3 अप्रैल का इतिहास

2005

3 अप्रैल का इतिहास:-

  • 1325 – चिश्ती सम्प्रदाय के चौथे संत निजामुद्दीन औलिया का निधन।
  • 1680 – पश्चिम भारत में मराठा सम्राज्य की नींव रखने वाले छत्रपति शिवाजी का रायगढ में निधन।
  • 1903 – समाज सुधारक एवं स्वतंत्रता सेनानी कमलादेवी चट्टोपाध्याय का जन्म।
  • 1914 – भारतीय सेना के भूतपूर्व अध्यक्ष सैम मानेकशॉ का जन्म।
  • 1918 – प्रसिद्ध यूक्रेनी लेखक तथा उपन्यासकार ओलेस गोनचार का जन्म।
  • 1929 – मशहूर हिन्दी साहित्यकार निर्मल वर्मा का जन्म।
  • 1931 – साहित्यकार मन्नू भंडारी का जन्म।
  • 1942 – जापान ने द्वितीय विश्वयुद्ध में अमेरिका पर आखिरी दौर की सैन्य कार्यवाई शुरू की।
  • 1954 – राजनेता और फिजिशियन डॉ. के. कृष्णास्वामी का जन्म।
  • 1955 – गायक हरिहरन का जन्म।
  • 1962 – भारत की मशहूर अभिनेत्री जयाप्रदा का जन्म।
  • 2000 – ब्रिटेन में एक विवादास्पद नियम लागू किया गया, जिसमें यह कहा गया कि ब्रिटेन में शरण लेने वालों को कपड़े और खाने की चीजें खरीदने के लिए सरकार से कूपन खरीदने होंगे।
  • 2001 – संयुक्त राज्य अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन भारत यात्रा पर पहुँचे।
  • 2001 – भारत और डेनमार्क के बीच चार वर्ष के बाद पुन: वार्ता।
  • 2002 – पाकिस्तान के राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ़ की जनमत संग्रह की योजना को मंत्रिमंडल की मंजूरी मिली।
  • 2006 – नेपाल में माओवादियों ने संघर्षविराम की घोषणा की।
  • 2007 – नई दिल्ली में 14वां सार्क सम्मेलन शुरू।
  • 2008 – प्रकाश करात को माकपा का पुन: महासचिव चुना गया।
  • 2008 – मेधा पाटकर को राष्ट्रीय क्रांतिवीर अवार्ड, 2008 से अलंकृत किया गया।
  • 2010 – एप्पल का पहला आईपेड मार्केट में आया।
  • 2010 – भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के छह संस्थापक सदस्यों में से एक अनंत लागू का निधन।
  • 2017 – जयपुर घराने की अग्रणी गायिका किशोरी अमोनकर का निधन।