वास्तु के अनुसार न करें सूर्यास्त के बाद ये काम, रूठ जाती है माँ लक्ष्मी 

852

वास्तु में कहा गया है कि सूर्यास्त के बाद कई ऐसी गतिविधियां होती हैं जिनसे बचना चाहिए। सूर्योदय और सूर्यास्त को दिन और रात के मिलन का समय माना जाता है। इसलिए शास्त्रों में इस समय का बहुत महत्व माना गया है।

आपने अपने पूर्वजों से हमेशा सुना होगा कि शाम को न तो सोना चाहिए और न ही झाड़ू लगाना चाहिए। इसका कारण यह है कि देवी लक्ष्मी क्रोधित हो जाती हैं।

अगर आप ऐसा करते हैं तो आपको कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। ज्योतिष का मानना ​​है कि शाम को माता सरस्वती, देवी लक्ष्मी और देवी दुर्गा के आगमन का प्रतीक है। ऐसे में कई बातों का ध्यान रखना जरूरी होता है।

शाम को न सोएं

हर चीज का एक सही समय होता है। इंसान के लिए सही आदत का होना बहुत जरूरी है। जो लोग शाम को सोते हैं उन्हें अब ऐसा नहीं करना चाहिए।

ऐसा करने से उस व्यक्ति का जीवन कम हो जाता है और वह कई बीमारियों का शिकार हो जाता है। देवी लक्ष्मी सूर्यास्त और शाम के समय घर में आती हैं। इसके साथ ही शाम के समय घर के दरवाजे खुले रखें।

घर या आंगन में झाडू न लगाएं

शास्त्रों के अनुसार सूर्यास्त और शाम के समय घर में झाडू नहीं लगाना चाहिए। ऐसा कहा जाता है कि इस दौरान देवी लक्ष्मी घरों में प्रवेश करती हैं। यदि आप इस समय झाडू लगाते हैं तो वह घर छोड़ देती है और उस घर में धन की कमी हो जाती है।

दहलीज पर मत बैठो

शास्त्रों के अनुसार शाम के समय घर की दहलीज पर नहीं बैठना चाहिए। इसे अशुभ माना जाता है। ऐसा करने से आपके घर में देवी लक्ष्मी का प्रवेश नहीं होगा।

घर का मुख्य दरवाजा बंद न रखें

वास्तु के अनुसार शाम के समय घर का मुख्य दरवाजा बंद न रखें। ऐसा माना जाता है कि इस समय ही मां लक्ष्मी घर में प्रवेश करती हैं। इसलिए इस समय दरवाजे बंद रखने से मां का आगमन नहीं होता और घर में गरीबी आती है।

तुलसी के पौधे को छूने से बचें

हिंदू धर्म में तुलसी पौधे का विशेष महत्व है। मान्यता है कि तुलसी जी को जल चढ़ाने व पूजा करने से घर में सुख-समद्धि, शांति व खुशहाली का वास होता है। मगर सूर्यास्त के बाद तुलसी पौधे को पानी देने व इसे छुने से बचना चाहिए।

बाल और नाखून न काटें

सूर्यास्त के बाद बाल और नाखून काटना अशुभ माना जाता है। ऐसा करने से जीवन में नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। इसके कारण धन संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इसके साथ जीवन से जुड़ी कई परेशानियां भी झेलनी पड़ सकती है।

यह भी पढ़ें :-