“एंट मिल” – चक्रव्यूह जिसमें मारी जाती हैं लाखों चींटियाँ!!

“एंट मिल” दुनिया का एक दुर्लभतम फंडा यानि phenomina है. इसमें लाखों चींटियां एक सर्किल में घूमने लगती हैं और अंततः बहुत बड़ी ट्रेजेडी का शिकार हो जाती हैं.

हम सभी जानते हैं कि, कीट विज्ञान के अनुसार, लगभग सभी चींटियाँ एक निश्चित मार्ग पर चलती हैं. यह मार्ग उनकी दृष्टि और गंध पर आधारित होता है. लेकिन कुछ ऐसी भी चींटियाँ होती हैं जो केवल गंध पर निर्भर होती हैं, क्योकिं ये पूरी तरह से अंधी होती हैं.

दक्षिणी अमेरिका में पाई जाने वाली जिन चींटियों के बारे में हम चर्चा कर रहे हैं यह चीटियाँ पूरी तरह से अंधी होती हैं. यह लगभग 2 लाख के झुंड में शिकार करती हैं और प्रतिदिन 1 लाख जीवों का शिकार करने में माहिर होती हैं.

चूंकि ये चींटियाँ एक दूसरे की गंध पर आधारित मार्ग पर चलती हैं, रास्ते से भटकने या गलती करने की सम्भावना लगभग शून्य होती है. लेकिन जब भी ये गलती करती हैं यह गलती बहुत ही भयंकर और प्राणघातक सिद्ध होती है.

गंध पर आधारित रास्ते पर चलने के कारण रास्ते में हल्का सा भटकाव इन्हें एक ऐसे अंतहीन चक्रव्यूह में फंसा देता है जिसका परिणाम केवल मौत ही होता है. अन्दर की और बनने वाला एक घुमावदार चक्र इन्हें एक ऐसे रास्ते पर चलने को मजबूर कर देता है जो इन्हें और अधिक अन्दर की और ले जाता है और अंत में इन्हें इतना थका देता है कि यह एक अंतहीन सफ़र में फंस कर रह जाती हैं और अंततः इनकी मौत हो जाती है.

अंधी होने के कारण इन्हें चक्राकार रास्ते पर चलने का अनुमान नहीं हो पाता है. आखिरकार एक ही रास्ते में हज़ारों चीटियाँ एक साथ चलने लगती हैं और थकान, कुचलने, भगदड़ और रगड़ से इनकी मौत होने लगती है.

अब तक की सभी बड़ी एंट मिल 1200 फुट के व्यास की है जिसमें हर एक चींटी को एक चक्कर काटने में अढ़ाई घंटे लगे थे.

 

Comments