आईये जानते है कि कब तक चलेगा आपका प्यार

248

अक्सर प्यार में छोटी -छोटी  बातों से कुछ रिश्ते टूट जाते है, और कई बार प्यार का रिश्ता जीवन भर का  बन जाता है. ऐसे में प्यार के अलग-अलग ढंग होने के कारण इसको कुछ हिस्सों में बांट दिया गया है. जिससे आप पता कर सकते है कि आपका प्यार कब तक चलेगा और किस श्रेणी में से है.

नाटकीय

यदि आपका संबंध उतार-चढ़ाव से भरा हुआ है, तो आप प्यार के पहले समूह मे शामिल हैं| जिनको ‘नाटकीय ‘ कहा जाता है|

वैज्ञानिकों ने माना है, कि इस समूह में रहने वाले जोड़ों के प्यार में निरंतरता नहीं होती है और वह अक्सर अपने संबंधों की नकारात्मक बातों को यह कहकर जायज़ ठहराते है, कि उन दोनों का साथ अच्छा नहीं है| वह अपने साथी पर हमेशा यह आरोप लगाते हैं कि वह एक दूसरे को वक्त नहीं देते |ऐसे में अगर उनका रिश्ता टूट जाता है तो इसमे कोई हैरानी की बात नहीं है क्योंकि, इन जोड़ों के संबंध के टूटने की सम्भावनाएं सबसे ज्यादा होती है|

झगड़ालू

नाटकीय जोड़ों के साथ ही वैज्ञानिकों ने दुसरे समूह की पहचान की है, जिनको ‘झगड़ालू’ कहा जाता है| इस समूह में शामिल जोड़े एक-दुसरे से बहुत बहस करते हैं|

हालांकि, नाटकीय जोड़ों के विपरीत इनके संबंध टूटने की सम्भावनाएं कम होती हैं और भविष्य में भी इनके संबंधों में बिगड़ाव दिखाई नहीं देता है|

सामाजिक

तीसरा समूह सामाजिक मेल-मिलाप वाला है, जो सामाजिक स्वीकार्यता को उच्च महत्व देता है | ऐसे में जोड़े अपने अच्छे संबंधों का श्रेय सामाजिक कारणों को भी देते रहते हैं|

इस श्रेणी के जोड़ों के प्यार का भवष्यि उज्ज्वल रहता है, क्योंकि वह सांझे समाजिक के ताने-बाने को समान महत्व देते हैं, और अपने साथी को अपना प्रेमी ही नहीं, ‘सच्चा दोस्त’ भी मानते हैं |

 प्रतिबद्ध

अंतिम तथा सबसे सफल स्मूह को प्रतिबद्ध माना जाता है|इस समूह के जोड़ों के संबंध में अनेक सकरात्मक मोड़ आते है,और अपने प्यार की सफलता का श्रेय एक-दुसरे के सांझेपन के साथ ही एक-दुसरे की जरूरतों का भी ध्यान रखते है|

शायद ही किसी को हैरानी होगी, कि इस समूह में शामिल जोड़ों के संबंध टूटने की सम्भावनाएं सबसे कम होती हैं, और वह हमेशा अपने प्यार को अपना प्रमुख उद्देश्य मानते हैं |

http://fundabook.com/indian-rulers-kings-with-weird-interests/