मोहम्मद अली के जीवन से जुड़े अनजाने तथ्य!

792

दुनिया के सबसे महानतम खिलाड़ियों में शुमार बॉक्सर मोहम्मद अली (जन्म का नाम कैसिअश क्ले) का निधन 3 जून 2016 को फीनिक्स, एरिज़ोना, अमेरिका के एक अस्पताल में हो गया. मोहम्मद अली 32 साल से सांस लेने में तकलीफ से जूझ रहे थे. उन्हें बीबीसी और स्पोर्ट्स इलेस्ट्रेडेट ने पिछली ‘सदी का सबसे महानतम खिलाड़ी’ चुना था.

जानिए, महानतम मुक्केबाज मोहम्मद अली के बारे में खास बातें जो आप जानना चाहते थे!

मोहम्मद अली सन 1964 में महज़ 22 वर्ष की उम्र में सोनी लिस्टन को हराकर पहली बार वर्ल्ड हैवीवेट चैंपियन बने. इससे पहले वह 1960 के रोम ओलिंपिक में गोल्ड मैडल जीत चुके थे. कुछ समय बाद रंगभेद से नाराज होकर उन्होंने इस्लाम धर्म को अपना लिया और मोहम्मद अली के नाम से मशहूर हुए. वह तीन बार वर्ल्ड हैवीवेट चैंपियन रहे.

आइए जानें महान बॉक्सर मोहम्मद अली से जुड़ी 10 अनजानी बातें.

1साइकिल चोरी की वजह से की मुक्केबाजी की शुरूआत

अली जब 12 साल के थे तो उनके पिता ने उन्हें लाल रंग की साइकिल लाकर दी जो कि साइकिल चोरी हो गयी. उन्होनें Louisville, Kentucky के पुलिस अधिकारी जो मार्टिन को चोरी की सूचना दी और चोर को पीटने की ठान ली. मार्टिन जो कि एक मुक्केबाजी प्रशिक्षक थे, ने युवा अली को कहा कि उसे पहले यह सीखना चाहिए कि लड़ा कैसे जाता है. बस यहीं से ट्रेनिंग कि शुरुआत हुई और छह हफ्ते बाद ही उन्होनें अपनी पहली ‘बाउट’ में जीत हासिल की.

Back

LEAVE A REPLY