जानिए क्यों है खास साल का अंतिम चंद्र ग्रहण!!

1721

इस साल का अंतिम चंद्र ग्रहण 19 नवंबर 2021 दिन शुक्रवार को कार्तिक मास की पूर्णिमा को लगने जा रहा है। यह चंद्र ग्रहण बेहद खास है क्योंकि यह साल का ही नहीं बल्कि पूरी सदी का सबसे लंबी अवध‍ि का चंद्र ग्रहण होगा।

ज्योति शास्त्रों के अनुसार यह उपच्छाया चंद्र ग्रहण है जिसे खंडग्रास और आंशिक चंद्र ग्रहण भी कहा जाता है। भारत में यह अंतिम चंद्र ग्रहण उपच्छाया ग्रहण के रूप में दिखाई देगा, इसलिए यहां इसका सूतक मान्य नहीं होगा।

चंद्र ग्रहण की शुरुआत 19 नवंबर को दोपहर 12 बजकर 48 मिनट से होगी और यह 4 बजकर 17 मिनट तक दिखाई देगा।

इसकी अवध‍ि 3 घंटे 28 म‍िनट और 24 सेकंड्स की होगी और चांद का लगभग 97 फीसदी हिस्सा लाल दिखाई देगा। चंद्रमा और धरती के बीच अध‍िक दूरी के कारण यह ग्रहण लंबी अवध‍ि का होने वाला है।

यह भी पढ़ें :- जाने साल के अंतिम चंद्र ग्रहण का राशियों पर ऐसा रहेगा असर

580 साल बाद सबसे लंबा आंशिक चंद्र ग्रहण

नासा के अनुसार ये मौका 580 साल बाद आया है। भारत के उत्तर-पूर्वी राज्यों में ये सबसे लंबा आंशिक चंद्र ग्रहण देखा जा सकेगा। इससे पहले इतना लंबा चंद्र ग्रहण 18 फरवरी 1440 को हुआ था और अब संभवत: 8 फरवरी, 2669 में होगा।

यह चंद्र ग्रहण भारत के पूर्वोत्तर राज्य असम और अरुणाचल प्रदेश के कुछ हिस्सों में दिखाई देगा। वहीं विदेशों में अमेरिका, उत्तरी यूरोप, पूर्वी एशिया, ऑस्ट्रेलिया और प्रशांत महासागर क्षेत्र में दिखाई देगा।