जर्मन शेफर्ड – कुत्ते की पालने योग्य सबसे पसंदीदा नस्ल

जर्मन शेफर्ड एक मध्यम से बड़े आकार का कुत्ता है । इसे जर्मनी मूल का होने के कारण ही यह नाम मिला है। यह नाम German + Shepherd का संयोजन है। हिन्दी में शेफर्ड(Shepherd) का अर्थ है गड़रिया यानि भेड़ों को चराने वाला। जर्मन शेफर्ड एक कामकाजी कुत्तों की नस्ल है जिसे पुराने समय में भेड़ बकरियों को कंट्रोल करने का काम लिया जाता था।

जर्मन शेफर्ड एक मध्यम से बड़े आकार का कुत्ता है

जर्मन शेफर्ड नस्ल को इनके ब्रिटिश नाम अल्सेशियन (Alsatian) के नाम से भी जाना जाता है। जैसा कि इनके नाम Shepherd से ज्ञात होता है ये कुत्ते भेड़ों के झुंड को चराने, उनकी रक्षा करने और उन्हें कंट्रोल करने के काम में माहिर होते हैं। आज भी यूरोपीय देशों में इसे इस काम में इस्तेमाल लिया जाता है। इस नस्ल के कुत्ते अत्यधिक वफादार माने जाते हैं।

जर्मन शेफर्ड नस्ल दुनिया की सबसे पसंदीदा कुत्तों की नस्लों में शुमार है। जर्मन शेफर्ड नस्ल के कुत्ते उनकी ताकत, बुद्धि, प्रशिक्षण और आज्ञापालन के कारण विकलांगों के सहयोग व सहायता, खोज और बचाव, पुलिस और सैन्य भूमिकाओं और अभिनय सहित कई प्रकार के कार्यों के लिए आदर्श पालतू जानवर है।

इस नस्ल के कुत्तों की खासियत यह है कि ये अंत्यन्त शांत और सौम्य स्वभाव के साथ साथ अपने टारगेट के प्रति काफी आक्रामक भी होते हैं. हालांकि ये बहुत ज्यादा दोस्ताना(friendly) भी नहीं होते लेकिन बिना कारण किसी को नुकसान भी नहीं पहुंचाते।

रंग और आकार

आमतौर पर, जर्मन शेफर्ड या तो भूरे काले या फीके लाल-पीले व काले मिश्रित रंग का होते हैं। यह पूरे काले और सफेद रंग के भी होते हैं लेकिन दुर्लभ हैं।

नर जर्मन शेफर्ड की मानक ऊंचाई 60-65 सेमी (24-26 इंच) और मादाओं की 55-60 सेमी (22-24 इंच) है। नर कुत्ते का आकार 30–40 किलोग्राम जबकि मादा का वजन 20 से 33 किलोग्राम होता है। इस नस्ल के कुत्ते अन्य अधिकांश नस्लों के कुत्तों से लंबे होते हैं।

प्रशिक्षण

जर्मन शेफर्ड को विशेष रूप से उनकी बुद्धिमत्ता के लिए पाला जाता है। सही तरीकों को अपनाकर इन्हें प्रशिक्षित करना बहुत ही आसान है। ‘द इंटेलिजेंस ऑफ डॉग्स‘ नामक पुस्तक में, लेखक स्टेनली कॉरेन ने बुद्धिमानी के लिए जर्मन शेफर्ड को बॉर्डर कोलीज़ और पूडल्स के बाद तीसरे स्थान पर रखा है। शोध में उन्होंने पाया कि वे केवल पाँच बार दोहराने पर वे साधारण कार्यों को सीखने की क्षमता रखते थे और उन्होंने 95% मौकों पर दिये गए पहले आदेश का पालन किया।

अपनी इस क्षमता के कारण ही पुलिस सेवा में सुराग और अपराधियों को ढूँढने का काम, गार्ड और खोज और बचाव कुत्तों के रूप में इस नस्ल को आदर्श विकल्प बनाता है क्योंकि वे अन्य नस्लों की तुलना में जल्दी से सीखने और निर्देशों की बेहतर व्याख्या और अमल करने में सक्षम हैं।

कीमत

एक जर्मन शेफर्ड के पिल्ले की कीमत 5000 से 25000 रुपये के बीच हो सकती है। कुत्ते के बालों के आधार पर भी इनकी कीमत में अंतर पाया जाता है। उन्हें सिंगल कोट (single coat) और डबल कोट(double coat) बालों वाली दो श्रेणियों में बांटा जाता है। डबल कोट बालों वाले कुत्ते के बाल अधिक लंबे और रोएँदार होते है और इस प्रजाति को दुर्लभ और बेहतर माना जाता है। इसलिए इसकी कीमत भी ज्यादा होती है।

यदि आपके पास जर्मन शेफर्ड है तो यह किताब इसके स्वभाव को समझने और इसे आपके और करीब लाने में मदद कर सकती है। नस्ल विशेषज्ञों द्वारा लिखित यह बेस्ट सेलर किताब आपके पालतू जर्मन शेफर्ड की psychology यानि मनोविज्ञान को समझने में बहुत अधिक सहायक हो रही है ऐसा हजारों लोगों का मानना है।