भारत के 5 सबसे अमीर मंदिर, तस्वीरों सहित

12059

भारत के हर कोने में आपको मंदिर देखने को मिलेगे और हर मंदिर में आपको भक्तों की भीड़ नजर आएगी. देश के हर मंदिर में भक्तों द्वारा किए गए खुले मन से दान से मंदिरों की संपत्ति अरबों-खरबों में हैं. आज हम इस लेख में भारत के 5 सबसे अमीर मंदिरों की सूची लेकर आए हैं.

1पद्मनाभ स्वामी मंदिर, त्रिवेंद्र

भारत के सबसे अमीर मंदिर का नाम पद्मनाभ स्वामी मंदिर हैं. यह मंदिर केरल प्रान्त की राजधानी तिरुवनन्तपुरम (त्रिवेन्द्रम) शहर के बीच स्थित है. पद्मनाभ स्वामी मंदिर प्राचीन और द्रविड़ शैली में बनाया गया है. इस मंदिर की देखभाल त्रावणकोर के पूर्व शाही परिवार द्वारा की जाती है. तथा ऐसा माना जाता है कि पद्मनाभ स्वामी मंदिर की कुल संपत्ति एक लाख करो़ड है. मंदिर के बीच में भगवान विष्णु की सुंदर व विशाल मूर्ति रखी गई है जिसे देखने के लिए हजारों की संख्या में भक्त दूर दूर से यहां आते हैं. ऐसा माना जाता है कि तिरुवनंतपुरम नाम भगवान के अनंत नामक नाग के नाम पर रखा गया है और भगवान विष्णु की विश्राम अवस्था को पद्मनाभ कहा जाता है.

2तिरुपति बालाजी का मंदिर,आंध्र प्रदेश

तिरुपति वेन्कटेशवर मन्दिर, आंध्र प्रदेश के चित्तूर जिले में स्थित एक प्रसिद्ध हिन्दू मन्दिर है. तिरुपति भारत के सबसे प्रसिद्ध तीर्थस्थलों में से एक है. तिरुपति मंदिर, दक्षिण भारतीय वास्तुकला और शिल्पकला का अद्भुत उदाहरण है. इस तिरुपति मंदिर में भगवान वेंकटेश्वर जी निवास करते है जो कि भगवान विष्णु जी का अवतार माना जाता है. तिरुपति मंदिर समुद्र तल से 2800 फीट की ऊंचाई पर स्थित है और यह मंदिर सात पहाड़ों से मिलकर बने तिरूमाला के पहाड़ों पर स्थित है. तिरूमाला की पहाड़ी विश्व की दूसरी सबसे प्राचीन पहाड़ी मानी जाती है. इस मंदिर में लगभग 50,000 श्रद्धालु रोज दर्शन करने आते हैं और इस मंदिर की कुल संपत्ति लगभग 50,000 करोड़ बताई जाती है.

3श्री जगन्नाथ मंदिर, पुरी

श्री जगन्नाथ मंदिर, भारत के उड़ीसा राज्य के तटवर्ती शहर पुरी में स्थित है. यह मंदिर एक हिन्दू मंदिर व् जगन्नाथ यानि श्री कृष्ण को समर्पित है. श्री जगन्नाथ मंदिर को हिन्दुओं के चार धाम में से एक माना जाता है. जगन्नाथ शब्द का अर्थ जगत के स्वामी होता है. श्री जगन्नाथ मंदिर लगभग 4,00,000 वर्ग फुट में फैला है. श्री जगन्नाथ मंदिर भारत को भारत के 5 अमीर मंदिरों में से एक माना जाता है. भक्तों द्वारा चढ़ाए गए दान को मंदिर की व्यवस्था और सामाजिक कामों में खर्च किया जाता है.

4साईं बाबा मंदिर, शिरडी

आज से करीब 70 साल पहले बनवाया शिरडी साई बाबा मंदिर एक प्रसिद्ध स्थान है लो कि 1.5 एकड़ में फैला हुआ है. यह मंदिर सबसे बड़े साई बाबा मंदिरों में एक माना गया है. साईं बाबा एक भारतीय गुरु, योगी और फकीर थे, उन्हें उनके भक्तों द्वारा संत कहा जाता है. सांई बाबा मंदिर भारत के अमीर मंदिरों में से एक माना जाता है.  साई बाबा मंदिर की संपत्ति और आय दोनों ही करोड़ों में है और मंदिर के पास लगभग करोड़ों का सोना और चांदी हैं. मंदिर में हर साल लगभग 350 करोड़ का दान भक्तों द्वारा चढ़ाया जाता है.

5सिद्धिविनायक मंदिर, मुंबई

सिद्धिविनायक मंदिर, मुंबई के प्रभादेवी में स्थित सबसे पूजनीय मंदिरों में से एक है. यह मंदिर भगवान गणेश को समर्पित है. इस मंदिर का निर्माण 1801 में विट्ठु और देउबाई पाटिल ने किया था. इस मंदिर में गणपति का दर्शन करने सभी धर्म, जाति और समुदाय के लोग आते हैं. सिद्धिविनायक मंदिर की महिमा अपरंपार है, वेभक्तों की मनोकामनाओं को तुरंत पूरा करते हैं. सिद्धिविनायक मंदिर भारत के अमीर मंदिरों में से एक माना जाता है. इस मंदिर की वार्षिक आय 46 करोड़ रुपये हैं.

Comments