परी लोक जैसा है गार्डन्स बाई द बे

22

सिंगापुर में 9 बेहद सुंदर बगीचे हैं। इन बगीचों में 150 प्रजातियों के 30 हजार पौधे हर किसी का मन मोह लेते हैं। इन बगीचों में रंग-बिरंगे फूलों की महक के बीच हर किसी को परी लोक- सा अहसास होता हैं।सिंगापुर में 101 एकड़ में फैला “गार्डन्स बाई द बे” किसी को भी अपने सुंदर नज़ारो से आकर्षित कर सकता है। समुद्र में मिट्टी डालकर तैयार इस स्थान में द फ्लॉवर डोम भी स्थित है जो विशव का सबसे बड़ा कांच का ग्रीनहाऊस है। इसमें बेहद सुन्दर उद्यान हैं जिनमें अफ्रीका, अमेरिका, एशिया आदि महाद्वीपो के एक से बढ़कर एक फुल,पौधे उगाए जाते हैं।

फूलों की प्रदर्शनियां:

हर साल यहाँ 16 मार्च से 8 अप्रैल तक चैरी ब्लॉसम प्रदर्शनी आयोजित होती है जिस के दौरान गुलाबी रंग के चैरी फूलों की बहार देखने को मिलती है। फूलों से लदे चैरी ब्लॉसम वृक्षों के बीच बने मार्ग पर सैर करते हुए जापानी थीम वाली चीज़ें जैसे कि टी-हाऊस, रिक्शा, टोरी गेट्स आदि को करीब से देख सकते हैं। सारा माहौल जापानी प्रतीत होता है, और तो और वह बड़ी बड़ी गुड़िया होती है जिन्होंने जापान का पारम्परिक परिधान कीमोनो पहना होता है और  वह बेहद खूबसूरती लगती है।

गार्डन ऑफ मैजिकल बरोज:

इस गार्डन में अलग अलग रंगों के टूयूलिप फूलों की सुंदरता बेहद विस्मयकारी प्रतीत होती है। इस बगीचे में 13 अप्रैल से 13 मई तक “टूयूलिप मोनिया” प्रदर्शनी का आयोजित किया जाता है । इसके लिए बगीचे को रंग- बिरंगे अंडों तथा खिलौनों , खरगोशों से विशेष रूप से सजाया जाता है। 25 मई से 1 जुलाई के बीच “बेगोनिया ब्रिलियंस” नामक फूलों की प्रदर्शनी में बेगोनिया फूलों को रचनात्मक ढंग से पेश किया जाता है । इस प्रदर्शनी के लिए इस बार पर्यावरण हितैषी वास्तुकला से प्रेरणा ली गयी थी ।

बादलों का जंगल:

“गार्डन्स बाई द बे” में ही स्थित ‘क्लाऊड फॉरेस्ट’ में कुछ नए आशचर्य आपका इंतजार करते हैं। कोहरा तथा 60 हजार पौधे एक रहस्यमयी जगत जैसे प्रतीत होते हैं। यहीं आपको विशव का सबसे ऊंचा “इंडोर वाटरफॉल” दिखाई देगा जिसमें 35 मीटर ऊंचाई से पानी गिरता है। इस झरने के करीब ही ट्रैकिंग करते हुए आप शीतल हवाओं और इस झरने का एक विसिमत करने वाला नज़ारा देख सकते हैं। यहां ‘क्लाऊड वॉक’ से लेकर ‘ट्री टॉप वॉक’ जैसे रोमांचक बंदोबस्त भी सबको लुभाते हैं।

क्लाऊड फॉरेस्ट थिएटर तथा गैलरी:

यहां “ग्रीन वर्ल्ड” तथा +5 डिग्रीज जैसी फिल्मों को देख कर दुनिया भर को प्रभावित कर रहे जलवायु परिवर्तन के बारे में ज्ञान प्राप्त कर सकते हैं। यहीं एक कलादीर्घा भी है जहां तरह तरह के ग्राफिक्स, डायग्रामस तथा कलाकुर्तियां आदि प्रदर्शित है जो धरती के पर्यावरण, जीव- जंतुओं के बारे में बहुत कुछ बताती हैं।

सुपरट्रीज एंड स्काईवे:

विशाल पेड़ों जैसे रूप दे रखे विशाल टावरों में अलग प्रकार के पौधे लगाए गए हैं, जिससे हर टावर एक विशाल पेड़ जैसा लगता है। इन में कुल मिला कर 200 प्रजातियों के डेढ़ लाख से अधिक पौधे लगाए गए हैं। इन पेड़नुमा  विशाल टावरों पर एक स्काईवे भी बना है। जहां से बगीचे के साथ लगती मरीना खाड़ी का भी सूंदर नज़ारा दिखाई देता है। शाम ढलने के बाद सिंगापुर रोशनी में नहाने लगता है। इन उघानो में 7.45 और 8.45 बजे एक लाइट एंड साऊंड शो का आयोजन होता है जिस्का मज़ा लेने लोग अवश्य आते  हैं।

इन सब के अलावा इस “गार्डन्स बाई द बे” में आकर्षणों की भरमार है। ठंडे, रूखे भूमध्यसागरीय जलवायु वाले इस स्थान में हजार वर्षों से  प्राचीन जैतून के पेड़ों के बीच टहलते हुए एक अलग ही अहसास होता है। “सीक्रेट गार्डन” में चूना पत्थर के जंगलों और गुफाओं के  विविध्तापूर्ण वास को देख सकते हैं। यहां कुछ दुर्लभ बेगोनिया भी मौजूद हैं।

read more:

पैसे वाला पेड़

Comments