मां दुर्गा के 32 नाम जपने से पूरे होंगे सारे कार्य, जानिए कैसे करें जाप!

254

नवरात्रि में मां दुर्गा की पूजा करने से सभी के दुख दूर हो जाते हैं और जीवन में सुख-शांति की बरसात होती है। साल भर में दो बार आने वाली किसी भी नवरात्रि में दुर्गा माता, भगवती की पूजा करने से हर व्यक्ति के मन की मुराद पूरी होती है।

ऐसी मान्यता है कि नवरात्रि के दिनों में मां भगवती के 32 नामों का जाप करने से जीवन में आने वाली हर बाधा और कष्टों से मुक्ति मिल जाती है। ॐ दुर्गा, दुर्गसाधिनी, दुर्गनाशिनी, दुर्गतिशमनी, दुर्गाद्विनिवारिणी समेत कुल 32 नामों का जाप करने से सभी के जीवन में उन्नति आती है।

कैसे करें दुर्गा के पावन नामों का जाप

  • किसी भी दिन या नवरात्रि में स्नानादि कार्यों से निवृत्त होने के बाद कुश या कंबल के आसन पर पूर्व या उत्तर की तरफ मुंह करके बैठें।
  • उसके बाद घी का दीपक जलाएं तथा मां दुर्गा को प्रिय उनके नामों की 5, 11 या 21 माला का जाप निरंतर नौ दिन तक करें।
  • साथ ही माता से अपनी सभी मनोकामना पूर्ण करने की याचना करें।

मां दुर्गा के 32 नाम

  1. ॐ दुर्गा,
  2. दुर्गतिशमनी,
  3. दुर्गाद्विनिवारिणी,
  4. दुर्गमच्छेदनी,
  5. दुर्गसाधिनी,
  6. दुर्गनाशिनी,
  7. दुर्गतोद्धारिणी,
  8. दुर्गनिहन्त्री
  9. दुर्गमापहा,
  10. दुर्गमज्ञानदा,
  11. दुर्गदैत्यलोकदवानला,
  12. दुर्गमा,
  13. दुर्गमालोका,
  14. दुर्गमात्मस्वरुपिणी,
  15. दुर्गमार्गप्रदा,
  16. दुर्गम विद्या,
  17. दुर्गमाश्रिता,
  18. दुर्गमज्ञान संस्थाना,
  19. दुर्गमध्यान भासिनी,
  20. दुर्गमोहा, दुर्गमगा,
  21. दुर्गमार्थस्वरुपिणी,
  22. दुर्गमासुर संहंत्रि,
  23. दुर्गमायुध धारिणी,
  24. दुर्गमांगी,
  25. दुर्गमता,
  26. दुर्गम्या,
  27. दुर्गमेश्वरी,
  28. दुर्गभीमा,
  29. दुर्गभामा,
  30. दुर्गमो,
  31. दुर्गोद्धारिणी
  32. दुर्गमापहा

लाभ

कोई भी व्यक्ति परेशानी या कठिनाई के समय में इन 32 नामों का उच्चारण करता है, तो कुछ ही समय में उसके सभी दुख दूर हो जाते है और वो आनंदपूर्वक जीवन व्यतीत करता है।

- Advertisement -

इस नाम स्त्रोत का प्रभाव अत्याधिक लाभदायक हैं। इस अदभुत स्त्रोत द्वारा जीवन के हर कष्ट व दुखों से हम तुरंत बहार निकल सकते हैं।