ISRO की बड़ी कामयाबी, सबसे भारी रॉकेट GSLV Mark-3 किया लॉन्च!!!

138

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) अंतरिक्ष में सफलता की रोज नई गाथा लिख रहा है. इसरो ने इतिहास रचने में एक और कदम बढ़ाते हुए शुक्रवार यानी 5 जून, 2017 को श्रीहरिकोटा से संचार उपग्रह GSLV Mark-3 को लॉन्च किया. इसरो ने 450 करोड़ रुपये की लागत से इसे तैयार किया है. इसरो ने पौने तीन साल की कड़ी मेहनत के फलस्वरूप यह सफलता प्राप्त की.

मई 2014 में सत्ता में आने के बाद पीएम मोदी ने 30 अप्रैल को मन की बात कार्यक्रम में यह घोषणा की थी कि दक्षिण एशिया उपग्रह हमारे पड़ोसी देशों के लिए भारत की तरफ से ‘कीमती उपहार’ होगा. GSLV Mark-3 उपग्रह को इसरो के GSLV-F09 रॉकेट से प्रक्षेपण किया गया. GSAT-9 भारत के पड़ोसी देशों के बीच संचार में मददगार होगा. यह उपग्रह अंतरिक्ष आधारित टेक्नोलॉजी के बेहतर इस्तेमाल में मदद करेगा और सबसे खास बात यह थी कि इस उपग्रह का निर्माण पूरी तरह से भारत में ही हुआ था.

इसरो से संबंधित अधिक जानकारी या इससे जुड़े रोचक तथ्य जानने के लिए fundabook.com  पर प्रकाशित लेख पढ़ सकते हैं.

ऐसे ही महत्वपूर्ण कंटेंट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और ट्विटर पर फॉलो करें

Comments

LEAVE A REPLY