ये हैं भारत के 5 सबसे स्वच्छ शहर!!

635

भारत दुनिया के सबसे बड़े विकासशील देश के रूप में जाना जाता है। प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा चलाए गए स्वच्छता अभियान के तहत किए गए कार्यों के कारण, देश में स्वच्छता अभियान जोरों पर है।

इस अभियान के तहत देशवासियों ने भी अपनी भागीदारी दर्ज कराई है। इसके तहत हर कोई अपने शहर को साफ रखने की कोशिश कर रहा है।

आज इस पोस्ट में हम जानेंगें भारत के 5 सबसे स्वच्छ शहरों के बारे में तो आइए जानते हैं इस लिस्ट में शामिल 5 स्वच्छ शहरों के बारे में:-

इंदौर

इंदौर शहर को मध्य प्रदेश की वाणिज्यिक राजधानी के रूप में जाना जाता है और इस सूची में इंदौर सबसे ऊपर है। इंदौर अब भारत के सबसे स्वच्छ शहर के रूप में जाना जाता है।

लगभग 20 लाख की जनसँख्या वाला यह शहर समुद्र तल से 550 मीटर पर बसा हुआ है। आपको बता दे कि इंदौर को मिनी मुंबई भी कहते है क्योंकि इस शहर की ग्रोथ रेट काफी अच्छी है और यहाँ पर ज्यादातर अमीर और मिडिल क्लास के लोग रहते हैं। इंदौर को सबसे स्वच्छ शहर के रूप में सम्मानित भी किया गया था।

भोपाल

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल इस सूची में दूसरे स्थान पर है। शहर को भारत के दूसरे सबसे स्वच्छ शहर के रूप में सम्मानित किया गया है।

इस शहर की जनसँख्या भी इंदौर के बराबर लगभग 20 लाख है यह समुद्र तल से 527 मीटर ऊंचाई पर बसा हुआ है। सफाई के मामले में यहां की नगरपालिका और यहाँ के लोग काफी जागरूक हैं इस वजह से ये काफी स्वच्छ शहर है।

विशाखापत्तनम

आंध्र प्रदेश में विशाखापत्तनम अपनी प्राकृतिक सुंदरता के लिए जाना जाता है क्योंकि यह एक समुद्र तटीय शहर है  भारत का तीसरा सबसे साफ शहर जाना जाता है। विशाखापत्तनम आंध्र प्रदेश की वित्तीय राजधानी है और राज्य का प्रमुख वाणिज्यिक केंद्र है।

समुद्र तल से 45 मीटर की ऊंचाई में बसे विशाखापट्टनम में करीब 18 लाख लोग रहते हैं। समुद्र के किनारे बसा होने के कारण इस शहर का मौसम ज्यादातर समय में सुहाना बना रहता हैं।

इस शहर का तापमान हमेशा संतुलित रहता है। वहीं साफ सफाई की बात करे तो यहां के लोग इस बात का काफी ख्याल रखते हैं।

सूरत

सूरत शहर गुजरात के सबसे मुख्य और सबसे बड़े औधोगिक शहर में से एक है। यह भारत के सबसे साफ शहरों की सूची में चौथे स्थान पर आता है सूरत भी विशाखापट्टनम की तरह समुद्र के किनारे बसा हुआ है और इसकी समुद्र तल से ऊंचाई करीब 13 मीटर है।

हालाकि औधोगिक शहर होने की वजह से यहां की फैक्ट्रीयों से काफी प्रदूषण होता है फिर भी यहाँ के लोग साफ सफाई का खास ख्याल रखते हैं।

मैसूर

मैसूर अब पूरी दुनिया में अपनी साफ-सफाई के लिए जाना जाता है। इस सूची में पांचवे स्थान पर मैसूर को रखा गया है. यह कर्नाटक राज्य के प्रमुख शहरों में से एक है जिसकी समुद्र तल से ऊंचाई 763 मीटर है

यह भी पढ़ें :-