छुट्टियाँ बिताने के लिए उत्तम स्थान, शोजा गाँव

भागदौड़ भरी जिंदगी से बोर हो गए है और किसी एकांत वातावरण में छुट्टियाँ बिताने का विचार कर रहे है तो शोजा गाँव सबसे अच्छी जगह है. शोजा गाँव हिमाचल प्रदेश में जिला कुल्लू के औट नामक स्थान से केवल 40 किलोमीटर की दूरी पर प्राकृतिक दृश्यों के बीच बसा एक खुबसूरत गावं है.

shoja village kull hills valleyयह गाँव शहर के शोर शराबे से दूर पहाड़ों और जंगलों के मनोहारी वातावरण के मध्य स्थित है. यहाँ लकड़ी से बने सुंदर घर के बाहर अपने दोस्तों के साथ घंटों बैठकर प्राकृतिक दृश्यों का आनन्द ले सकते हैं. यहाँ खुले में आग जलाकर सेंकने का आनन्द (bone fire) लेना अपने आप में एक सुखद अनुभव होता है.

शोजा गाँव

अगर आप अपने दोस्तों के साथ थोड़े समय के लिए किसी अच्छी जगह पर छुट्टियां बिताना चाहते हैं तो शोजा गाँव छुट्टियों को बिताने के लिए सबसे अच्छी जगह है. शोजा जगह हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले में पड़ती है. शोजा एक छोटा सा गाँव है. यह गाँव प्राकृति के अदभुत दृश्यों से भरपूर है. यह गाँव खूबसूरत वादियों से, बर्फ के पेड़ों से ढका हुआ बहुत ही सुंदर गाँव है.

शोजा कैसे पहुंचे

सड़क मार्ग द्वारा:

शोजा गाँव पहुँचने के लिए सबसे पहले आपको मंडी से कुल्लू राष्ट्रीय उच्च मार्ग द्वारा औट पहुंचना होगा. औट नामक स्थान मंडी से 40 किलोमीटर दूर है. औट से शोजा गाँव की दूरी केवल 39 किलोमीटर है.

हवाई मार्ग द्वारा:

भुन्तर नामक स्थान पर हवाई पट्टी स्थित है. यहाँ के लिए शिमला,चंडीगढ़ ,धर्मशाला से हवाई सेवाएं उपलब्ध हैं. भुन्तर से वाया औट होते हुए शोजा की दूरी केवल 59 किलोमीटर है. यहाँ के लिए हमेशा बस सुविधा उपलब्ध हैं. भुन्तर से शोजा गाँव के लिए टैक्सी सेवा भी उपलब्ध है. एक तरफ का किराया लगभग 1000 रुपए है.

शोजा में रहने की सुविधा

शोजा में कुछ एक ही गैस्ट हाउस हैं. जिनमें एक रात रहने का खर्च 500 से 1000 रूपये आ सकता है. अगर आप ज्यादा सुविधाओं वाला गैस्ट हाउस चाहते हो तो आपको एक रात ठहरने का खर्च लगभग 3 से 4 हज़ार रूपये के करीब आ सकता है. यह गैस्ट हॉउस लकड़ी के बने हुए हैं और इनमें सभी जरूरी सुविधाएं उपलब्ध हैं. शोजा गांव आने से पहले यहाँ के गैस्ट हाउस में बुकिंग पहले से ही करा लेना बेहतर है क्योंकि सीजन के समय यहाँ के गैस्ट हाउस हमेशा व्यस्त रहते हैं.

भोजन की सुविधा

शोजा गाँव में भोजन की अच्छी और सस्ती सुविधा उपलब्ध है. चाय और कॉफ़ी ठण्ड की लिहाज से अच्छे पेय हैं.

यात्रा का उत्तम समय:

शोजा गाँव पूरे वर्ष यात्रा के लिए खुला रहता है लेकिन यहाँ पर घूमने का सबसे अच्छा समय मार्च से लेकर नवम्बर तक होता है. शोजा में बहुत सारे स्थान हैं जैसे कि छोटे पुल, झरने, ट्रैकिंग के लिए पहाड़. लकड़ी से बने मेज व कुर्सियां यहाँ पर बैठ कर आप अपनी शाम को ओर भी खूबसूरत बना सकते हैं. प्राकृतिक दृश्यों से भरपूर स्थान जलौड़ी दर्रा यहाँ से केवल पांच किलोमीटर की दूरी पर स्थित है. यहाँ एक खूबसूरत वॉटरफॉल भी है. यह स्थान ट्राउट मछली पकड़ने (trout fishing) के लिए भी प्रसिद्ध है.

कहाँ ठहरें

शोजा नामक गाँव में रहने के लिए कई आरामदायक स्थान मौजूद हैं. यहाँ एक राजा गैस्ट हॉउस भी है. यहाँ छह साधारण लेकिन सुविधाजनक कमरे हैं. राजा गैस्ट हॉउस का मोबाईल नम्बर (09418550549; Tariff: INR 600-1,000) है.

Comments