3 जून का इतिहास

583

3 जून का इतिहास:-

  • 1844 – आधुनिक हिन्दी साहित्य के शीर्ष निर्माताओं में से एक बालकृष्ण भट्ट का जन्म।
  • 1867 – भारत के प्रसिद्ध शिक्षाविद, राजनीति, समाज सुधारक, न्यायविद और लेखक हरविलास शारदा का जन्म।
  • 1901 – ज्ञानपीठ पुरस्कार पाने वाले पहले कवि जी शंकर कुरूप का तिरूवंतपुरम में निधन।
  • 1915 – ब्रिटिश सरकार ने रवींद्रनाथ टैगोर को नाइटहुड की उपाधि से नवाजा।
  • 1918 – गांधी जी की अध्यक्षता इन्दौर में हिन्दी साहित्य सम्मेलन आयोजित हुआ और उसी में पारित एक प्रस्ताव के द्वारा हिन्दी राजभाषा मानी गयी।
  • 1941 – भारत की प्रसिद्ध महिला न्यायाधीश रूमा पाल का जन्म।
  • 1943 – संयुक्त राष्ट्र संघ ने राहत और पुनर्वास प्रशासन की स्थापना की।
  • 1947 – ब्रिटिश राज में भारत के आखिरी वायसरॉय लॉर्ड माउंटबेटन ने भारत के बंटवारे का ऐलान किया था।
  • 1959 – सिंगापुर को सेल्फ गर्वनिंग स्टेट घोषित किया गया, इससे पहले ये ब्रिटिश साम्राज्य का हिस्सा था।
  • 1962 – एयर फ्रांस का एक निजी विमान, बोइंग 707, पैरिस के ओर्ली हवाई अड्डे पर उड़ान भरने के समय दुर्घटना ग्रस्त हो गया।
  • 1974 – बिहार के मुख्यमंत्री एवं स्वतंत्रता सेनानी कृष्ण बल्लभ सहाय का निधन।
  • 1994 – सामुदायिक नेतृत्व त्रिभुवनदास कृषिभाई पटेल का निधन।
  • 1994 – भारत सहायता क्लब का नया नाम भारत सहायता मंच किया गया।
  • 1999 – हावरक्राफ्ट विमानों के अविष्कारक क्रिस्टोफ़र कॉकेरेल का निधन।
  • 1999 – यूगोस्लाविया द्वारा कोसोवो शांति योजना को मंजूरी।
  • 2004 – केन फ़ोर्ड नासा के अंतरिक्ष खोज पैनल के नेतृत्वकर्ता बने।
  • 2005 – फ्रांस ने सुरक्षा परिषद में भारत की दावेदारी का समर्थन दुहराया।
  • 2008 – जापानी प्रयोगशाला के साथ अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा का डिस्कवरी यान अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन पहुँचा।
  • 2008 – वैज्ञानिकों को सौर परिवार के बाहर अब तक का सबसे छोटा ग्रह मिला।
  • 2008 – तेलंगाना राष्ट्र समिति के अध्यक्ष के. चन्द्रशेखर राव ने उपचुनाव में क़रारी हार के बाद अपने पर से इस्तीफ़ा दिया।
  • 2014 – नई दिल्ली में पूर्व केंद्रीय मंत्री गोपीनाथ मुंडे का सड़क हादसे में निधन।

यह भी पढ़ें :-आई सी सी विश्व कप के कुछ यादगार क्षण

World’s 5 Most Powerful Intelligence Agencies