इस देश में होती है चुड़ैल की पूजा

89

आज हम आपको एक ऐसा रहस्य बताने जा रहे हैं जो शायद आपने पहले कभी नहीं सुना होगा। आपको देवी-देवतियां की पूजा के बारे में तो पता ही होगा, लेकिन क्या आपको पता है कि मैक्सिको में देवी की नहीं बलकि, एक चुड़ैल की पूजा की जाती है। मैक्सिको में रहने वाले लोग इसको मृत्यु की देवी ‘सांता मुएर्ते’ से पुकारते हैं।

इन देशों में हो रही है चुड़ैल की मान्यता

आपको बता दें कि जहां पर एक कंकाल को सजा कर मृत्यु देवी की पूजा की जाती है। अब तो इस माता में विश्वास रखने वालों की संख्या भी बढ़ती जा रही है। इसकी मान्यता मैक्सिको के अलावा, अब मध्य अमेरिका तथा कोलम्बिया में भी होने लग गई हैं। लोगों का यह विश्वास है कि मौत की देवी उनको बीमारी तथा दुःख से सुरक्षत करती है।

आगे पढ़ें:- पोवेग्लिया आइलैंड एक ऐसी जगह जहां से आज तक कोई वापिस नहीं लोटा
आगे पढ़ें:- क्या होगा अगर इस दरवाजे को खोल दिया जाए ?

मौत की देवी का संबंध पुरानी परम्परा से

कुछ लोगों का मानना है कि मैक्सिको में ‘सांता मुएर्ते’ को पूजने का संबंध वहां की परम्परा से है। उपनिवेशी काल में स्पेन द्वारा इस देश पर कब्ज़ा कर लेने के साथ यहां कैथोलिक धर्म का आगमन हुआ था। फिर भी गुप्त रूप से कई लोग इस मौत की देवी की पूजा करते रहे।

 सार्वजनिक रूप से मानने लगे लोग

जहां पहले लोग मौत की देवी के अनुयायी होने की बात को खुल कर स्वीकार नहीं करते थे, लेकिन अब वह इसे सार्वजनिक रूप से स्वीकार करने लगे हैं। कुछ स्थलों पर इससे जुड़े प्रार्थना स्थल भी खुल गए हैं।

लोकप्रिय प्रार्थना स्थल

एक महिला डोना कुएर्ता ने अपने घर में एक प्रार्थना स्थल बनाया है, जहां देश ही नहीं विदेशों से भी मृत्यु की देवी के अनुयायी आने लगे हैं। ऐसे प्रार्थना स्थलों में आमतौर पर कंकाल को सजा कर उसकी पूजा की जाती है। माना जाता है मैक्सिको में यह मृत्यु के देवता को समर्पित प्रथम सार्वजनिक प्रार्थना स्थल है, इसलिए इसकी लोकप्रियता सबसे ज्यादा है।

आगे पढ़ें:- दुनिया का एक अजूबा- सहारा रेगिस्तान की ‘रहस्यमयी आंख’

Comments