रोमांटिक: ब्रिटिश कपल ने हनीमून के लिए बुक करवाई पूरी ट्रेन

66

एक नवविवाहित ब्रिटिश जोड़े ने नीलगिरी की वादियों में अपने हनीमून के लम्हों को यादगार बनाने के लिए दक्षिण रेलवे द्वारा शुरू की गई पूरी स्पैशल ट्रेन किराए पर ले ली। युगल ने इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कार्पोरेशन की वैबसाइट के जरिए पूरी ट्रेन बुक करवाई थी। नीलगिरी माऊंटेन रेलवे को यूनेस्को को ओर से विश्व विरासत का दर्जा प्राप्त है।

ब्रिटिश कपल ने हनीमून के लिए बुक करवाई पूरी ट्रेनरेलवे सूत्रों के अनुसार ब्रिटेन के ग्राहम विलियम्स लिन (30) और पोलैंड की सिल्विया प्लासिक (27) भारत यात्रा पर हैं। इंटरनेट पर  स्पेशल ट्रेन के बारे में जानकर ग्राहम ने  भारतीय रेलवे से संपर्क किया। तय किया गया कि 3 कोच की ट्रेन की सभी टिकटों की राशि पर विदेशी जोड़े के लिए स्पैशल ट्रेन  चलाई जा सकती है। यह राशि 2 लाख 85 हजार रुपए बनती है। विदेशी जोड़े ने इस पर सहमति जताई। अधिकारियों ने फोन पर उन्हें नीलगिरी माऊंटेन ट्रेन के इतिहास  के बारे में जानकारी दी।

नीलगिरी की वादियों में हनीमून के लम्हे बनाए यादगार

ब्रिटिश जोड़े ने अपने हनीमून को यादगार बनाने के लिए स्पेशल ट्रेन की 3 को चीज की सभी सीटों को बुक कर लिया. इस स्पैशल ट्रेन में 120 यात्रियों के बैठने की क्षमता है। सूत्रों ने बताया कि युगल इस  तरह की अद्भुत सेवा का लाभ उठाने वाले पहले यात्री बने हैं। इस तरह नीलगिरी की हसीन वादियों में इस जोड़े ने अपने हनीमून के लम्हे यादगार बनाए।

पहली बार स्टीम इंजन में मिले थे ग्राहम और सिल्विया

पेशे से अभियंता ग्राहम ने बताया कि सिल्विया से उसकी पहली मुलाकात भी कम रोमांटिक नहीं थी.  दरअसल ग्राहम और सिल्विया की पहली मुलाकात एक स्टीम इंजन में हुई थी।  इसलिए यह जोड़ा अपने हनीमून को  पर कुछ ऐसा करना चाहता था जिससे उनका हनीमून हमेशा के लिए यादगार बन जाए.

ब्रिटिश कपल ने हनीमून के लिए बुक करवाई पूरी ट्रेन

हनीमून के लिए भारत  सबसे अच्छा देश

दोनों ने बताया कि हनीमून के लिए भारत से अच्छा देश शायद ही कोई है। यहां के लोग बहुत मिलनसार हैं। यह अपनी प्राचीन सत्यता, स्थापत्य, अध्यात्म भूगोल की वजह से अनठा है।  इसीलिए हम दोनों ने तय किया की हनीमून के लिए भारत से बेहतर और कोई जगह नहीं है हम यहां पर आकर बहुत ही खुश और रोमांच का अनुभव कर रहे हैं.

सैंकड़ों साल पुराने इंजन के खींचे फोटो

शुक्रवार को मेत्तुपलयम और कुन्नुर में स्टेशन प्रबंधकों ने  इस ब्रिटिश युगल का उत्साह से स्वागत किया। ट्रेन को देख जोड़ा रोमांचित था। दोनों ने सैंकड़ों साल पुराने इंजन के फोटो खींचे। रेलवे ने बताया कि ट्रेन सुबह 9.10 बजे मेंत्तुपलयम से चली थी और दोपहर 2.40 बजे ऊटी पहुंची थी।

इन्हें भी पढ़ें 

Comments