जन्माष्टमी पर राशि के अनुसार लगाएं कान्हा जी को भोग, और पहनाएं वस्त्र !!

1993

भगवान श्रीकृष्ण जन्म-उत्सव भादौ कृष्ण पक्ष अष्टमी के दिन रात्रि 12 बजे मनाया जाता है। इस दिन भगवान श्रीकृष्ण का पूजन विधि-विधानपूर्वक करना चाहिए। इस साल कृष्ण जन्माष्टमी 30 अगस्त को मनाई जाएगी।

धार्मिक मान्यता है कि भगवान श्रीकृष्ण का जन्म इसी तिथि को रोहिणी नक्षत्र और वृष लग्न में हुआ था। यह पर्व देशभर में मनाया जाता है। इस दिन बाल गोपाल के लिए पालकी सजाई जाती है। उनका शृंगार किया जाता है।

वहीं इस दिन नि:संतान दंपत्ति विशेष तौर पर जन्माष्टी का व्रत रखते हैं। वे बाल गोपाल कृष्ण जैसी संतान की कामना से यह व्रत रखते हैं और मुरलीवाले को उनकी प्रिय चीजों का भोग लगाते हैं।

ज्योतिषीय मान्यता है कि इस दिन राशि के अनुसार भगवान श्रीकृष्ण को शृंगार और भोग लगाने से मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं और उन्हें भगवान श्रीकृष्ण का आशीर्वाद प्राप्त होता है।

आज हम आपको हम बताने जा रहे हैं जन्माष्टमी पर राशि के अनुसार लगाएं भोग और पहनाएं वस्त्र:-

मेष :इस राशि के जातकों को भगवान श्रीकृष्ण का श्रृंगार लाल रंग के कपड़े से करने के बाद उन्हें माखन मिश्री का भोग लगाना चाहिए।

वृषभ : जन्माष्टमी पर भगवान श्रीकृष्ण को मिश्री का भोग लगाएं और चांदी के वर्क से श्रृंगार करें व सफेद चंदन का तिलक करें।

मिथुन : जन्माष्टमी के दिन लहरिया वाले वस्त्र पहनाएं व चंदन का तिलक करें और उसके बाद उन्हें भोग में दही अर्पण करना चाहिए। फिर भगवान के सामने हाथ जोड़कर अपनी अर्जी लगाएं।

कर्क : इस राशि के जातकों को भगवान श्रीकृष्ण का सफेद वस्त्र से श्रृंगार करना चाहिए और फिर उन्हें दूध और केसर का भोग लगाना चाहिए।

सिंह : गुलाबी वस्त्र पहनाएं व अष्टगंध का तिलक लगाएं, और प्रसाद में उन्हें माखन-मिश्री चढ़ाएं।

कन्या : कन्या राशि के जातकों को जन्माष्टमी के दिन भगवान श्रीकृष्ण को हरे रंग के वस्त्रों से सजाएं। इसके बाद उन्हें मावे का भोग जरूर लगाएं।

तुला : तुला राशि के जातकों के जातकों को जन्माष्टमी के दिन भगवान श्रीकृष्ण को गुलाबी रंग के वस्त्र पहनाएं और इसके बाद उन्हें घी का भोग लगाएं।

वृश्चिक : भगवान श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर लाल वस्त्र पहनाएं और साथ ही उन्हें माखन या दही जरूर चढ़ाएं।

धनु : इस राशि के जातक भगवान कृष्ण को पीला वस्त्र पहनाएं व पीली मिठाई का भोग लगाएं।

मकर : इस राशि के जातक भगवान कृष्ण को लाल-पीला मिश्रित रंग का वस्त्र पहनाएं व मिश्री का भोग लगाएं।

कुंभ : कुभ राशि के जातक जन्माष्टमी पूजा पर भगवान श्रीकृष्ण को नीले रंग का वस्त्र पहनाएं। फिर कान्हा को बालूशाही का भोग लगाएं।

मीन : जन्माष्टमी पर मीन राशि के जातकों को भगवान श्रीकृष्ण को पीतांबरी वस्त्र और पीले ही रंग के कुंडल पहनाएं। फिर भोग में केसर और बर्फी चढ़ाएं।

यह भी पढ़ें :-

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर करें ये अचूक उपाय, बनेंगे बिगड़े काम!!

कब है जन्माष्टमी और क्या है इसका महत्व!!