रात को पढ़ाई करने के फायदे और नुक्सान

51

आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि रात को पढ़ाई करने के कितने फायदे और नुकसान हैं। बहुत से छात्रों का मानना है कि रात का समय पढ़ाई करने के लिए अच्छा होता है और उस समय ध्यान लगाना भी आसान होता है। लेकिन आपको बता दें कि अगर किसी चीज़ के फायदे हैं तो उसके नुक्सान भी होते हैं। तो जानिए क्या हैं रात के समय पढ़ाई करने के फायदे और नुकसान।

फायदे

जैसे कि आपको पता है कि रात के समय में ज़्यादा शोर नहीं होता। इससे आपको सोचना और ध्यान लगाना और भी आसान हो जाता है।

दिन के समय आपके पास छोटे-छोटे काम होते हैं, जिसके कारण आपको बार-बार उठना पड़ता है। रात के समय आपको कोई काम नहीं होता, तो एक जगह बैठकर कर आसानी से पढ़ाई कर सकते हो।

आपके पास समय कम होता हैं, इसलिए आप थोड़े समय में ज़्यादा पढ़ने की कोशिश करते है और कुछ हद तक आप इसमें सफल भी होते है।

रात के समय में विकर्षण कम होते है। आप टीवी या फ़ोन का प्रयोग कम करते है और इसी कारण से आपका पढ़ाई पर ध्यान आसानी से लग जाता है।

आपको बता दें कि सोते समय भी आपका दिमाग काम करता रहता है, इसलिए सोने से पहले आप जो भी पढ़ेंगे वो आपको याद रहेगा।

नुकसान

अगर आप पूरी रात पढ़ाई करोगे तो आप अपनी नींद पूरी नहीं कर पाते। इससे आपका दिमाग और शरीर थक जाता हैं। आपके लिए पूरे दिन में काम पर ध्यान लगाना भी मुश्किल हो जाता हैं।

रात को पढ़ने से आपको सही ढंग से आराम नहीं मिलता, जिसकी वजह से आपके सिर और पीठ में दर्द होने लग जाता हैं।

देर रात तक जागने से आपकी आँखों में भी दर्द होने लग सकता हैं  और इससे आँखों के नीचे काले घेरे भी बन जाते हैं। इसके अलावा और भी तकलीफें हो सकती हैं, जैसे कि मुहासे और रूखी त्वचा।

जो लोग देर रात तक पढ़ना चुनते हैं, उन पर अक्सर तनाव ज़्यादा होता हैं। वो लोग अक्सर डिप्रेशन और तनाव जैसी चीज़ों का शिकार हो जाते हैं।

अगर आप रात को पढ़ते रहे और दिन के समय भी आपने आराम नहीं किया तो आपके दिमाग की सोचने की शक्ति कम हो जाएगी।

यह भी पढ़ें:-लव लाइफ के लिए कुछ टिप्स, जो बना देंगे आपकी लाइफ को यादगार

यह भी पढ़ें:-बेहद रोचक तथ्य जो आपका दिमाग हिला देंगे

Comments