दर्जी के बेटे को मिला 20 लाख का पैकेज, जानें कैसे बदल डाली तकदीर!

46

कहते हैं जज्बा, हौसला और अपने लक्ष्य के प्रति ईमानदारी हो तो कोई भी नौकरी या काम मुश्किल नहीं होता। अगर आप कड़ी मेहनत करते हैं, तो सफलता आपको एक दिन जरूर मिलती है। ऐसी ही एक कहानी है, गरीब परिवार में जन्मे जस्टिन फर्नांडीज की।


आई आई एम नागपुर के छात्र जस्टिन फर्नांडीज जिन्हें कैंपस प्लेसमेंट में 20 लाख रुपये सलाना पैकेज का ऑफर मिला है। 27 साल के जस्टिन केरल के कोल्लम के रहने वाले हैं। वह एक गरीब परिवार से हैं। उन्होंने बताया बचपन में उनके पास ज्यादा फैसेलिटिज नहीं थी। फिर भी वह हमेशा कुछ बड़ा करने का ख्वाब देखते थे। उन्होने अपने लक्ष्य को हासिल करने के लिए दिन-रात मेहनत की।

उनके पिता दर्जी का काम करते हैं। जस्टिन के मुताबिक उनके दादा भी दर्जी थे। तो ये उनका फैमिली बिजनेस है। उन्हों ने बताया परिवार की सालाना इनकम 50 हजार थी। जिसमें पूरा घर का खर्चा चलाना होता था। पिता की दुकान न चलने के कारण पब्लिक डिस्ट्रीब्यूशन कंट्रोल से मिलने वाले राशन से ही उनकी फैमिली का पालन-पोषण होता था। जस्टिन ने बताया मुश्किलों के इस दौर में उनकी आंटी ने काफी साथ दिया। आंटी ने ही  उन्हें औऱ उनकी बहन को 12th तक पढ़ाया था।

इसके बाद उनका त्रिवेंद्रम स्थित गवर्नमेंट कॉलेज ऑफ इंजिनियरिंग में एडमिशन हुआ।  उन्हें स्कॉलरशिप मिली, जिससे ही उनका खर्च निकलने लगा। आईआईएम नागपुर में दाखिला लेने से पहले उन्होंने दो साल तक एक सॉफ्टवेयर कंपनी में काम किया था। उनका मन आई आई एम कोझिकोड से एमबीए करने का था। लेकिन वह पहले अटेम्पट में दाखिला नहीं ले पाए।

दिन रात मेहनत करने के बाद उन्हें हैदराबाद की वैल्यू लैब द्वारा एसोसिएट डायरेक्टर पोस्ट के लिए20 लाख रुपए का सालाना पैकेज का ऑफर दिया गया।

दुनिया का सबसे लम्बे नाम वाला गांव

Comments