विश्व के 10 सबसे छोटे देश!

दुनिया के सबसे बड़े देशों के बारे में तो सब लोग जानते होगें, पर क्या कभी आपने दुनिया के सबसे छोटे देशों के बारे में जानने की कोशिश की है कि दुनिया के सबसे छोटे देश कौन-कौन से हैं और उनकी जनसंख्या व् क्षेत्रफल कितना हैं. दुनिया में कई ऐसे देश हैं, जिनका क्षेत्रफल एक शहर व् गाँव के बराबर भी नहीं है, तो आइए जानते हैं, दुनिया के ऐसे ही देशों के बारें में ..

वेटिकन सिटी (Vatican City) – 0.44 km²

vatican-city

वेटिकन शहर यूरोप महाद्वीप में स्थित एक देश है. यह दुनिया का सबसे छोटा देश है. जबकि इस देश में कई ऐसी शानदार ईमारते है, जो लोगों का ध्यान अपनी ओर खीचतीं हैं. दुनिया के सबसे छोटे शहर वेटिकन का क्षेत्रफल 0.44 वर्ग किलोमीटर है और 2015 में यहाँ की जनसंख्या लगभग 1,000 थी.

मोनाको (Monaco) – 2 km²

monaco

मोनाको शहर, यूरोप महाद्वीप में स्थित है. फ़्रांस और इटली के बीच स्थित मोनाको दुनिया का दूसरा सबसे छोटा देश है. मॉन्टे कार्लो इसका मुख्य नगर है. इसकी राजभाषा फ़्रांसिसी भाषा है. यहाँ दुनिया के किसी भी देश से ज़्यादा प्रतिव्यक्ति करोड़पति हैं. मोनाको शहर, समुद्र के किनारे बसा होने के कारण इसका क्षेत्रफल महज 2.02 वर्ग किलोमीटर ही रह गया है. यह पर्यटन के दृष्टिकोण से बहुत ही खुबसूरत देश है. मोनाको शहर की कुल जनसंख्या 37,863 के करीब है.

नौरु (Nauru) – 21 km²

nauru

नौरु, आधिकारिक तौर पर नौरु गणराज्य, मैक्रोनेशियाई दक्षिण प्रशांत महासागर में स्थित द्वीप है. यह विश्व का सबसे छोटा स्वतंत्र गणराज्य और दुनिया का सिर्फ एक मात्र ऐसा गणतांत्रिक राष्ट्र है. जिसकी कोई राजधानी नहीं है. दुनिया का तीसरा सबसे छोटा देश नौरु का क्षेत्रफल 21.3 वर्ग किलोमीटर है. इस देश के पास अपनी कोई सेना नहीं है. नौरु की जनसंख्या 10,084 के करीब है.

तुवालु (Tuvalu) – 26 km²

tuvalu

तुवालू आस्ट्रेलिया के बीच स्थित एक पोलिनेशियाई द्वीपीय देश है. यह देश चार द्वीपों से मिलकर बना है. 26 वर्ग किलोमीटर में फैला तुवालु शहर दुनिया का चौथा सबसे छोटा देश है. इससे कम आबादी वाले देशों में केवल वेटिकन सिटी, मोनाको और नौरु ही हैं. 26 वर्ग किलोमीटर में फैले तुवालु को 1978 में ब्रिटेन से आज़ादी मिली थी. तुवालू की जनसंख्या 10,022 के करीब है.

सैन मैरिनो (San Marino) – 61 km²

san-marino

दुनिया के सबसे छोटे देशों की सूची में पांचवां स्थान सैन मैरिनो का आता है. सैन मैरिनो को यूरोप का सबसे पुराना गणराज्य माना जाता है. इस देश की खोज सन 301 में की गई थी. सैन मैरिनो का क्षेत्रफल 61 वर्ग किलोमीटर में फैला है. सैन मैरिनो शहर की जनसंख्या 32,241 के करीब है.

लिक्टनस्टीन (Liechtenstein) – 160 km²

liechtenstein

लिक्टनस्टीन पश्चिमी यूरोप में स्थित एक छोटा स्थल सीमा वाला देश है. इसकी सीमा पश्चिम और दक्षिण में स्विटजरलैंड और पूर्व में आस्ट्रिया से मिलती है. महज 160.4 वर्ग किमी वाले इस देश की आबादी करीब 37,817 है. लिक्टनस्टीन शहर की राजधानी वादुज है और इसका सबसे बड़ा शहर श्चान है.

मार्शलद्वीप (Marshall Islands)

marshall-islands

मार्शल द्वीपसमूह प्रशांत महासागर के मध्य एक माइक्रोनेशियाई राष्ट्र है. मार्शल द्वीप अमेरिका से अलग होकर 1986 में अस्तित्व में आया था. लेकिन, इसके सुरक्षा की जिम्मेदारी आज भी अमेरिका के पास है. इसकी कुल जनसंख्या 54,677 के करीब है.

सेंट किट्स एवम नेविस (Saint Kitts and Nevis)  – 261 km²

saint-kitts-and-nevis

सेंट किट्स और नेविस संघ, वेस्ट इंडीज में लीवार्ड द्वीप पर स्थित देश है. क्षेत्रफल और जनसंख्या के लिहाज से यह दक्षिण अमेरिका और उत्तरी अमेरिका का सबसे छोटा देश है. सेंट किट्स एवम नेविस का क्षेत्रफल 261 वर्ग किलोमीटर है. पूर्वी कैरेबियन सागर में स्थित इस देश के लोगों के इनकम का प्रमुख जरिया पर्यटन और खेती है. सेंट किट्स एवम नेविस की कुल जनसंख्या  56,017 के करीब है.

मालदीव (Maldives) – 300 km²

maldives

मालदीव आधिकारिक तौर पर मालदीव गणराज्य, हिंद महासागर में स्थित एक देश है, मालदीव एशिया का सबसे छोटा देश है. मालदीप दुनिया का नौवा सबसे छोटा देश है. मालदीप का कुल क्षेत्रफल 298 वर्ग किलोमीटर है. पर्यटन के दृष्टिकोण से मालदीव भी लोगों की पसंदीदा जगह है. मालदीव की कुल जनसंख्या  3,71,300 के करीब है.

माल्टा (Malta) – 316 km²

malta

माल्टा यूरोपीय महाद्वीप का एक विकसित देश है. माल्टा शहर का कुल क्षेत्रफल 316 वर्ग किलोमीटर है और इसकी कुल जनसंख्या  4,20,428 के करीब है.

यह भी पढ़ें:- 

नवीनतम