अनोखे आकर्षणों का केंद्र तेल अवीव

1117

रोथ्सचाइल्ड बोल्वार्ड इस शानदार शहर तेल अवीव के इतिहास का नज़ारा पेश करती है. यहाँ की कुछ सबसे मशहूर इमारतें तथा इंडिपेंडेंस हाल जैसे स्मारक यहाँ है. यही वह स्थान है जहाँ 1948 में इसराइल के प्रथम प्रधान मंत्री डेविड बेन गुरिओन ने इसराइल राष्ट्र की स्थापना की थी.इसके कुछ दिलचस्प स्थलों में एक है शहर का पहला कॉफ़ी कियोस्क जो आज भी काम करता है. यहाँ स्थित बैनेडिक्ट में चौबीस घंटे भोजन परोसा जाता है.

यहाँ 16 ख़ूबसूरत बीच है. इनमे से हर किसी में अपनी ही अलग ख़ास बात है. यहाँ के समुद्र तटों पर सैर सपाटे का आनंद लेने के लिए अप्रैल से अक्टूबर का वक़्त उपयुक्त माना जाता है. तेल अवीव के समुद्र तट फिटनेस ज़ोन से कम नहीं है. जहाँ स्थानीय लोग खुद को फिट रखने के लिए हर तरह की गतिविधियों में लिप्त दिखाई देते है. तट पर जगह जगह वर्कआउट स्टेशनस बने है. लोगों को यहाँ साइकिलिंग भी खासी पसंद है और शहर में 85 मील लम्बी साइकिलिंग लेंस बनी है. शहर के पर्यावरण हितैषी बाइक सिस्टम को ‘टेलीफोन’ कहते है.

समुद्र तट पर छोटी छोटी झोंपडियां भी बनी है. धूप तीखी होने पर ये बेहद काम आती है. कुछ लोग यहीं पर पिकनिक मनाने के लिए बास्केट में खाने-पीने की चीज़ें भरकर बैठे दिखाई दे जाते है. यहाँ स्ट्रीट आर्ट ख़ास लोकप्रीय है. इस जगह स्ट्रीट आर्ट हर जगह दिखाई देती है. ऐसा लगता है जैसे हर दीवार तथा कोने को कैनवस की तरह उपयोग किया गया है. यहाँ दिखने वाली कला राजनीतिक से लेकर विविध मुद्दों को छूती है.

यह शहर हर वर्ग का खुल कर स्वागत करता है तभी इसे खुले दिमाग तथा बेहद उदारवादी माना जाता है. जून में यहाँ समलैंगिकों की वार्षिक ‘गे प्राइड परेड’ भी आयोजित होती है. कई इमारतों तथा रेस्तराओं व दुकानों पर समलैंगिकों का प्रतीक ‘रेनबो फ्लैग’ फहराता भी दिखाई दे जाता है जो इस बात का प्रमाण है कि यह शहर कितना आजाद ख्याल है. यहाँ समुद्र तट के करीब पर्यटकों के लिए सैग्वे भी उपलब्ध है. थोड़े से अभ्यास से इन्हें चलाया जा सकता है जो एक बेहद दिलचस्प अनुभव बन जाता है.