भारत के पहले मिस्टर यूनीवर्स मनोहर ऐच!

भारत के पहले मिस्टर यूनीवर्स मनोहर ऐच का निधन 5 जून 2016 को कोलकाता में हुआ. मनोहर ऐच 104 वर्ष के थे. मनोहर ऐच के दो बेटे तथा दो बेटियां हैं. उनकी पत्नी का पहले ही निधन हो चुका था. आइए जाने उनके जीवन से जुड़ीं कुछ रोचक बातें.
manohar-aich-fundabookमनोहर ऐच की लम्बाई कम होने ने कारण (4 फुट 11 इंच) उन्हें पॉकेट हरक्यूलिस कहा जाता था. वे 1942 में ब्रिटिश सेना में रॉयल एयर फोर्स में शामिल हुए थे. वहाँ एक ब्रिटिश अफसर को थप्पड़ मारने पर उन्हें जेल हो गई. वे जेल में ही कसरत किया करते थे. इस पर जेलर ने खुश होकर उनके खाने के लिए विशेष इंतजाम किए थे.

यह भी पढ़ें: जानिए, महानतम मुक्केबाज मोहम्मद अली के बारे में खास बातें जो आप जानना चाहते है!
bodybuilder-manohar-aichमनोहर ऐच ने उस समय में अपना कैरियर शुरू किया जब कोई जिम या फिटनेस केंद्र उपलब्ध नही होते थे. उन्होंने अपनी इच्छा शक्ति से प्रेरणा लेकर शरीर और वजन प्रशिक्षण शुरू किया जैसे कि पुलअप, उठक-बैठक, पैर उठाना इत्यादी.

यह भी पढ़ें: महेंद्र सिंह धोनी के बारे में दिलचस्प तथ्य:
fundabook-manohar-aichवर्ष 1950 में 36 साल की उम्र में उन्होंने मिस्टर हरक्युलस प्रतियोगिता जीती थी. उसके अगले ही साल मिस्टर यूनीवर्स प्रतियोगिता में दुसरे स्थान पर रहे. लेकिन 1952 में उन्होंने यह ख़िताब अपने नाम कर लिया. जिसके बाद उनका नाम बंगाल में मशहूर हो गया. वह स्वतंत्र भारत से पहले मिस्टर यूनीवर्स बने थे. मनोहर ऐच ने एशियाई खेलों में तीन स्वर्ण पदक भी जीते थे. वर्ष 2015 में पश्चिम बंगाल सरकार ने उन्हें बंगविभूषण अवॉर्ड से सम्मानित किया था.

Comments