जाने प्याज काटते समय आंसू क्यों निकलते हैं, ऐसा क्या करें जिससे आंसू न आएं

18

प्याज ऐसी चीज है जिसके बिना सब्जी बनाना बेहद मुश्किल होता है। प्याज भले ही महंगा हो या हमें खूब रुलाए, लेकिन बिना इसके हम सब्जी नहीं बनाते, लेकिन क्या आप जानते हैं कि आखिर प्याज काटते समय हमें आंसू क्यों आते हैं ।

प्याज काटते समय आंसू क्यों आते हैं?

दरअसल प्याज में एक साइन-प्रोपेंथियल-एस-ऑक्साइड नामक रसायन पाया जाता है जो कि प्याज काटते समय हमारी आँखों की लेक्राइमल ग्लैंड को उत्तेजित करता है और इस वजह से आँखों में आंसू आ जाते हैं।

पहले वैज्ञानिकों का मानना था कि ऐसा प्याज में मौजूद एलीनेस नामक एंजाइम के कारण होता है लेकिन शोध में पाया गया कि  इसमें “लेक्राइमेट्री-फैक्टर सिंथेस नामक एंजाइम पाया जाता है और प्याज काटते समय इसमें से ये लेक्राइमेटरी-फैक्टर सिंथेस एंजाइम निकलता है।

ये एंजाइम प्याज के अमीनो एसिड को सल्फेनिक एसिड में बदल देता है और साथ ही सल्फेनिक एसिड, साइन-प्रोपेंथियल-एस-ऑक्साइड में बदल जाता है।

जब ये साइन-प्रोपेंथियल-एस-ऑक्साइड हवा के माध्यम से हमारी आँखों के संपर्क में आता है तो इसके कारण हमारी आँखों की लेक्राइमल ग्लैंड में परेशानी होती है और इससे आँखों में जलन और आंसू आने लगते हैं।

क्या करें जिससे आँखों से आंसू न निकले

  • प्याज को ठंडा करें

प्याज को काटने से पहले उसे फ्रीजर में 10-15 मिनट तक ठंडा होने के लिए रख दें।

  • गरम पानी या भाप के पास प्याज काटें

गरम केतली या गरम पैन के पानी से आपको मदद मिल सकती है | भाप प्याज से बाहर निकल रहे उसके एसिड को निष्क्रिय कर देती है |

  • प्याज को पानी में काटें

प्याज को बहते पानी या पानी से भरे कटोरे में काटने से भी आंसू नहीं आते।

  • प्याज को पानी में भिगोएं

प्याज को पानी में भिगोएं इससे प्याज के एंजाइम निष्क्रिय हो जाएंगे हालांकि ऐसा करने से उसके स्वाद में भी थोडा अंतर आ जाता है।

  • विनेगर का भी इस्तेमाल कर सकते हैं

आप चाहें तो प्याज को छिलकर कुछ देर के लिए विनेगर और पानी के घोल में भी डुबोकर रख सकते हैं।  ऐसा करने से भी आँखों में आंसू नहीं आएंगे।