भारतीय रेल के बारे में आश्चर्यजनक तथ्य

2270

भारतीय रेलवे दुनिया का चौथा सबसे बड़ा रेल नेटवर्क है. भारत में रेल से हर रोज़ लगभग 2.5 करोड़ लोग यात्रा करते हैं. यह संख्या यूरोप के कई देशों की कुल जनसंख्या से अधिक है. आज हम आपको बताएंगे दुनिया के चौथे सबसे बड़े रेलवे नेटवर्क भारतीय रेल के कुछ आश्चर्यजनक तथ्यों के बारे में:-

उच्चतम रेल पुल निर्माण

Highest-Bridgeभारतीय रेलवे जम्मू-कश्मीर में चिनाब नदी पर उच्चतम रेल पुल निर्माण कर रहा है. यह पुल कुतुब मीनार से पांच गुना उँचा और एफिल टॉवर से भी लम्बा होगा. जानकारी के मुताबिक 1250 करोड़ रुपये की लागत से बन रहे इस पुल को जून 2019 तक पूरा हो जाना था, लेकिन बाद में इसे दिसंबर 2019 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया.

ट्रेन ड्राइवर का बेतन एक लाख से अधिक हैं

Riding-the-Raj-railwayट्रेन ड्राइवर का बेतन एक औसत सॉफ्टवेयर इंजीनियर की तुलना में कही अधिक है. इनका बेतन प्रति महीने 1 लाख से अधिक होता है.

भारतीय रेल की वेबसाइट की लोकप्रियता

Indian-Railway-Websiteभारतीय रेल की वेबसाइट पर प्रति मिनट करीब 12 लाख हिट होते हैं. IRCTC.com पर प्रति घंटा हिट सबसे लोकप्रिय भारतीय वेबसाइटों में से कुछ की वार्षिक यातायात की तुलना में अधिक है.

सबसे धीमी ट्रेन

Indian-Trainसबसे धीमी ट्रेन की रफ्तार 10 किलोमीटर प्रति घंटा की है. आप इस ट्रेन से कूद सकते हैं, बाहर बैठकर चाय पी सकते हैं और फिर इस पर चढ़ सकते हैं. ये ट्रेन मेत्तूपलायाम ऊटी नीलगिरी पैसेंजर ट्रेन है.

1909 में भारतीय रेल में शुरु हुए शौचालय
amazing_indian_railway5

वर्ष 1909 में भारतीय रेल के अस्तित्व में आने के 50 साल बाद ट्रेन के डिब्बों में ट्वायलेट की व्यवस्था की गई. अखिल चन्द्र सेन नामक एक व्यक्ति ने रेलवे को इस बावत चिट्ठी लिखी थी.

सबसे लंबे नाम का स्टेशन

amazing_indian_railway6

सबसे लंबे नाम का स्टेशन वेन्कटनरसिम्हाराजवारीपेटा (Venkatanarasimharajuvaripeta) है और इस नाम को श्री उपसर्ग के साथ बोला जाता है. यह स्टेशन चेन्नई के नजदीक अराकोनम-रेणिगुंटा सेक्शन पर स्थित है.

सबसे अविश्वसनीय ट्रेन

Riding-the-Raj-railwayभारतीय रेलवे में सबसे अविश्वसनीय ट्रेन गुवाहाटी- त्रिवेंद्रम एक्सप्रेस है. इस ट्रेन के टाईम-टेबल का कोई भरोसा नहीं. यह आम-तौर पर 10 से 12 घंटे लेट होती है.

दुनिया के कुछ ख़तरनाक रेल रूट – कहीं है 4,220 मीटर ऊंचाई तो कहीं है गहरी खाई

भारतीय ट्रेनों में प्रतिदिन सफर करने वाले यात्री

full-loaded-local-train

भारतीय ट्रेनों में प्रतिदिन 2.5 करोड़ से भी अधिक यात्री सफर करते हैं. यह संख्या ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड और तस्मानिया की कुल आबादी जितनी है.

भारतीय रेल की पटरियां

भारतीय रेल की पटरियां इतनी लम्बी हैं कि यह पृथ्वी को 1.5 बार नाप सकती हैं.

सबसे छोटे नाम का स्टेशन

IB नाम का यह स्टेशन उड़ीसा में है. इस रेलवे स्टेशन का नाम सबसे छोटा है.

सबसे लम्बी दूरी तय करने वाली ट्रेन

देश में सबसे लम्बी दूरी तय करने वाली ट्रेन का नाम है विवेक एक्सप्रेस. विवेक एक्सप्रेस 4273 किलोमीटर की दूरी तय करती है. यह असम के डिब्रूगढ को सुदूर दक्षिण में स्थित कन्याकुमारी से जोड़ती है.

सबसे कम दूरी तय करने वाली ट्रेन

सबसे कम दूरी नागपुर और अजनी स्टेशन के बीच है. इन दोनों स्टेशनों के बीच सिर्फ तीन किलोमीटर की दूरी है.

सबसे लंबी नॉन स्टॉप ट्रेन


त्रिवेंद्रम-निजामुद्दीन राजधानी एक्सप्रेस भारत की सबसे लंबी नॉन स्टॉप ट्रेन है. यह ट्रेन वड़ोदरा से कोटा के बीच 528 किमी. की दूरी महज 6.5 घंटे में बिना रुके पूरी करती है.

दो राज्यों के बीच एक स्टेशन


‘नवापुर’ देश का ऐसा रेलवे स्टेशन है, जो दो राज्यों की सीमा के अंतर्गत आता है. इसका आधा हिस्सा महाराष्ट्र की सीमा में आता है, और बाकी का आधा हिस्सा गुजरात की सीमा में है.

सबसे बड़ा रेल म्यूजियम

दिल्ली में एशिया का सबसे बड़ा रेल म्यूजियम है. यहां आपको रेलों के अलग-अलग मॉडल देखने को मिल सकते हैं. अगर आपको रेलों से प्रेम है, तो यहां आपको रेलों के बारे में नायाब जानकारियां मिल सकती हैं.

यह भी पढ़ें:-

जानिए क्यों ख़ास है कालका-शिमला रेल मार्ग

105 साल पुराने ऐतिहासिक रेल इंजन का होगा काया-कल्प