रेगिस्तान के बीचों-बीच आप क्या मिलने की उम्मीद करेंगे? रेत के टीले, तेज हवाएं और दूर-दूर तक जीवन का कोई नामोनिशान नहीं। लेकिन कुदरत वह चीज़ है जो ऐसी जगहों पर भी अपना सौंदर्य बिखेर देती है जिसकी हम कल्पना भी नहीं कर सकते हैं।

आज की युवा पीढ़ी गांवों से दूर भागती है, उनके दिमाग में गांव का नाम आते ही यही ख्याल आता है कि गांव एक ऐसी जगह होती है जहां बुनियादी सुविधाएं यानि पानी, बिजली आदि का कमी होती है। लेकिन एक गांव ऐसा भी है जिसे देखने के लिए लोग दूर-दूर से यहां आते हैं।

दरअसल रेगिस्तान के बीच में एक खूबसूरत गांव बसा हुआ है, जो आपका मन मोह लेगा। उस गांव का नाम है हुआकाचाइना (huacachina)। साउथ पेरू के आइसा शहर से महज 8 किलोमीटर की दूरी ये गांव बसा हुआ है। यह गांव दूर से देखने पर एक 3D पेंटिंग की  तरह नज़र आता है।

इस गांव की सबसे खास बात है की ये गांव रेगिस्तान के बीचो बीच बसा हुआ है, दूर -दूर तक अगर नज़र दौड़ा कर देखी जाए तो आपको सिर्फ रेत नज़र आएगी पर इस गांव में आपको सुख-सुविधा के अलावा प्रकृति के ऐसा अनमोल दृश्य देखने को मिलेगा जिसकी तारीफ किये बिना आप नहीं रह पाएंगे। यहां पर एक प्राकृतिक झील है, इस झील के बारे में कहा जाता है कि यहां एक राजकुमारी नहा रही थी और एक शिकारी ने उस पर निशाना साधा।

राजकुमारी शिकारी से बचकर निकल गई लेकिन उसके कपड़ों से वहां पर बालू का टीला बन गया। इस गांव में हवा के झोकों से कई टीले बनते रहते हैं। यहां से सनसेट का नजारा देखने योग्य है, यह गांव बहुत ही खूबसूरत है और जब टूरिस्ट इसे देखने के लिए यहां आते हैं तो यहां के स्थानीय निवासी खुशी से उनका स्वागत करते हैं।

यह गांव बिल्‍कुल सपने की दुनिया जैसा है। इसे देखने के लिए बड़ी संख्‍या में पर्यटक यहां आते हैं। यहां होटल, दुकानों समेत सभी सुविधाएं उपलब्‍ध हैं। हालांकि यह गांव काफी छोटा है, यहां सिर्फ 96 परिवार ही रहते हैं। गांव का नाम, यहां के रहने वाले लोगों के नाम पर रखा गया है। कहा जाता है कि यह झील का पानी औषधीय गुणों से भरपूर है और इसमें बीमारियों को दूर करने की क्षमता है।

शहरी भागमभाग से दूर इस गाँव में जाकर पर्यटकों को मानसिक शान्ति का अहसास होता है। रात के समय तो हुआकाचाइना (huacachina) किसी जादुई नगरी जैसा लगता है। पर्यटकों के आनुरोध पर स्थानीय लोग उन्हे टॉप तक अध्ययन-यात्रा के लिए ले जाते हैं। जहां से सनसेट का नज़ारा बहुत ही खूबसूरत दिखाई देता है।

यहां आने वाले लोग जल्दी वापस जाने को तैयार नहीं होते हैं। यहां लोग बोटिंग और बग्गी राइट का आनंद भी ले सकते हैं। पेरु देश में इस गांव की काफी मान्यता है, यहां तक की वहां की करंसी पर भी इसी गांव की तस्वीर लगी हुई है। इसे देखने के लिए बड़ी संख्‍या में टूरिस्ट यहां आते हैं। रेत के टीले और उसके बीचों-बीच बसा एक हरा-भरा गांव ऐसी जगह पर जाकर आप रोमांचित हो उठेंगे।