खुशनुमा और सफल जिंदगी जीने के लिए 10 टिप्स!!

हम सब खुश रहना चाहते है. दरअसल एक हंसी-खुशी भरी जिंदगी ही हर इंसान व्यक्ति का मकसद है. क्या हम विपरीत परिस्थितियों में भी खुश रह सकते हैं?  क्या बहुत सारा धन, सम्पति, ऐशो-आराम और तमाम सुख-सुविधाएँ इंसान को खुश रख सकती हैं? दुर्भाग्य से, या शायद सौभाग्य से, ऐसा नहीं है.

यदि ऐसा होता तो हर अमीर व्यक्ति खुश होता. फिर खुश रहने का क्या रहस्य है? खुश होना और लम्बे समय तक खुश रहना इतना मुश्किल क्यों है?

यहाँ हम खुश चिंता-मुक्त होने के 10 आजमाए हुए तरीके बता रहे हैं . इन तरीकों को आजमा कर आप भी अपनी जिंदगी को बेहतर, और खुशनुमा बना सकते हैं.

1ज्यादा से ज्यादा मुस्कुराएं

ज्यादा से ज्यादा मुस्कुराने से आपकी जिंदगी की गुणवत्ता में सुधर होगा. आपको सिर्फ मुस्कुराना होगा और यकीन करें इससे आपकी जिन्दगी पहले से अच्छी हो जाएगी. कई लोग सुबह 5 मिनट तक लगातार मुस्कुराते हैं, ऐसा करने से उनका सारा दिन अच्छा निकलता है.

2जिंदगी को ज्यादा गंभीरता से न लें

जिंदगी को ज्यादा गंभीरता से लेने की जरुरत नहीं है. जिंदगी बहुत छोटी है अगर आपने इसको ज्यादा गंभीरता से लिया तो यह आपसे आपकी ख़ुशी, मजे और आपकी उत्पादकता यानि प्रोडक्टिविटी छीन लेगी. गंभीरता आपका तनाव बढ़ा देती है और यह आपकी रचनात्मकता व नएपन को भी उड़ा देगी. इसका मतलब है सुने-सुनाये जोक्स पर भी हंसा जा सकता है!

3अपने विचारों को सकारात्मक रखें

आपने लोगों को बहुत ही साधारण सी लगने वाली बात कहते हुए सुना होगा कि चिंता मत करो और सकरात्मक सोचो. ज्यादातर लोग इस बात को नज़रअंदाज करते हैं. दरअसल वे इन बातों की गहराई को नहीं समझ पाते. नकरात्मक सोच एक ऐसी फिल्म की तरह है जिसमें केवल वही दिखता है जो आपको दुखी करता है. पढ़ें नकारात्मक लोगों के बीच खुद को सकारात्मक कैसे रखें?

4गलती माफ़ करने की योग्यता को बढ़ाएं

माफ़ करने की योग्यता एक मानसिक, भावुक, आध्यात्मिक प्रक्रिया है जो आपकी नाराजगी और आपके गुस्से से आपको आजाद करता है. माफ़ करने की योग्यता बहुत कम व सुलझे हुए लोगों में होती है. गुस्सा और नाराजगी करने से आप एक अच्छे बनते हुए रिश्ते को गंवा सकते हैं.

5अपनी भावनाओं पर काबू करना सीखें

जिंदगी बहुत जटिल है और लोग इससे भी ज्यादा जटिल हैं. कहीं न कहीं हमें जिंदगी में बहुत मुश्किल और खराब लम्हों में से गुजरना पड़ता है. यह लम्हे हमें तनाव में डाल सकते हैं. अगर आप ने ऐसी स्थिति में अपने आप पर नियंत्रण नहीं रखा तो आप लंबे समय के लिए डिप्रेशन में जा सकते हैं. इसलिए आपको अपने आप ही इन मुश्किल हालातों का सामना करके आगे बढ़ने का जज्बा रखना होगा. पढ़ें: अपनी भावनाओं को काबू में कैसे रखें?

6आराम करें

जिंदगी की रफ्तार बढ़ने के साथ, हम सब को आराम की भी आवश्यकता होती है. आपको थोडा समय कुछ अपने लिए भी निकालना चाहिए और अपनी व्यस्त दिनचर्या से कुछ समय के लिए अलग हो जाना चाहिए. यह बात सच है कि काम करना आवश्यक है इसके साथ साथ आराम करना भी आपकी सेहत के लिए आवश्यक है. पढ़ें नींद न आने के कारण और समाधान

7आप वह करें जो आपको पसंद है

बहुत सारे लोग अपनी पूरी जिंदगी अपने काम में व्यस्त होने के कारन अपने शौक गवा देते हैं. लोगों को चाहिए कि अपने काम के साथ साथ अपनी पसंद के काम भी करते रहे, ताकि आप अपनी लाइफ का पूरा एन्जॉय कर सको. आप वही काम करें जो आपको पसंद है जिससे आपको ख़ुशी मिलती है.

8अपने दोस्तों को सावधानी से चुनें

अगर आप अच्छी जिंदगी जीना चाहते हैं तो आपको अपनी जिंदगी में अच्छे लोगों का साथ चाहिए होगा. अगर आप बेईमान, निर्दयी लोगों से घिरे हैं तो वह आपको बहुत बुरे तरीके से धोखा दे सकते हैं जिससे आपकी जिंदगी बहुत तनाव से भर सकती है. अगर आपके मित्र वफादार, दयालु, बुद्धिमान हैं तब आपकी जिंदगी सुखों से भरपूर होगी. इसलिए अपने दोस्त सावधानी से चुने. पढ़ें एक अच्छे मित्र या सच्चे मित्र के दस गुण

9रिश्तों को मत तोड़ें

हमेशा अच्छे संबंध बनाए रखें और रिश्तों की कद्र करें. अधिकतर नजदीकी रिश्तों में कोई आप से इससे ज्यादा कुछ नहीं चाहता कि आप खुश रहें और तरक्की करें. यदि आप किसी से दूर जा रहे हों तब भी रिश्तों को न तोड़ें. उदहारण के तौर पर यदि आप नौकरी छोड़ रहे हैं तो भी अपने बॉस से लड़ाई न करें. किराये का मकान बदल रहे हों भी पुराने मकान-मालिक से रिश्ता न तोड़ें बशर्ते वह भी इस रिश्ते की कद्र करते हों. पढ़ें टैक्नोलॉजी के रिश्तों पर पड़ने वाले दुष्प्रभाव

10अपना ध्यान अपने वर्तमान पर रखें

आप अपना ध्यान अपने वर्तमान पर रखें, आप इस समय, इस पल क्या कर रहे हैं, यह मायने रखता है. इसलिए अपने भूतकाल से सीखें, ताकि आप अपने वर्तमान में अपने भविष्य के लिए अच्छा करें. हमारे मन में भूतकाल की यादें और भविष्य काल की योजनायें आती रहती हैं इसलिए इन्हें अपने दिल-दिमाग पर हावी न होने दें. ध्यान लगाने से आप अपने मन को शांत कर सकते हैं. पढ़ें ध्यान कैसे लगायें

Comments