जानिए रंगों से कैसे करें बालों का बचाव!

1111

होली का त्यौहार देश में बेहद ही धूमधाम से मनाया जाता है। धुलण्डी के दिन रंगों से खेलना लोगों को काफी अच्छा लगता है। हालांकि, रंगों का असर आपकी त्वचा और बालों पर पड़ता है।

रंग ना सिर्फ बालों को रूखा और बेजान बनाते है, बल्कि इसके कारण डेंड्रफ, खुजली और बाल टूटने जैसी समस्या भी आने लगती है। ऐसे में अक्सर लोग होली खेलने से बचते हैं।

जिन लोगों के बाल हल्के और ड्राई होते है, वह तो होली पर घर से बाहर निकलना भी पसंद नहीं करते क्योंकि होली पर रंग-गुलाल बालों में डाल दिया जाता है। इस वजह से बाल रूखे और बेजान हो जाते हैं।

- Advertisement -

इस लेख में हम आपको बताएंगे कि कैसे हम रंगों से बालों का बचाव कर सकते हैं:-

  • रंग-गुलाल खेलने के बाद शैम्पू के बाद कंडीशनर का उपयोग करना बेहद जरूरी है। इससे बालों को रंगों के दुष्प्रभावों से बचाने में मदद मिलती है।
  • बाल धोने के बाद हेयर सीरम या हेयर क्रीम का प्रयोग करें। तेल लगाना हो तो दो छोटे चम्मच जैतून का तेल या एक छोटा चम्मच सरसों का तेल और एक छोटा चम्मच कैस्टर ऑयल मिलाकर बालों की जड़ों में अच्छी तरह से मसाज करें।
  • बालों को सामान्य तापमान वाले साफ़ पानी से धोएं। पानी ठंडा न हो इसका ख्याल रखें। इससे जड़ों में चिपका रंग काफ़ी हद तक निकल जाएगा। इसके बाद सौम्य शैम्पू से बालों को अच्छी तरह से धो लें।
  • बालों से रंग निकालने के लिए हेयर पैक लगाना अच्छा उपाय है। एक बड़ा चम्मच दही, एक बड़ा चम्मच बेसन और थोड़ा-सा नींबू का रस मिलाकर पैक तैयार कर लें। इसे बालों में लगाकर कुछ देर मसाज करें और फिर सौम्य शैम्पू से धो लें।
  • गुनगुने तेल से बालों की मालिश करें। फिर बाल धाएं। डेंड्रफ है तो तेल में नींबू का रस मिलाकर मसाज करें। इससे रंग जल्दी निकलेगा और डेंड्रफ से भी राहत मिलेगी।
  • होली खेलने से पहले बालों में कोकोनट मिल्क लगाएं। यदि पहले नहीं लगा पाए हैं तो शैम्प करने के एक घंटे पहले लगाएं और फिर सौम्य शैम्पू से बाल धो लें।

यह भी पढ़ें :-