पब्लिक फ्रिज जिसमें सिर्फ खाना ही नहीं बल्कि मिलते है जूते, किताबें और कपड़े!

ग्लोबल हंगर इंडेक्स के अनुसार भारत में 15.2% जनता को भरपेट खाना नहीं मिल पाता है. ऐसे में अगर अमीर लोगों के फ्रिज में पड़ा खाना जिसे वे अंततः कूड़े में फैंक देते हैं अगर एक पब्लिक फ्रिज में रख दिया जाए तो भूख की यह समस्या भारत से हमेशा के लिए मिट सकती है.

इस जीवनदायक आईडिया को साकार किया है आर्थोडेंटिस्ट डॉ. इसा फातिमा जैस्मीन ने. उन्होंने एक फ्रिज पब्लिक प्लेस में लगाया है जो हर समय खाने-पीने के सामान से भरा रहता है.

यह कोई आम फ्रिज नहीं है, यह ऐसी फ्रिज है जिससे कोई भी कुछ भी निकालकर खा सकता है। फ्रिज सुबह 7 बजे से रात के 9 बजे तक खुला रहता है। इस फ्रिज की सुरक्षा के लिए एक गार्ड भी है।

चेन्नई के इलियट बीच पर रखा फ्रिज हजारों लाखों लोगों का पेट भरता है। अब आप भी सोच रहे होंगे कि आखिर इस फ्रिज में खाना कौन रखता होगा तो आपको बता दें इसमें खाना रखने वाला कोई और नहीं बल्कि वहीं के लोग है। लोग ही फ्रिज में खाना रख जाते हैं, चाहे वो घर का बना हो या किसी रेस्‍टोरेंट से लाया गया हो।

कोई भी इंसान जो भूखा है वो फ्रिज खोल सकता है और इसमें रखी कोई भी चीज खा सकता है।

इस फ्रिज में सिर्फ खाना ही नहीं बल्कि किताबें, कपड़ें, खिलौने और जूते भी दान कर सकते हैं। फ्रिज से लगा एक शेल्‍फ भी है जिसमें इन सामानों को रखा जा सकता है और जिसे इसकी जरूरत हो वह इसे ले सकते हैं।

तो कैसा लगा आइडिया? क्यों न आप भी खाने और घरेलु सामान को कूड़ेदान में न फेंक कर किसी जरुरतमंद को दान करें. आखिर अपना ही देश तो है और इसके गरीबमुक्त समाज के निर्माण में क्यों न अपना योगदान दें?

Comments