1. हमारी धरती का गठन 4.5 अरब वर्ष पहले हुआ था. 3.5 अरब वर्ष से पृथ्वी पर जीवन कायम है.
  2. पृथ्वी पूरी तरह गोल नहीं है. भूमध्य रेखा पर इसका व्यास पोल-टू-पोल व्यास से अधिक है. इसमें 45 किलोमीटर तक का फासला है.
  3. क्योंकि पृथ्वी उभरी हुई है, इसलिए भूमध्य रेखा पर 150 पोंड का भार उत्तरी ध्रुव पर 151 पोंड के बराबर होगा.
  4. पृथ्वी का भार 5,980,000,000,000,000,000,000 टन है.
  5. एलेया के परमेनिदेस (Parmenides of Elea) पहले आदमी थे जिन्होंने कहा था कि पृथ्वी एक क्षेत्र है. वह पांचवी सदी में पैदा हुए थे.
  6. ईस्वी पूर्व तीसरी सदी के समोस के एरिस्टारक्स (Aristarchus of Samos) ने कहा था कि पृथ्वी सूरज के इर्द-गिर्द घूमती है ना कि सूरज पृथ्वी के.
  7. पृथ्वी में मुख्य तत्व लोहा, ऑक्सीजन और सिल्लिकोन हैं जो मिल कर पृथ्वी के भार का 77 प्रतिशत बनाते हैं.
  8. धरती का 70 प्रतिशत हिस्सा पानी से ढका हुआ है.
  9. चीन का यूरो एशियन ध्रुव समुन्द्र से 1,644 मील की दूरी पर स्थित है.
  10. धरती ही जगत में एकलौता ऐसा ग्रह है जिसका नाम किसी भी रोमन या ग्रीक देवता के नाम पर नहीं है.