कैसे थकावट महसूस होने पर भी अपने आप को जगाए रखें!!

अगर आप दोपहर में काम के समय थकावट महसूस कर रहे हैं और आपको बार-बार नींद आ रही है, आप जागते रहने के लिए संघर्ष कर रहे हैं. तो यह रहे कुछ गुण जो आपको काम के समय हमेशा तैयार रखेंगे और आपकी नींद को दूर करेंगे.

1अपनी इन्द्रियां को संतुलित करें

  • ऐसा आप कई तरीकों से कर सकते हैं जैसे की अपने कमरे में लाइट्स को हमेशा ओन रखो.
  • अपने मुहं में च्यूइंग गम को चबाओ.
  • पिपरमिंट के तेल को सूंघ कर अपनी इन्द्रियों को जगा कर रखें.
  • संगीत सुनें
  • अगर आपकी आँखों में थकान आ रही है तो कुछ समय के लिए अपना ध्यान दीवार की तरफ या खिड़की की तरफ लगायें.

2अपने शरीर को सतर्क रखें (Keeping your body alert)

  • ठंडे पानी से अपने चेहरे को धो लें. ऐसा करते समय आपकी आँखें खुली होनी चाहिए.
  • अपनी बांह की कलाई पर चिकोटी कांटें.
  • फर्श पर हल्के से अपने पैरों को थप-थ्पायें.
  • अपने कंधों को घुमाएँ
  • जब भी काम के समय आपको मौका मिले तो थोड़े समय के लिए घूमें.
  • अगर आप काम के समय घूम नहीं सकते तो नियमित व्यायाम करने की आदत डाल लें.

3जागते रहने के लिए भोजन करें (using food to stay awake)

  • अपने दिन की शुरुआत अच्छे नाश्ते से करें जैसे कि आप अपने नाश्ते में अंडे और ब्रेड खा सकते हैं.
  • ज्यादा भोजन ना करें. ऐसा करने से आपको ओर भी थकावट महसूस होगी.
  • अपने साथ काजू, बादाम जैसे खाद्य पदार्थ रखें और जब नींद आने लगे तो इनको खाकर आप द्वारा सक्रिय हो जायेंगे और आपको नींद नहीं आएगी.
  • ठंडा पानी पीने से भी आपको नींद नहीं आएगी.

4अपने दिमाग को सक्रिय रखें (Keep your mind awake)

  • अगर आपको क्लास में नींद आ रही है तो अपने दिमाग को सक्रिय रखने के लिए आप क्लास में जो भी हो रहा है उसके नोट्स बना सकते हैं. ऐसा करने से आपके दिमाग का फोकस नींद में ना जाकर क्लास में लगेगा.
  • अगर आप अपने काम में व्यस्त हो तो आप अपने काम से संबंधित बातें अपने साथ के कर्मचारियों से पूछ सकते हो.
  • अगर आप घर पर हैं और आपको दिन में नींद आ रही है तो आप इस नींद से बचने के लिए अपने दोस्त से फ़ोन पर बात कर सकते हैं या इ-मेल कर सकते हैं.

5अपनी जीवन शैली को बदलें (Changing lifestyle factors)

  • प्रतिदिन जल्दी सोने और जल्दी उठने की आदत बना लें.
  • एक जिम्मेदार व्यक्ति बनें.
  • अगर आपको नींद विकार (Sleep disorder) है तो आपको चिकित्सक से इलाज करवाना चाहिए.

Comments