महाशिवरात्रि – जानिए किन राशियों पर होगी महादेव की कृपा

733

महाशिवरात्रि हिंदुओं के सबसे बड़े पर्वों में से एक है। शिवरात्रि का यह मुख्य पर्व साल में दो बार आता है, एक फाल्गुन के महीने में तो दूसरा श्रावण मास में आता है। फाल्गुन के महीने की शिवरात्रि को, महाशिवरात्रि कहा जाता है। इसे फाल्गुन मास की कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को मनाया जाता है।

हिंदू धर्म में, महाशिवरात्रि व्रत, पूजा, कथा और उपायों का खास महत्व होता है। इस दिन लोग देवों के देव महादेव को प्रसन्न करने के लिए बड़ी आस्था से परिपूर्ण महाशिवरात्रि का व्रत करते हैं।

कब है महाशिवरात्रि

महाशिवरात्रि 2019 तिथि की बात करें तो, इस बार महाशिवरात्रि 4 मार्च 2019 को है। महाशिवरात्रि के शुभ मुहूर्त का समय सुबह 07:04 से दोपहर 03:20 तक रहेगा।

क्यों मनाई जाती है महाशिवरात्रि

महाशिवरात्रि को लेकर दो कथाएं प्रचलित हैं। पहली कथा के अनुसार फाल्गुन कृष्ण चतुर्दशी को भगवान शिव और माता पार्वती का विवाह हुआ था। इसलिए भक्तगण महा शिवरात्रि को गौरी-शंकर की शादी की सालगिरह के रूप में मानते हैं। विवरण मिलता है कि भगवती पार्वती ने शिव को पति के रूप में पाने के लिए घनघोर तपस्या की थी।

दूसरी कथा के अनुसार इस दिन एक निषादराज अपने कुत्ते के साथ शिकार खेलने गया, किन्तु उसे कोई शिकार नहीं मिला। वह थककर भूख-प्यास से परेशान हो कर, एक तालाब के किनारे गया, जहाँ बिल्व वृक्ष के नीचे शिवलिंग था। अपने शरीर को आराम देने के लिए उसने कुछ बिल्व-पत्र तोड़े, जो शिवलिंग पर भी गिर गए।

अपने पैरों को साफ़ करने के लिए उसने तालाब का जल छिड़का, जिसकी कुछ बून्दें शिवलिंग पर भी जा गिरीं। ऐसा करते समय उसका एक तीर नीचे गिर गया, जिसे उठाने के लिए वह शिव लिंग के सामने नीचे को झुका। इस तरह शिवरात्रि के दिन शिव-पूजन की पूरी प्रक्रिया उसने अनजाने में ही पूरी कर ली। मृत्यु के बाद जब यमदूत उसे लेने आए, तो शिव के गणों ने उसकी रक्षा की और उन्हें भगा दिया।

किन राशियों पर होगी महादेव की कृपा

वृषभ राशि

इस राशि के लोगों पर शिव जी की विशेष कृपा रहेगी। आपके रुके हुए सभी काम पूरे होंगे। आपको सफलता और आय के नए स्रोत प्राप्त होंगे। महाशिवरात्रि का दिन आपके लिए बहुत ही लाभदायक रहेगा।

मिथुन राशि

इस राशि के लोगों के लिए महाशिवरात्रि आर्थिक दृष्टि से लाभप्रद रहेगी। आपको धन वृद्धि और व्यवसाय में लाभ मिलेगा। नौकरीपेशा लोगों के लिए महाशिवरात्रि बहुत लाभदायक रहेगी।

तुला राशि

इस राशि के लोगों के लिए व्यापार में लाभ के योग बन रहे हैं। बेरोजगार लोगों को रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे।

धनु राशि

इस राशि के जो लोग अपना काम शुरू करना चाहते हैं, उनके लिए यह टाइम उचित है। इस समय शुरू किए गए इस काम से आगे चलकर बहुत लाभ मिलेगा।

उपरोक्त राशि वालों पर महादेव भगवान भोले शंकर की विशेष कृपा रहेगी। लेकिन अन्य राशि वालों को घबराने की आवश्यकता नहीं है। यहाँ दिये उपायों में से किसी भी उपाय को अपनाकर दूसरी राशि वाले भी भगवान शिव को प्रसन्न करके उनकी कृपा पा सकते हैं। (यहां देखें: महाशिवरात्रि पर महादेव को प्रसन्न करने के अचूक उपाय)

कैसे करे व्रत और पूजा की विधि

  • मिट्टी के लोटे में पानी या दूध भरकर, ऊपर से बेलपत्र, आक-धतूरे के फूल, चावल आदि डालकर ‘शिवलिंग’ पर चढ़ाना चाहिए। अगर आस-पास कोई शिव मंदिर नहीं है, तो घर में ही मिट्टी का शिवलिंग बनाकर उनका पूजन किया जाना चाहिए।
  • शिव पुराण का पाठ और महामृत्युंजय मंत्र या शिव के पंचाक्षर मंत्र ॐ नमः शिवाय का जाप इस दिन करना चाहिए। साथ ही महाशिवरात्री के दिन रात्रि जागरण का भी विधान है।
  • शास्त्रीय विधि-विधान के अनुसार शिवरात्रि का पूजन ‘निशीथ काल’ में करना सर्वश्रेष्ठ रहता है। हालाँकि भक्त रात्रि के चारों प्रहरों में से अपनी सुविधानुसार यह पूजन कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:-

महाशिवरात्रि पर इन 14 फूलों से करें महादेव को प्रसन्न

जानिये आप में से किस पर होगी धन की बारिश महाशिवरात्रि पर

हिन्दू धर्म के बारे में रोचक जानकारियां

20 हिन्दू परम्पराओं के पीछे वैज्ञानिक कारण