दुनिया का एक ऐसा गांव, जहाँ के लोग सिर्फ इशारों में ही बात करते हैं !!!

विश्व में एक ऐसा गांव भी है जहां लोग बोलने की अपेक्षा हाथों के इशारों से ही बातें करते हैं. हो गए ना आप भी हैरान? जी हां हम बात कर रहे हैं, इंडोनेशिया के बेंगकला गांव की. बेंगकला गांव के लोग सिर्फ हाथों के इशारों से ही बातें करते हैं. इस गांव के लोग हाथों के इशारों से ही अपने सुख-दुखों को एक दूसरे के साथ बांटते हैं.

indonesian-village-bengklaबेंगकला गांव के लोगों को डीफ विलेज के नाम से भी जाना जाता है. बेंगकला गांव की एक हैरान करने वाली बात ये भी है इस गांव के लोग घर परिवार में ही नहीं, बल्कि यहां के अधिकतर दफ्तरों में भी हाथों के इशारों से ही बातें करते हैं.

बेंगकला गांव में सारी व्यवस्था यहाँ के स्थानीय लोग ही संभालते हैं. बेंगकला गांव में बोली जाने वाली इस सांकेतिक भाषा को काटा कोलोक भाषा कहा जाता है. ऐसा माना जाता है कि यह भाषा सैकड़ों साल पुरानी है.

बेंगकला गांव के अधिकतर लोग बोलने और सुनने में सक्षम नहीं हैं. इस गांव के बच्चे जन्म से ही बोलने और सुनने की बीमारी से ग्रस्त हो जाते हैं. अभी भी यह बीमारी एक रहस्य बना हुआ है लेकिन फिर भी लोग इस बीमारी को भौगोलिक स्थिति का कारण बताते हैं.

नवीनतम