भारतीय इतिहास की सबसे खूबसूरत रानियाँ

भारत का इतिहास सदियों पुराना है। यह इतिहास राजाओं, महाराजाओं और रानियाँ उनसे जुड़ी शानों शौकत और जंग से जुड़ा हुआ है। इस दौरान कई ऐसी रानियाँ, महारानियाँ भी थी, जो अपनी बेमिसाल खूबसूरती और बहादुरी के लिए जानी गई। आज हम आपको भारत की उन खूबसूरत रानियाँ, रानियों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनकी खूबसूरती का कोई मुकाबला नहीं है। भारत की इन रानियाँ की खूबसूरती भारत ही नहीं, बल्कि दूनिया भर में मशहुर थी।

संयुक्ता

संयुक्ता, कन्नौज के राजा जयचंद की बेटी थी। उनकी शादी राजपूत राजा पृथ्वीराज चौहान से हुई थी। उनकी सुंदरता के चर्चे इस कदर थे कि पृथ्वीराज ने उनके बारे में सुना, तो बिना देखे ही उन्हें अपना दिल दे बैठे थे। पृथ्वीराज चौहान से राजा जयचंद की शत्रुता थी, फिर भी अपने पिता द्वारा आयोजित एक स्वयंवर में अपने पिता की इच्छा के विरूद्ध संयुक्ता ने पृथ्वीराज चौहान के गले में वरमाला पहनाई।

रानी पद्मिनी

रानी पद्मिनी, चित्तौड़ के राजा रतन सिंह की पत्नी थी। रानी पद्मिनी अंत्यन्त सूंदर थी। उनकी सूंदरता के चर्चे सूनकर दिल्ली के शासक अल्लाउद्दीन खिलजी ने चित्तौड़ पर आक्रमण कर दिया। इस युद्ध में लगभग 30 हजार सैनिक मारे गए और युद्ध में जीतने के बाद भी अल्लाउद्दीन खिलजी रानी को हासिल नहीं कर पाया, क्योंकि अलाउद्दीन उस तक पहुँच सके, इससे पहले ही रानी ने अपनी इज्जत की खातिर हजारों राजपूत स्त्रियों के साथ अग्नि में कूद कर जौहर कर लिया था।

रानी लक्ष्मीबाई

रानी लक्ष्मीबाई का जन्म वाराणसी के एक मराठी ब्राहम्ण परिवार में हुआ था, उनका नाम मणिकर्णिका रखा गया था। झांसी के राजा गंगाधर राव से शादी होने के बाद उनका नाम बदल दिया गया। वैसे तो इतिहास में उनका नाम खास तौर से उनकी वीरता के लिए अंकित है, लेकिन वो बहादुर होने के साथ-साथ बेहद सुंदर भी थीं। 1857 के गदर में वह अग्रेजों के खिलाफ लड़ी थीं। वह अपने बच्चे को पीठ पर बांधकर अंतिम सांस तक अंग्रेजों से लड़ी थीं। आज उन्हें इतिहास में झांसी की रानी के नाम से याद किया जाता है।

कपूरथला की सीता देवी

सीता देवी, काशीपुर के हिंदू राजा की बेटी थीं। उन्हें प्रिंसेस करम के नाम से भी जाना जाता था। उनका विवाह कपूरथला के सिख राजकुमार करमजीत सिंह के साथ हुआ था। वह उस वक्त की सबसे सुंदर रानियों में से एक थीं। ‘वोग मैगजीन’ ने भी उन्हें दुनिया की सबसे वेल ड्रेस्ड महिलाओं में चुना था। वह कई यूरोपियन भाषाएं भी बोल सकती थी।

महारानी गायत्री देवी

जयपुर के भूतपूर्व राजघराने की महारानी गायत्री देवी का जन्म लंदन में हुआ था। वह अपनी सुंदरता के लिए पूरे विश्व में प्रसिद्ध थीं। उनका विवाह जयपूर के महाराजा सवाई मानसिंह द्वितीय से हुआ था। वह महाराजा मानसिंह की तीसरी पत्नी थीं। मशहुर फैशन पत्रिका वोग ने उन्हें दुनिया की सबसे सूंदर 10 महिलाओं में शामिल किया था। जुलाई 2009 में 90 वर्ष की आयु में उनका निधन हुआ था।

नूरजहाँ

नूरजहाँ, बादशाह अकबर के प्रधान की बेटी थी। वह बेहद खूबसूरत थी। खूबसूरत होने के साथ ही उसमें और भी बहुत गुण थे। सत्रह साल की उम्र में उसका विवाह अलीकुली नाम के एक साहसी ईरानी से हुआ था। लेकिन 1607 ई में जहांगीर के दूतों ने नूरजहाँ के पति को मार डाला। उसके बाद नूरजहाँ को जहांगीर के हरम में डाला गया। 1611 में जहांगीर ने नूरजहाँ से शादी कर ली। वह सम्राट जहांगीर की 21 वीं पत्नी थी और 1613 में उसे बादशाह बेगम बनाया गया।

रजिया सुल्तान

रजिया सुल्तान दिल्ली सल्तनत पर राज़ करने वाली पहली महिला सुल्तान थी। वह इल्तुतमिश की पुत्री थी। वह बेहद खूबसूरत थी। रजिया सुल्तान पर्दा प्रथा के विपरित पुरूषों का जैसा वेष रखकर रहती थी। इल्तुतमिश ने अपने उत्तराधिकारी के रूप में रजिया सुल्तान को चुना था। रजिया सुल्तान ने 1236 से 1240 तक दिल्ली सल्तनत पर शासन किया था। वह उसके शासन के थोड़े ही दिनों में दिल्ली की शक्तिशाली शासक बन गई थी।

मद्रास की महारानी सीता देवी

सीता देवी, बड़ौदा घराने की महारानी थी। उनका जन्म मद्रास (चेन्नई) में हुआ था। वह अपनी खूबसूरती, फैशन, और शाही अंदाज़ के लिए जानी जाती थी। उनके स्टाइल और खूबसूरती के कारण उन्हें ‘इंडियन वालिस सिम्सन’ (1936 की सबसे खूबसूरत महिला) भी कहा जाता था। उनका बड़ौदा घराने के प्रिंस प्रताप सिंह गायकवाड़ से हुआ था।

रानी दुर्गावती

रानी दुर्गावती का जन्म प्रसिद्ध चांडल सम्राट केरत रॉय राजपरिवार में हुआ। रानी दुर्गावती बेहद सूंदर थी। उन्होंने अपनी शादी के 4 साल बाद अपने पति दलपत शाह की असामयिक मृत्यु के बाद अपने बेटे वीरनारायण को गद्दी पर बैठाकर खुद उनकी संरक्षक के रूप में शासन किया। रानी दुर्गावती को इलाहबाद के मुगल शासक आसफ खॉ से लोहा लेने के लिए जाना जाता है।

रानी विजया देवी

रानी विजया देवी, प्रिंस कांति राव नरसिम्हा राजा वाडियार की बेटी थीं। वह देशभर में अपनी खूबसूरती के लिए जानी जाती थीं। उन्होंने लंदन और न्यूयॉर्क के कॉलेज से संगीत की शिक्षा ली थी। इसके साथ ही उन्हें वीणा बजाने में महारत हासिल थी। उनका विवाह कोटड़ा-संगानी के ठाकुर से हुआ था।

यह भी पढ़ें-रानियाँ

नवीनतम