किशोर कुमार के बारे में अजीबोगरीब तथ्य!

‘आभास कुमार गांगुली’ उर्फ़ किशोर कुमार की मखमली आवाज़ हम सब के दिलों को मोह लेती है. किशोर कुमार एक बहुमुखी-प्रतिभाशाली व्यक्ति थे. उनका दुनिया को देखने का एक अलग ही नज़रिया था, और वह हमेशा हंसते और हंसाते रहते थे. 18 अक्‍टूबर 1987 को इस महान गायक का  दिल का दौरा पड़ने की वजह से निधन हो गया था. यहाँ प्रस्तुत हैं, उनके बारे में 10 बेहद अजीबोगरीब, सनकीपन से भरी और कुछ अन्य बेहद रोचक बातें, जो शायद आपने अब तक ना सुनी हों.

चार शादियाँ

किशोर कुमार ने अपने जीवन में चार बार शादी की. उनकी पहली पत्नी एक बंगाली गायिका और अभिनेत्री रूमा घोष थी. दूसरी शादी उन्होंने मशहूर और खूबसूरत अभिनेत्री मधुबाला से की. योगिता बाली उनकी तीसरी पत्नी थी. चौथी शादी उन्होंने लीना चंदावरकर से की.

और.. हृषिकेश मुखर्जी को भगा दिया!

“आनंद” फिल्म किशोर कुमार करने वाले थे. फिल्म को लेकर चर्चा के लिए जब हृषिकेश मुखर्जी किशोर कुमार के घर गए, तो कुमार के चौकीदार ने उनको भगा दिया. हुआ ये कि, किशोर कुमार को एक स्टेज शो कराने वाले बंगाली ने पूरे पैसे नहीं दिए थे. नाराज़ होकर उन्होंने अपने चौकीदार को कह रखा था कि अगर कोई बंगाली आए, तो उसको गेट से ही भगा दे. चौकीदार ने गलती से मुखर्जी को बंगाली संयोजक समझ लिया था.

एकांत पसंद और सनकीपन

उन्होंने चार शादियाँ की, लेकिन वह असल ज़िंदगी में एकांत में रहना पसंद करते थे. कई लोग उन्हें सनकी भी कहते थे. ख़ास कर पैसे के लेन-देन के मामले में, वे बेहद सनकीपन वाली हरकतें करते थे. इसके कारण कुछ लोग ख़ास कर डायरेक्टर उनसे उलझना कम ही पसंद करते थे.

“किशोर से सावधान” का बोर्ड

“किशोर से सावधान”: किशोर कुमार ने अपने दरवाज़े के ऊपर “किशोर से सावधान” (Beware of Kishore) लिखवा रखा था. एक बार निर्देशक एचएस रवैल पैसे चुकाने उनके घर आए. पैसे चुका कर जब रवैल उनसे हाथ मिलाने लगे, तो किशोर ने रवैल के हाथ को मुँह में डाला और काटा भी. फिर बोले कि क्या उन्होंने बाहर लगा बोर्ड नहीं पढ़ा. मुखर्जी हंस पड़े और चलते बने.

जब निर्देशक ने अदालत से एग्रीमेंट लिया

किशोर कुमार की टाल-मटोल वाली हरकतों से तंग आकर एक निर्देशक ने अदालत से एग्रीमेंट लिया, ताकि यदि किशोर उनकी बात न माने, तो वे उन पर केस कर सकें. अगले दिन जब वे आए, तो वे कार में तब तक बैठे रहे, जब तक निर्देशक ने उतरने के लिए नहीं कहा. एक कार सीन की शूटिंग में किशोर कार चलाते-2 खंडाला पहुँच गए, क्योंकि निर्देशक “कट” कहना भूल गया था.

पूरे पैसे मिलने की गारंटी पर गाना

कुछ लोगों के मुताबिक किशोर कुमार गाना तब ही गाते थे, जब उनको यह यकीन हो जाता था कि उनको गाना गाने के बाद पूरे पैसे मिल जाएंगें.

“आधा पैसा आधा मेकअप”

एक रिपोर्ट में यह सामने आया कि एक बार किशोर कुमार आधा मेकअप लगाकर पहुंच गए. जब निर्देशक ने उनसे इसका कारण पूछा तो वे बोले, “आधा पैसा आधा मेकअप”.

“पांच हजार रुपया!”

एक बार निर्देशक एमवी रमन ने किशोर कुमार को बकाया 5000 रुपए का भुगतान नहीं किया. किशोर कुमार ने उनकी फिल्म में काम करने को मना कर दिया. बड़े भाई अशोक कुमार उन्हें मनाकर निर्देशक के पास ले गए. जब फिल्म की शूटिंग शुरू हुई, तब किशोर कुमार “पांच हजार रुपया”, ऐसे, गाने लगे और गुलाटियाँ मारने लगे. गुलाटियाँ मारते-2, वे दरवाज़े के पास पहुँच गए, और वहां से चलते बने!

इंटरव्यू देना पसंद नहीं करते थे

किशोर कुमार कभी भी मीडिया में रहना पसंद नहीं करते थे. उनको इंटरव्यू देना पसंद नहीं था. वह अपने आप में ही खुश रहते थे. हिंदुस्तान टाइम्स की एक रिपोर्ट में आया था, कि उनके रहने वाले कमरे में खोपड़ियां और हड्डियां रखी हुई हैं.

पेड़ उनके सबसे अच्छे मित्र!

एक बार रिपोर्टर ने किशोर कुमार से पूछा, कि वे अकेले रहना क्यों पसंद करते है , तब किशोर कुमार उस रिपोर्टर को लेकर अपने बगीचे में आ गए, और उन्होंने रिपोर्टर को पेड़ों के नाम बताए, जो उन्होंने रखे हुए थे. सभी पेड़ों के नाम बताकर उन्होंने कहा, कि यह पेड़ उनके सबसे अच्छे मित्र हैं.

नवीनतम