाई थी, उस समय वे दुनिया के पांचवें व्यक्ति बन गए थे जिसने सिर पर सींग लगवाए थे।

उन्होंने बॉडी मॉडिफिकेशन पहले शौक से कराया, लेकिन बाद में यह सब उनके जीवन का प्रमुख हिस्सा बन गया। टायमैट की मॉडिफिकेशन को देखें तो पहले वे महिला के रूप में बने, लेकिन बाद में उनका मानव ड्रैगन के रूप में अवतार हुआ। हालत यह है कि अब लोग टायमैट को ‘ड्रैगन लेडी’ के रूप में पहचानते हैं।