30 मई का इतिहास

715

30 मई का इतिहास:-

  • 1381 – इंग्लैंड के एसेक्स में किसानों का विद्रोह शुरु।
  • 1498 – कोलम्बस तीसरी बार 6 जहाज के साथ अमेरिका की यात्रा पर निकला।
  • 1606 – सिक्खों के पांचवें गुरु – गुरु अर्जन देव जी का निधन।
  • 1826 – उदन्त मार्तण्ड पहली हिन्दी समाचार पत्र की शुरुआत हुई। इसलिए 30 मई को हिन्दी पत्रकारिता दिवस भी मनाया जाता है।
  • 1909 – भारतीय हिन्दी फ़िल्मों के प्रसिद्ध कथा, पटकथा और कहानी लेखक पण्डित मुखराम शर्मा का जन्म।
  • 1949 – पूर्वी जर्मन संविधान को माना गया।
  • 1955 – भारत में ट्रेड यूनियन आंदोलन के जन्मदाता एन. एम. जोशी का निधन।
  • 1981 – बांग्लादेश के नेता जिया उर रहमान की हत्या चटगांव के एक गेस्ट हाउस में कर दी गई। रहमान समेत कुल आठ लोग इस घटना में मारे गए। देश में आपातकाल लागू।
  • 1987 – गोवा को भारत के राज्य का दर्जा मिला। गोवा भारत का 26 वाँ राज्य बना।
  • 1991 – ‘भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के पुरोधा एवं मानवता के पुजारी और राष्ट्रवाद के अग्रदूत उमाशंकर दीक्षित का निधन।
  • 1996 – 6 वर्षीय बालक धुन चौकी नैया को नया पंचेन लामा चुना गया।
  • 1998 – पाकिस्तान द्वारा एक और (छठा) परमाणु परीक्षण।
  • 1998 – अफगानिस्तान में भीषण भूकंप से 5000 लोगों के मरने की आशंका।
  • 2000 – आधुनिक हिन्दी साहित्य के प्रसिद्ध आलोचक रामविलास शर्मा का निधन।
  • 2003 – नेपाल के कार्यवाहक प्रधानमंत्री लोकेन्द्र बहादुर चंद ने इस्तीफा दिया।
  • 2004 – सऊदी अरब में बंधक संकट समाप्त, परंतु दो भारतीयों सहित 22 की हत्या।
  • 2007 – अंतर्राष्ट्रीय संयुक्त राष्ट्र शांति रक्षक दिवस पर 107 शांति रक्षक पुरस्कृत।
  • 2008 – सुजाना मेटल प्रोडक्ट लिमिटेड ने विशाखापट्टनम में 180 करोड़ रुपये की लागत से तीन स्टील इकाईयों का अधिग्रहण किया।
  • 2008 – अफ़ग़ानिस्तान में एक जिले पर तालिबान ने कब्जा किया।
  • 2012- विश्वनाथन आनंद पांचवीं बार विश्व शतरंज चैंपियन बने।
  • 2013 – बंगाली फ़िल्मों के प्रसिद्ध निर्देशक, लेखक और अभिनेता ऋतुपर्णो घोष का निधन।

यह भी पढ़ें :-29 मई का इतिहास

http://en.fundabook.com/funny-spelling-mistakes/