जानिए बच्चों को सर्दी खांसी से बचाने के कुछ उपाय

30

जानिए बच्चों को सर्दी खांसी से बचाने के कुछ उपाय

1-10 साल के बच्चों को सर्दी खांसी से बचाने के लिए आप दो मुहलथी के टुकड़े, हरड़, देशी अजवायन, हींग की एक छोटी डली लेके मिश्रण को पीस कर एक पतले कपड़े में डालकर धागे में बांध कर बच्चे के गले में डाल दें। जिससे उसकी छाती गर्म रहेगी और उसकी गंध नाक से जाती रहेगी और उसका नाक भी बंद नहीं होगा। इस उपाय को अपनाकर आप बच्चों को सर्दी -खांसी से बचा सकते हैं। इसका कोई दुष्प्रभाव (side effect) भी नहीं है। खास कर छोटे बच्चों पर ये उपाय आपको डॉक्टर के पास जाने से बचाएगा।

बच्चों की इम्युनिटी सिस्टम को मजबूत करने से हम उन्हें कई बिमारियों से बचा सकते हैं। यह उपाय इतना सस्ता है कि आप बाज़ार में मिलने वाले bornvita, horlicks, इम्युनिटी बूस्ट जैसे उत्पादों को भूल जाओगे जो आपके बच्चों में शुगर लेवल को ही बढ़ाते हैं।

इम्युनिटी बूस्ट उपाय

  1. कथ का एक टुकड़ा, काली मिर्च 10 और काला नमक लेके उनको अच्छे से पीस लें। अब 25gm पनीर का टुकड़ा लेना है और रोज रात को सोने से पहले बच्चे को इस मिश्रित नमक के साथ देना है। आप हर रात को अपने बच्चों को इस नमक के साथ पनीर खिलाएं। आपके बच्चों की इम्यूनिटी सिस्टम धीरे धीरे मजबूत होता चला जायेगा और आप का बच्चा बार बार बीमार नहीं होगा।
  2. हल्दी वाला दूध – 1 कप दूध, 1 /4 हल्दी पाउडर, 2 काली मिर्च मिलाये और उस दूध को अब अच्छे से उबाले। स्वाद के लिए थोड़ा सा शहद भी मिला सकते है।
  3. बच्चों को हमेशा तुलसी की पत्तियां चबाने को दें।तुलसी एंटीवायरल और एंटी इंफ्लेमेटरी औषधी है। तुलसी बच्चों की इम्युनिटी को बढाती है।
  4. च्वनप्राश – बच्चों को दूध के साथ च्वनप्राश 2 बार खाने को दें। इसमें कई जड़ी -बूटियाँ होती है जो बच्चों के शरीर को गर्म रखती है।
  5. बच्चों को खजूर जरूर खिलाएं।
  6. अगर आप अंडा खाते हो तो उसे उबला हुआ अंडा हर दिन खिलाएं।
  7. बच्चों को पालक जरूर खिलायें। पालक में फॉलेट पाया जाता है जो शरीर में नई कोशिकाएं बनाने के साथ कोशिकाओं में मौजूद DNA की मुरमत भी करता है। आप बच्चों को पालक की रोटी बनाकर भी दे सकते हैं।
  8. त्रिफला -अगर आपका बच्चा बड़ा है तो आप उसे त्रिफला चूर्ण आधा चमच्च गुनगुने पानी के साथ शाम में लेने से इम्युनिटी बढ़ती है।
  9. गिलोय का रस – नियमित रूप से गिलोय का रस पिने से डायबटीज, शुगर, केलेस्ट्रॉल जैसी बिमारियों से बचा जा सकता है। साथ में गिलोय का रस इम्युनिटी सिस्टम को मजबूत करता है। चार इंच गिलोय के टुकड़े को छोटा छोटा करके काट लें। अब चार कप पानी में एक चौथाई चमच्च हल्दी के साथ पेस्ट को उबाल लें जब मिश्रण एक कप बच जाये तो उसमें एक चुटकी काली मिर्च मिला लें। अब सुबह खाली पेट गुनगुने पानी में इस मिश्रण को डाल कर पीने से इम्युनिटी बढ़ती है।
    इसके साथ आप बच्चे को सर्दी, जुकाम, फ्लू , और गले में खराश होने पर डॉक्टर से हमेशा ऐंटीबायोटिक दवा के लिए सलाह न लें। ऐटीबॉयोटिक्स के ज्यादा इस्तेमाल से बच्चों की प्रतिरोधक क्षमता कम हो जाती है और वे इन दवाओं के आदि हो जाते हैं। एक माँ होने के नाते मैं आपको यह सलाह देती हूँ कि आप इन घरेलू उपाय को अपनाकर सर्दी खांसी से बच्चों को बचा सकते हैं। बच्चों को सर्दी जुकाम होने पर 2-3 दिन के बाद ही ऐंटीबायोटिक दें वो भी डॉक्टर के कहने पर। बच्चों को बाहर के खाना जंक फ़ूड पैकेट बंद ,मीठी चीजें और प्रोसेस्ड फ़ूड न दें। बच्चों के लिए सुपर फ़ूड बेस्ट होता है इसमें हम आंवला, अलसी के बीज, नींबू , गाजर, जामुन, जौ से बनी रोट, चने मशरूम शकरकंदी आदि खिलाएं। ” प्रोबायोटिक और अच्छे बैक्टीरया ” आंत के मार्ग के लिए बहुत उपयोगी होते है जो खराब बैक्टीरिया से बचाते हैं। ये इम्युनिटी पर धनात्मक प्रभाव डालते हैं। दही, छाछ और बेबी फ़ूड प्रोबायोटिक फ़ूड खाने में जरूर उपयोग करने चाहिए। बच्चा जितना फिजिकल एक्टिविटी करेगा उसका शारीरिक विकास और मानसिक विकास अच्छा होगा। ये सब बच्चों की इम्युनिटी सिस्टम को मजबूत बनाता है।