दुनिया के 6 सबसे खतरनाक आइलैंड

आइलैंड स्थलखण्ड के ऐसे भाग होतें हैं, जिनके चारों ओर जल का विस्तार पाया जाता हैं। आकार में द्वीप छोटे भी हो सकते हैं तथा बड़े भी। इनका आकार कुछ वर्ग मीटर से लेकर ह्ज़ारों वर्ग किलोमीटर तक पाया जाता हैं। आज हम आपको बताएंगे दुनिया के 6 सबसे खतरनाक आइलैंड के बारे में.

स्नेक आइलैंड, ब्राजील

snake-island-ilha-de-queimada-grandeब्राज़ील के साओ पाउलो (Sao Paulo) प्रान्त की समुद्री सीमा से 33 किमी दूर स्थित इस द्वीप यानि आइलैंड का नाम इल्हा दे क्वेइमाडा ग्रैंड (Ilha de Queimada Grande) है. इस खतरनाक आइलैंड को स्नेक आइलैंड (Snake Island) यानि सर्प-द्वीप कहा जाता है. यहाँ पर सांपो की संख्या इतनी अधिक है कि हर एक वर्ग मीटर में पांच सांप रहते हैं. यहाँ पर 4,000 प्रकार के सांप पाए जाते हैं. इस आइलैंड का क्षेत्र 4 लाख 30 हज़ार वर्ग मीटर हैं. इस आइलैंड पर करीब 20 लाख पिट वाइपर (Pit Viper) प्रजाति के जहरीले सुनहरी भालाग्र (Golden Lancehead) सांप रहते है.

golden-lancehead-snake-island-brazil

इन सांपो की गिनती विश्व के सबसे जहरीलें सांपो में होती है. स्नेक आइलैंड Golden Lance head सांपों का एक मात्र घर है. इस द्वीप पर जाने पर पाबंदी है.

री-यूनियन आइलैंड, अफ्रीका

reunion-islandरीयूनियन द्वीप अफ्रीका में स्थित एक द्वीप है. यह हिन्द महासागर में मैडागास्कर के पूर्व में 200 किमी और मॉरीशस के दक्षिण में स्थित है. यह द्वीप अफ्रीका का लोकप्रिय पर्यटन स्थल भी है, लेकिन इस 40 मील लंबे आइलैंड में शार्को की मौजूदगी चिंता का विषय है. शार्को ने 2011 और 2015 के बीच सत्रह हमले किये, जिनमें से 7 लोग मारे गये. पिछले कुछ सालों में यहाँ शार्को द्वारा हमला करने के मामलों में 13% की बढ़ोतरी हुई है. लगभग आधे से ज़्यादा तटों पर तैराकी की पाबंदी है.

प्रोवेग्लिया आइलैंड, इटली

इटली में एक ऐसा द्वीप है, जिसे ‘आइलैंड ऑफ डेड’ के नाम से जाना जाता है. माना जाता है कि यहाँ जाने वाले लोगों का जिंदा लौट कर पाना मुश्किल है. इस आइलैंड से जुड़ी हुई एक खौफनाक कहानी है, जिसके कारण लोग यहाँ जाना भी नहीं चाहेंगे. कहा जाता है कि सैकड़ों साल पहले इस आइलैंड पर प्लेग (Plague) के मरीज़ों को लाकर मरने के लिए छोड़ दिया जाता था. बाद में ब्लैक डेथ यानि काला बुखार के समय भी इस आइलैंड का इस्तेमाल किया गया.

poveglia-islandजो लोग मर जाते थे, उन्हें यही दफना दिया जाता था. बाद में मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए लगभग 1 लाख 60 हजार बीमार लोगों को ज़िंदा जला दिया गया. इसके बाद से लोग इस जगह को भुतहा मानने लगे और यह आइलैंड पूरी तरह से वीरान हो गया.

ग्रुइनार्ड आइलैंड, स्कॉटलैंड

dangerous-islands-gruinard-islandस्कॉटलैंड के ग्रुइनार्ड की खाड़ी में बसा छोटा सा द्वीप है ग्रुइनार्ड. ये आइलैंड करीब 2 किलोमीटर लंबा और 1 किलोमीटर चौड़ा है. द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान ब्रिटेन ने इस आइलैंड पर एंथ्रेक्स नाम के जहरीले गैस का परीक्षण किया था, जिसकी वजह से यहाँ जाना खतरनाक है. इस गैस की चपेट में आने पर पहले हल्का बुखार आता है. थोड़े समय बाद आंतरिक रक्तस्राव की वजह से इंसान की मौत हो जाती है. इस गैस की सबसे खतरनाक बात ये है कि इसका असर किसी जगह पर कई सालों तक रहता है.

मियाकेजीमा इजू आइलैंड, जापान

मियाकेजीमा इजू आइलैंड (Miyakejima Izu Island Japan) जापान में स्थित है. यह द्वीप अपने गैस मास्क टूरिज्म के लिए प्रसिद्ध है. यहाँ पर हर इंसान मास्क पहने रहता है, क्योंकि यहाँ की हवा में जहरीली गैसों की मात्रा सामान्य से बहुत अधिक स्तर तक पहुच गयी है. इजू आइलैंड में पिछली एक सदी में कई बड़े ज्वालामुखी विस्फोट हो चुके है.

miyakejima-izu-island-japanपिछला बड़ा विस्फोट सन् 2000 में हुआ था. यह बहुत ही भयंकर विस्फोट था, जिसमें लावा के साथ साथ बड़ी मात्रा में जहरीले गैसें (मुख्यत सल्फर डाई ऑक्साइड) निकली थी. इतना ही नहीं ज्वालामुखी के शांत होने के बाद भी इन जहरीली गैसो का निकलना जारी रहा. तभी से लोग 24 घंटे मास्क पहनने लगें. 2006 में इस आइलैंड कि आबादी 2884 थी.

साबा आइलैंड

saba-islandसाबा आइलैंड कैरिबियाई समुद्र के बीच में मौजूद है. साबा आइलैंड की खूबसूरती देखने लायक है. 13 स्क्वेयर किलोमीटर में बसे इस छोटे आइलैंड पर मात्र दो हजार लोग रहते हैं. समुद्री तूफान के कारण यह जगह बहुत ही खतरनाक है. सन 1997 के बाद यहाँ भूकम्प के झटके काफी बढ़ गए हैं. यहाँ की जमीन कभी भी डोलने लगती है. इस वजह से माना जाता है कि इस आइलैंड में कभी भी भयंकर ज्वालामुखी विस्फोट हो सकता है.

यह भी पढ़ें: