शादीशुदा जावेद अख्तर के प्यार में इस अदाकारा ने तोड़ी थीं सारी हदें, पिता से भी की थी बगावत

130

शबाना आजमी भारतीय सिनेमा की सबसे प्रतिष्ठित और सम्मानित अभिनेत्रियों में से एक है। शबाना की अदाकारी को आज तक कोई टक्कर नहीं दे पाया है। इस अदाकारा को 5 बार बेस्ट एक्ट्रेस के राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया है जो एक रिकॉर्ड  है। आइए जानते है शबाना आजमी के जीवन के बारे में कुछ रोचक बातें:

  • शबाना आजमी का जन्म 18 सितंबर 1950 में हुआ था। ये मशहूर कवि कैफी आजमी और थिएटर एक्ट्रेस शौकत आजमी की बेटी हैं। शबाना आजमी का घर का नाम मुन्नी था।
  • शबाना ने अपनी शुरुआती पढ़ाई क़्वीन मैरी स्कूल मुंबई से की है। उन्होंने मनोविज्ञान (Psychology) में स्नातक किया है। उन्होंने स्नातक की डिग्री मुंबई के सेंट जेवियर कॉलेज से ली है। शबाना आजमी ने एक्टिंग का कोर्स फिल्म एंड टेलिविजन इंस्टिटीयूट ऑफ इंडिया पुणे से किया है।
  • शबाना जितनी पॉपुलर अपनी अदाकारी के लिए रहीं उतनी ही सुर्खियां पर्सनल लाइफ को लेकर बटोरीं। जावेद अख्तर से शादी से पहले शबाना का नाम फिल्म मेकर शेखर कपूर के साथ भी जुड़ा था।
  • 9 दिसंबर, 1984 में जावेद अख्तर से इन्होंने शादी की। जावेद बॉलीवुड स्क्रिप्ट राइटर, कवि और गीतकार हैं। शबाना आजमी जावेद अख्तर की दूसरी पत्नी हैं।
  • जावेद अख्तर की पहली शादी हनी से हुई थी। हनी, जावेद से 10 साल छोटी थीं। उनके दो बच्चे भी थे।
  • 1970 में जावेद अख्तर कैफी आजमी से लिखने की कला सीखते थे। उसी दौरान उनका दिल कैफी आजमी की बेटी शबाना पर आ गया।
  • तब जावेद ने हनी को तलाक देकर शबाना से शादी करने का फैसला लिया। दोनों की शादी में मुश्किलें भी आईं। क्योंकि कैफी आजमी नहीं चाहते थे कि उनकी बेटी की शादी किसी शादीशुदा आदमी से हो।
  • प्यार के आगे किसी का जोर नहीं चलता। कैफी आजमी का भी नहीं चला और शबाना ने 1984 में जावेद से शादी कर ली।
  • शबाना आजमी ने अपने फ़िल्मी करियर की शुरुआत वर्ष 1973 में श्याम बेनेगल की फिल्म ‘अंकुर’ से की थी।   इस फिल्म की सफलता ने शबाना आजमी को बॉलिवुड में जगह दिलाने में अहम भूमिका निभाई।  अपनी पहली ही फिल्म के लिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का राष्ट्रीय पुरस्कार हासिल हुआ।
  • अब तक उन्होंने 100 से भी अधिक फिल्मों में अभिनय किया है, जिसके लिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के लिए पांच बार राष्ट्रीय पुरस्कार और चार बार फिल्मफेयर पुरस्कारों से सम्मानित किया गया है।
  • शबाना आजमी एक बहुत ही सक्रिय सामाजिक कार्यकर्ता हैं और वह राज्यसभा का सदस्य रही हैं।
  • शबाना आजमी एक सामाजिक कार्यकर्ता के रूप में भी अपनी खास पहचान बना चुकी हैं। खासतौर पर बच्चों से जुड़े मसलों और एड्स से जुड़े मुद्दों पर बेहद सक्रिय रहती हैं। सांप्रदायिकता के खिलाफ कई प्ले में इन्होंने भाग लिया।

Read more:

चीन का शादी बाज़ार